Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। मंडी शुल्क के खिलाफ गुस्साए व्यापारियों ने दुकानों पर जड़े ताले, विरोध प्रदर्शन कर जताया आक्रोश

    •  व्यापारियों की अनदेखी पड़ेगी भारी, सरकार इस बार नहीं चलेगी तुम्हारी...... प्रदेश के खाद्यान्न मंडिया बंद, क्योंकि मंडी शुल्क वापस लो?
    • मंडी शुल्क बढ़ाए जाने के बाद व्यापारियों ने सरकार को दी चेतावनी
    • किसानों के कृषि कानून बिल की तरह वापस लेने पड़ेंगे व्यापारियों के मंडी शुल्क
    • दुकानों समेत बाजार बंद कर खाद्यान्न बाजार कर दिए जाएंगे बंद, फिर होगा अनिश्चितकालीन व्यापारियों का धरना
    • प्रदेश सरकार के पास राजस्व वसूलने के और भी तरीके हैं राजस्व के लिए अन्य विकल्प तलाशे सरकार

    अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के रेलवे रोड महावीर गंज मंडी समेत शहर के व्यापारियों ने सरकार द्वारा मंडी शुल्क बढ़ाए जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आक्रोश जताया है। गुस्साए व्यापारियों ने अलीगढ़ शहर की दुकानों पर ताले जड़ दिए गए। आक्रोशित दुकानदारों ने अपनी दुकानों पर ताला जड़ते हुए व्यापारी टाट पट्टी बिछाकर बीच सड़क पर बैठ गए। जहां मंडी शुल्क बढ़ाए जाने के बाद प्रदेश के खाद्यान्न मंडिया भी बंद पड़ी हुई है।मंडी शुल्क बढ़ाए जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे व्यापारियों का कहना है कि सरकार को इस बार व्यापारियों की अनदेखी भारी पड़ेगी। व्यापारियों के सामने इस बार सरकार की नहीं चलने वाली है। अगर सरकार ने बढ़े हुए मंडी शुल्क वापस नहीं लिए तो इस बार सरकार के नहीं बल्कि सरकार के सामने व्यापारियों की चलेगी। व्यापारियों का कहना है कि सरकार को किसी भी कीमत पर कृषि कानून बिल की तरह व्यापारियों के बढ़े हुए मंडी शुल्क वापस लेने ही पड़ेंगे।

    उद्योग व्यापार मंडल व्यापारी अलीगढ़

    प्रदेश सरकार के खिलाफ मंडी शुल्क बढ़ाए जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे अलीगढ़ के व्यापारियों का आरोप है कि जिस तरह से सरकार द्वारा किसानों के तीनों किसी कानून बिल को वापस लिया गया है।ठीक उसी तरह से व्यापारियों पर जबरन थोपे गए इस मंडी शुल्क को वापस लिया जाए। मंडी शुल्क जबरन थोपे जाने के बाद व्यापारियों  ने सरकार को चेतावनी दे डाली है। अगर कृषि कानून पर की तरह मंडी शुल्क वापस नहीं लिया गया। तो व्यापारियों द्वारा बाजारों की दुकानों समेत खाद्यान्न मंडियों को पूर्णता बंद कर दिया जाएगा। फिर व्यापारी भी सरकार के खिलाफ अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन करने को उतारू हो जाएंगे। जिसका खामियाजा एक बार फिर सरकार को भुगतना पड़ेगा।

    जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में उद्योग व्यापार मंडल के व्यापारियों पर मंडी शुल्क बढ़ाए जाने को लेकर परदेस सरकार के खिलाफ व्यापारियों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया। विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं उद्योग व्यापार मंडल के पदाधिकारी ने कहा कि सरकार द्वारा व्यापारियों को ऊपर मंडी शुल्क थोपा गया है। सरकार द्वारा थोपे गए मंडी शुल्क को लेकर प्रदेश के सभी खाद्यान्न मंडियों को बंद रखकर सरकार के खिलाफ व्यापारियों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया है। व्यापारियों का आरोप है कि 3 दिसंबर को उनके द्वारा मंडी सचिव को मंडी शुल्क बढ़ाएं जाने को लेकर ज्ञापन दिया गया था। जिसके बाद 5 दिसंबर को महावीर गंज मंडी के व्यापारियों द्वारा सरकार का पुतला दहन किया था। जिसके बाद आज अलीगढ़ की महावीर गंज मंडी समेत प्रदेश के सभी खाद्यान्न मंडी समिति गल्ला मंडी पर व्यापारी द्वारा ताला जड़ते हुए पूर्णता बंद कर दी गई है। व्यापारियों का आरोप है कि सरकार अपने राजस्व की बढ़ोतरी के लिए अन्य और भी विकल्प है सरकार राजस्व अन्य जगह से बढ़ा सकते हैं। जिस तरह से सरकार द्वारा किसानों के खुश करने के लिए तीन कृषि कानून बिल वापस लिए गए हैं। तो वही व्यापारियों के ऊपर मंडी शुल्क ठोक दिया गया यह पूरी तरह से निराधार है। जिसका व्यापारियों द्वारा विरोध किया जा रहा है। मंडी शुल्क बढ़ाए जाने को लेकर विरोध प्रदर्शन जता रहे व्यापारियों ने सरकार को चेतावनी देते हुए सख्त लहजे में कहा है अभी तो यह शांतिपूर्ण सांकेतिक विरोध प्रदर्शन है। अगर प्रदेश सरकार ने व्यापारियों के जबरदस्ती इस मंडी शुल्क को थोपा गया तो प्रदेशभर की मंडी और बाजारों को बंद करते हुए अनिश्चितकालीन विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।

    अजय कुमार

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.