Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया\बिहार।कई मामलों को लेकर जिला पदाधिकारी ने की समीक्षा बैठक, भूमि विवाद से संबंधित मामलों को अंचला अधिकारी और थाना अध्यक्ष करें त्वरित निष्पादन

    गया\बिहार। जिला पदाधिकारी,गया डॉo त्यागराजन एस०एम० के अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भूमि विवाद, शराबबंदी, खनन, विधि व्यवस्था संबंधी मामलों की समीक्षा की गई।

    बैठक में जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि अधिकतर विधि व्यवस्था संबंधी घटनाएं भूमि विवाद के कारण होती है। अतः अंचलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष के स्तर से भूमि विवाद से संबंधित मामलों का त्वरित निष्पादन किया जाए। उन्होंने अंचलाधिकारी को निदेश दिया कि दाखिल खारिज संबंधी मामलों का तेजी से निष्पादन कराया जाए। अंचलाधिकारी, डीoसीoएलoआरo तथा अपर समाहर्ता के कोर्ट में भूमि संबंधी मामलों का नियमित रूप से सुनवाई करते हुए मामलों का तेजी से निष्पादन कराया जाए।

    जिला पदाधिकारी ने निदेश दिया कि प्रत्येक माह में दो बार अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी स्तर से बैठक आयोजित किए जाये तथा प्रत्येक माह लगभग 10 मामले निष्पादित किए जाएं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भूमि विवाद संबंधी मामलों के निष्पादन हेतु काफी गंभीर है, नियमित रूप से इसकी समीक्षा की जा रही है।

    वरीय पुलिस अधीक्षक, आदित्य कुमार ने कहा कि प्रशासन का काम लोगों को दिखना चाहिए। भूमि विवाद के निराकरण से अपराध में कमी, विवाद में कमी होगी। अतः सभी अंचलाधिकारी, थानाध्यक्ष, अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को गंभीरता से इसे देखना होगा।

    बैठक में शराबबंदी पर भी समीक्षा की गई। जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को निदेश दिया कि महादलित टोला में विशेष नजर रखी जाए, जिससे कि शराब का निर्माण नहीं हो सके। जिले में जहरीली शराब के निर्माण पर विशेष सावधानी बरतनी होगी। अगर कहीं शराब बनती है तो उसे नष्ट किया जाए तथा संबंधित व्यक्ति पर कठोर कार्रवाई की जाए। उन्होंने बॉर्डर क्षेत्र/चेक पोस्ट पर भी पूरी तरह निगरानी रखने को कहा।

    वरीय पुलिस अधीक्षक ने कहा कि छोटे-छोटे जगहों पर भी नजर रखनी होगी तथा आसूचना संग्रह करनी होगी। शराब के विनष्टीकरण हेतु समय-समय पर थानाध्यक्ष प्रस्ताव भेजें। खनन मामलों की समीक्षा में बताया गया कि जिले में 95 घाट है, जिसमें से 70 का बंदोबस्त हो गया है। अवैध खनन पर कड़ी कार्रवाई हो, बालू संबंधी चालान पर समय अवश्य देख लें, साथ ही कंडी-नवादा, चाकन्द रूट/घाट पर विशेष ध्यान दें।

    बैठक में नगर पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक विधि-व्यवस्था, अपर समाहर्ता, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, भूमि सुधार उपसमाहर्ता, सभी अंचलाधिकारी, सभी थानाध्यक्ष, सहायक लोक अभियोजक/विशेष लोक अभियोजक, सहायक आयुक्त मद्य निषेध, खनन पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारी/पुलिस पदाधिकारी उपस्थित थे।


    प्रमोद कुमार यादव

    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.