Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। शादी से पहले दूल्हे ने किया ऐसा काम, दूल्हा पहुंचा बाइक चोरी में जेल, दुल्हन ने दूल्हे संग शादी से किया इनकार

    अलीगढ़। यूपी के अलीगढ़ जिले में शादी से पहले दूल्हे का एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां दूल्हे ने अपनी शादी से पहले ही एक ऐसा कारनामा किया है। जिससे कि उसे शादी में घोड़ी पर सवार होने की जगह पर उसको जेल जाना पड़ा है। पुलिस ने बाइक चोरी करने के इल्जाम में दूल्हे को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।शादी से पहले बाइक चोरी के इल्जाम में दूल्हे के जेल पहुंचने की जानकारी मिलने पर दुल्हन पक्ष ने चोर दूल्हे के साथ शादी से इंकार कर दिया ओर उसी तारीख में अपनी लड़की की शादी भी दुल्हन पक्ष के लोगों ने दूसरे लड़के के साथ दूसरी जगह तय कर दी। लेकिन दहेज को लेकर शादी से पहले बखेड़ा खड़ा हो गया। क्योंकि दुल्हन की शादी दूसरी जगह तय होने के बाद बाइक चोर दूल्हे के परिजनों ने शादी से पहले दिए गए दहेज का सामान देने से मना कर दिया है।

    उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में शादी से पहले बाइक चोर दूल्हे के सच्चाई पता चलने लड़की पक्ष ने रिश्ता तोड़ दिया और लड़की की दूसरी जगह शादी की तय होने के बाद दुल्हन पक्ष की तरफ से दहेज के सामान को लेकर एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जहां थाना जवा क्षेत्र के गांव सुमेरा निवासी राजेश ने अपनी बेटी रेखा की शादी बन्ना देवी क्षेत्र के सराय हकीम मोहल्ला गुललियाई निवासी युवक लक्की कश्यप पुत्र हेमंत कश्यप के साथ तय हुई थी। लेकिन दूल्हा लक्की अपनी शादी की खुशियां मना पाता उससे पहले ही बाइक चोरी के इल्जाम में गिरफ्तार होकर दूल्हा जेल पहुंच गया। बाइक चोरी के इल्जाम में दूल्हे के जेल पहुंचने पर दुल्हन ने चोर दूल्हे के साथ शादी से इंकार कर दिया।इस पर दुल्हन पक्ष के लोगों ने उसी तारीख को दूसरे लड़के के साथ लड़की का रिश्ता तय कर दिया।लेकिन लड़की पक्ष का आरोप है कि चोर दूल्हे को शादी से पहले दहेज का सभी सामान दिया था। लेकिन शादी टूटने के चलते दूल्हे पक्ष के लोग अब दहेज का सामान वापस नहीं कर रहे। जिसको लेकर लड़की पक्ष के लोगों द्वारा बाइक चोर लड़के पक्ष के लोगों से दहेज का सामान वापस दिलाने को लेकर 4 जनवरी से थाने पर चक्कर काटे जा रहे हैं। लेकिन पुलिस बाइक चोर लड़के पक्ष के लोगों से लड़की पक्ष का सामान वापस नहीं दिलाया जा रहा है। जिसके चलते लड़की पक्ष के लोगों ने दहेज का सामान वापस न देने पर लड़के पक्ष के खिलाफ लिखित में तहरीर देते हुए पुलिस से थाने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की गई हैं। पुलिस पीड़ित परिजनों की तहरीर पर जांच कर तफ्तीश में जुट गई है।

    कश्मीरी देवी लड़की दादी

    जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के थाना जवा इलाके के गांव सुमेरा निवासी कश्मीरी देवी ने जानकारी देते हुए कहा कि उसके बेटे राजेश कुमार ने अपनी बेटी रेखा की शादी थाना बन्नादेवी क्षेत्र के सराय हकीम मोहल्ला युवक लक्की पुत्र हेमंत कश्यप के साथ तय की थी। कश्मीरी देवी का आरोप है कि शादी तय करते हुए लड़के के परिजनों द्वारा बताया गया था कि लड़का कपड़े की दुकान पर काम करता है। जिस पर लड़के और लड़की ने एक दूसरे को पसंद कर लिया और दोनों तरफ से दहेज का सामान तय कर लिया। आरोप है कि लड़के की माँ ने उनसे कहा कि लड़के की उन्हें सगाई नही करानी हैं। जिसके बाद शादी से 15 दिन पहले दहेज का पूरा सामान भेजने को कहा, जिस पर उन्होंने दहेज का पूरा सामान भेज दिया। लेकिन शादी से पहले उन्हें समाचार पत्रों के माध्यम से सूचना मिली कि जिस लड़के के साथ उन्होंने अपनी लड़की की शादी तय की थी। उस लड़के को थाना सासनी गेट पुलिस ने बाइक चोरी के इल्जाम में 3 जनवरी को गिरफ्तार करते हुए जेल भेज दिया है। लड़के द्वारा बाइक चोरी करने और जेल जाने की जानकारी मिलने पर उन्होंने ऐसे घर में रिश्ता खत्म करते हुए लड़की की शादी तोड़ दी ओर दूसरी जगह उसी 15 जनवरी को शादी तय कर दी गई। आरोप है कि शादी तोड़ने के बाद जब शादी से पहले दहेज में दिए सामान को लेने के लिए वापस लड़के वालों के घर पहुंचे। रिश्ता खत्म ओर शादी तोड़ने के चलते लड़के पक्ष के लोगों ने उनका दहेज का सामान देने से मना कर दिया। सामान देने से मना करने के बाद कश्मीरी देवी ने कहा कि वह बहुत ही गरीब तबके के लोग हैं ओर दो-दो जगह दहेज कहा से देंगे। अब रिश्ता टूटने पर लड़के वाले दहेज का सामान वापस नही दे रहे है, बोल रहे है यहा उनके द्वारा दिया गया दहेज का कोई सामान नही है। दहेज का सामान वापस देने से मना करने पर इसकी शिकायत पुलिस में की गई। आरोप है चौकी गए तो उन्होंने थाने भेज दिया और थाने वाले उनको चौकी भेजते रहे। पुलिस भी इस मामले को गंभीरता से नही ले रही हैं।जबकि परिवार के लोग 4 जनवरी से इधर-उधर भागे फिर रहे है।हालांकि 15 जनवरी की लड़की की शादी है।कहा हमें उस लड़के के परिवार से किसी से कोई मतलब नही उनका जो दहेज का सामान है।उनको दे दिया जाये।जिससे कि उस दहेज के सामान को देकर अपनी पोती की शादी दूसरी जगह कर सके।

    अजय कुमार

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.