Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया\बिहार: मगध प्रमंडल आयुक्त ने कई जन समस्याओं को लेकर की महत्वपूर्ण बैठक

    गया\बिहार: आयुक्त मगध प्रमंडल, गया मयंक वरवड़े की अध्यक्षता में अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, गया में विभिन्न कार्यों हेतु आयोजित रोगी कल्याण समिति की बैठक में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

    अधिकारियों के साथ बैठक करते मगध प्रमंडल के आयुक्त मयंक बरवडे

    बैठक में ममता कार्यकर्ताओं के चयन प्रक्रिया पर अग्रेत्तर कार्रवाई/चयन सूची का अनुमोदन रोगी कल्याण समिति द्वारा किया गया। मरीजों के लिए अस्पताल में नहीं उपलब्ध रहने वाले आवश्यक जांच बाह्य स्रोत से करवाए जाने में रोगी कल्याण समिति निधि से व्यय की स्वीकृति का अनुमोदन किया गया।

    बैठक में बताया गया कि अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में 6 स्वास्थ्य प्रबंधक वर्तमान में कार्यरत है, 4 अतिरिक्त स्वास्थ्य प्रबंधक का चयन करने, लेखापाल की नियुक्ति करने हेतु विज्ञापन के माध्यम से इन नियुक्तियों पर चयन करने का निर्णय लिया गया। निर्धन मरीजों को हड्डी रोग के इलाज में कई आवश्यक इम्प्लांट जैसे हिप ज्वाइंट, नी ज्वाइंट रिप्लेसमेंट पर व्यय करने हेतु बी०एम०एस०आई०सी०एल० से विचार-विमर्श/पत्र लिखने का निदेश अधीक्षक, अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल को रोगी कल्याण समिति द्वारा दिया गया।

    अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर में कार्यरत यूको बैंक को अस्पताल की 500 से 600 वर्ग फुट परती भूमि जिस पर वे अपने खर्च से भवन बनाकर बैंक संचालित करेंगे, पर विचार विमर्श किया गया। इस कार्य हेतु मंगलवार को बैठक रखी गई, जिसमें अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर में डीलक्स टॉयलेट का निर्माण पर भी विचार विमर्श किया जाएगा। 

    यह डीलक्स टॉयलेट 85 लाख का प्रोजेक्ट है, जिस पर नगर निगम के नगर आयुक्त से विचार-विमर्श के बाद निर्णय लिया जाएगा। रोगी कल्याण समिति की बैठक में वाह्य स्रोत से धुलाई कराने की अनुमति को अनुमोदित किया गया। प्रधानमंत्री जन औषधि की दुकान में सभी दवाएं उपलब्ध नहीं होने के कारण एक अलग से जेनेरिक दवाओं की दुकान स्थापित करने पर विचार विमर्श किया गया। बैठक में निदेश दिया गया कि सरकार के प्रावधान को अच्छी तरह समझ लेने के पश्चात इस पर निर्णय लिया जाएगा।

    बैठक में अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर में वाई-फाई की सुविधा बहाल करने पर निर्णय लिया गया। मेडिकल कॉलेज में यह सुविधा पहले से ही कार्यरत है। रोगी कल्याण समिति की बैठक में एम०सी०एच० भवन में जाने हेतु अलग गेट बनाने, डाटा इंट्री ऑपरेटर की नियुक्ति करने पर विचार विचार विमर्श किया गया। बेसहारा रोगी के लिए आवश्यक दवाओं पर कैश इन हैंड की व्यवस्था हेतु अधीक्षक ए०एन०एम०सी०एच०-सह-सदस्य सचिव ए०एन०एम०सी०एच० को अधिकृत किया गया।

    रोगी कल्याण समिति की बैठक में जिला पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एस०एम० की महत्वपूर्ण उपस्थिति रही। अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में पार्किंग की व्यवस्था, कैंटीन की व्यवस्था हेतु जिलाधिकारी द्वारा विशेष पहल की गई। उन्होंने कहा कि अगर अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल परिसर में जगह मिल जाए, तो जीविका द्वारा कैंटीन की व्यवस्था की जा सकती है। साथ ही जिला पदाधिकारी द्वारा ए०एन०एम०सी०एच को जलजमाव मुक्त करने हेतु बी०एम०एस०आई०सी०एल० से बात करके प्राकलन तैयार करने का निदेश दिया गया।

    रोगी कल्याण समिति की बैठक में मुख्य रूप से पूजा सिंह, विशेष आमंत्रित सदस्य संजू देवी, नामित सदस्य मणिलाल बारीक, सदस्य विभागाध्यक्ष औषधि विभाग अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, विभागाध्यक्ष प्रसूति विभाग अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल, प्रमंडलीय जनसंपर्क पदाधिकारी, सचिव आई०एम०ए०, कार्यपालक अभियंता, भवन प्रमंडल सहित अन्य सदस्य/पदाधिकारी उपस्थित थे।


    प्रमोद कुमार यादव

    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.