Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। अधिकारियों ने दारुल उलूम देवबंद की मशहूर मस्जिद ए रशीद सहित लाइब्रेरी आदि का भी भ्रमण किया।

    ...... जिला अधिकारी अखिलेश सिंह ने कहा कि यह औपचारिक दौरा है, दारुल उलूम को देखने के लिए यहां पहुंचे हैं।

    देवबंद। अपर मुख्य सचिव व नोडल अधिकारी रजनीश दुबे और जिला अधिकारी सहित आला अधिकारियों ने विश्वविख्यात इस्लामिक शिक्षण संस्थान दारुल उलूम देवबंद पहुंचकर मोहतमिम मौलाना मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी सहित अन्य जिम्मेदारों से मुलाकात की और दारुल उलूम देवबंद की सेवाओं की सराहना की।

    शुक्रवार को दारुल उलूम देवबंद पहुंचे अपर मुख्य सचिव रजनीश दुबे और जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने दारुल उलूम देवबंद के मोहतमिम मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी व अन्य जिम्मेदारों से मुलाकात करने के साथ संस्था का भ्रमण किया और यहां के ऐतिहासिक पुस्तकालय में मौजूद कीमती व नायाब पुस्तके देखकर प्रशंसा की।इस अवसर पर मोहतमिम मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी ने अधिकारियों के सामने दारुल उलूम देवबंद के इतिहास पर प्रकाश डाला और बताया कि 1866 में इस संस्था की स्थापना की गई थी जिसने देश की आजादी में मुख्य भूमिका निभाई है और आजादी के बाद से देश के विकास में यह संस्था अहम रोल अदा कर रही है। 

    इस दौरान मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी ने अधिकारियों को दारुल उलूम के इतिहास से संबंधित पुस्तकें भी भेंट की।अपर मुख्य सचिव रजनीश कुमार दुबे ने बताया कि यह औपचारिक दौरा है, दारुल उलूम देवबंद के बारे में बहुत सुना और पढ़ा था यहां आने की तमन्ना काफी दिनों से थी,आज यहां पहुंच कर बहुत अच्छा लगा, संस्था के जिम्मेदारों से मुलाकात की, साथ ही साथ संस्था के ऐतिहासिक पुस्तकालय को देखकर बेहद खुशी हुई, जहां नायाब और ऐतिहासिक पुस्तके मौजूद हैं। अधिकारियों ने दारुल उलूम देवबंद की मशहूर मस्जिद ए रशीद सहित लाइब्रेरी आदि का भी भ्रमण किया।जिला अधिकारी अखिलेश सिंह ने कहा कि यह औपचारिक दौरा है, दारुल उलूम को देखने के लिए यहां पहुंचे हैं। उन्होंने कोविड गाइडलाइन का पालन करने की अपील करते हुए मास्क आदि का प्रयोग करने और डबल वैक्सीनेशन कराने पर जोर दिया। 

    उन्होंने कहा कि हम सभी को मिलकर कोरोना का मुकाबला करना है, सभी के सहयोग की जरूरत है और वैक्सीनेशन व गाइडलाइन का पालन अनिवार्य है।इस अवसर पर नगर आयुक्त ज्ञानेंद्र सिंह, सीडीओ विजय कुमार, एसडीएम दीपक कुमार, दारुल उलूम देवबंद के नायब मोहतमिम मौलाना अब्दुल खालिक मद्रासी, नायब मोहतमिम मुफ्ती राशिद आजमी, मौलाना मुनीर उद्दीन कासमी, अशरफ उस्मानी, जामा मस्जिद सहारनपुर के प्रबंधक मौलाना फरीद मजाहिरी, मौलाना हुसैन मदनी, पंडित सत्येंद्र शर्मा, मौलाना मुर्तजा, मौलाना असजद और मौलाना अब्दुल मलिक आदि सहित संस्था के जिम्मेदार और अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

     शिबली इकबाल

    Initiate News Agency (INA), देवबंद

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.