Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: कोरोना से बचाव ही बडा उपाय: डा० आरिफ

    देवबंद: देश में कोरोना तथा ओमीक्रोन दोनों का प्रकोप बढता जा रहा है  सरकार की सख्ती के बाद भी आम जनता बचाव के प्रयासों के प्रति लापरवाह बनी है। सरकार अपने माध्यम से जनता को कोरोना और ओमीक्रोन के खतरों से तथा बचाव के उपायों से लगातार अवगत करा रही है मगर फिर भी लोग है कि मानते ही नही है। कुछ सरकारों ने वीकेंड कर्फयू लागू किया है तथा कुछ पाबंदिया बढाई है मगर जनता पर इसका कोई असर नही है।

    देश के विभिन्न भागों से मिलते कोरोना के आंकडे वास्तव में चैकाने वाले है । जिसमें महाराष्ट्र व दिल्ली काफी तेजी से इस बीमारी की गिरफ्त में आती जा रही है। सरकार ने पूरे देश मे रात्रि कर्फयू की घोषणा की है मगर जनता के द्वारा सरकार के आदेशों की कोई परवाह नही की जा रही है अभी यह बीमारी अपने तीसरे दौर में है तथा पूर्व की भांति घातक नजर नही आरही है। 

    यदि लोगों की लापरवाही इसी प्रकार जारी रही तो इसको रौद्र रूप लेने से रोकना सम्भव नहीं है। चिकित्सक डा० आरिफ खान कहते है कि बीमारी कोई भी घातक जब तक नहीं होती है, जब तक असको लेकर लापरवाही नहीं बरती जाये। देखने में आरहा है कि आम आदमी बार बार समझाने के बाद भी कोरोना व ओमीक्रोन से बचाव के उपायों के प्रति जिम्मेदार नहीं बन पा रहे है। 

    डाक्टर आरिफ खान कहते है कि सभी को सफाई की ओर विशेष ध्यान देने के साथ साथ मास्क का उपयोग, कुछ कुछ समय के बाद हाथ धोना तथा दो मीटर की दूरी बनाकर रखना आवश्यक है। डाक्टर आरिफ का कहना है कि देश के जो हालात वर्तमान में बनते जा रहे है, ऐसे में अपनी सुरक्षा के प्रति लापरवाही घातक भी सिद्ध हो सकती है। यदि किसी व्यक्ति को जरा भी नजला जुकाम और खासी जैसे लक्षण हो तो तुरन्त अपने चिकित्सक को दिखाकर विचार विमर्श करे तथा बचाव करें।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.