Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवबंद में किया एटीएस कमांडो सेंटर का शिलान्यास

    --रैली में उमडा कार्यकर्ताओं पुरूष व महिलाओं की हुजूम

    --सपा पर साधे जमकर निशाने अन्य दलो को बख्शा

    --22 मिनट के सम्बोधन में टटोली मतदाताओं की नब्ज

    --पिछली सरकारों ने कराये दंगे हमने अपराध को पहुंचाया जीरो टालरेंस पर


    देवबंद: आज मंगलवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एटीएस कमांडो सेंटर का शिलान्यास किया और अलग-अलग नगरों में स्थित फायरबिग्रेंड के दो दर्जन स्टेशनो को लोकापर्ण भी किया। प्रदेश के मुखिया ने अपने 22 मिनट के सम्बोधन में समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा और अपनी सरकार की उपलब्धिया भी गिनाई। 

    मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने छोटे से सम्बोधन में कई विधानसभा व शहरो से आये मतदाताओं को लुभाने का पूरा प्रयास किया और अपने प्रयास में वह किसी हद तक वह सफल भी रहे। मंगलवार को हाईवे स्थित सभा स्थल पर आयोजित रैली को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में राममंदिर के निर्माण के बाद अब सपा के बबुआ बोल रहे है कि उनकी सरकार होती तो वह भी अयोध्या में राममंदिर का निमार्ण करा देते। 

    योगी ने चुटकी लेते हुए कहा कि ऐसे लोगों को तो भगवान भी कोस रहेेगें होगें कि जब सत्ता मिली तो प्रदेश में दंगें करवाये और रामभक्तों पर गोली चलवाने का काम किया और अब मंदिर निर्माण की बात कर रहे है। उन्होने कहा कि अब जिसे देखों राममंदिर और मथूरा की बात कर रहा है। अरे अब तो माफी मांग लो यह प्रदेश की जनता है सब देख रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार बनने से पहले अपराध और अपराधियों को जीरो टालरेंस पर ले जाएगें और वो हमने करके दिखा दिया। 

    आज प्रदेश में किसी की हिम्मत नही कि कोई दंगा करने या कराने के बारे में सोच भी सके। क्योंकि दंगाइयों को पता है कि अगर दंगा किया तो उनकी सात पीढ़िया उसकी भरपाई करते-करते थक जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सार्वजनिक सम्पत्ति पर कब्जा करने की जुर्रत अब कोई नही कर सकता अवैध कब्जे, और अवैध कार्य करने वालो पर सरकार का बुलडोजर चलता है। उन्होने कहा कि पिछली सरकार ने अपराधियों को पनाह दी और आज जो लोग पलायन कराने का काम करते थे वह सब्जी के ठेले लगा रहे है। 

    उन्होने कहा कि पहले की सरकारें एटीएस व अपराध को लेकर चर्चा ही नही करती थी और अपराधियों को पनाह देने में लगी रहती थी और हमारी सरकार का उददेश्य सुरक्षा को मजबूत करना है और किसी भी हालत में सुरक्षा के साथ खिलवाडा बर्दाश्त नही किया जायेगा। उन्होने सपा के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह पर भी निशाना साधते हुए कहा कि बेटियों के साथ बलात्कार और छेडछाड की घटनाओं को लेकर कहा जाता था कि गलती हो जाती है। 

    उन्होने कहा कि उनकी सरकार से गलती नही होती बल्कि ऐसे अराजक तत्वों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाती है। उन्होने कहा कि डबल इंजन की सरकार का डोज भी डबल ही होता है और विकास उत्तर प्रदेश में हो रहा है यह उसका प्रमाण है। कहा कि पहले जो पैसा माफियाओं की तिजोरी में जाता था जनता का धन लूटकर जिन्होने दीवारों में पैसे छिपाये हमने वो सब निकलवा दिए। 

    कहावत है कि चोर की दाढ़ी में तिनका, अब जब लूट का पैसा निकाला जा रहा है तो बबुआ बोल रहे हैं कि पैसा क्यों निकाला जा रहा है और अब पैसा माफियाओं की जेब में नही गरीबो के विकास पर खर्च हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछली सरकार की पीडा किसी के प्रति नही थी उनकी पीडा केवल माफियाओं के लिए थी कावंड यात्रा हो या राममंदिर का निमार्ण या फिर बेटियों की सुरक्षा जो कहा वो करके दिखाया और सबका साथ सबका विकास के साथ हर वर्ग के लिए काम किया। 

    मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होने कहा कि पहले की सरकार आतंकियों के मुकदमें वापस लेती थी हमारी सरकार आतंकियों को ठोकने के लिए एटीएस का सेंटर बना रही है। उन्होने कहा कि पिछली सरकार बाबा साहेब का अपमान करने का काम कर रही थी। हमारी सरकार ने बाबा साहेब को सम्मान दिया, मोदी जी ने बाबा साहेब के पांच स्थलों को पंच तीर्थ के रूप में विकसित करने का काम किया।

    अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने एक बार भी नही बोला देवबंद को आतंकवाद का केन्द्र

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को देवबंद में कमांडो ट्रेेनिंग सैन्टर का उदघाटन करने आये थे। लेकिन उन्होने अपने 22 मिनट के सम्बोधन में एक बार भी देवबंद को आतंकवाद का अडडा नही बताया। जबकि उनसे पहले जितने भी वक्ता मंच से बोले वो यही राग अलापते रहे कि इस सेंटर के बनने से आतंकवाद की जडो में मटठा डालने का काम होगा। मुख्यमंत्री ने सुरक्षा की बात की ओर यह भी कहा कि इस सेंटर से पुरे पश्चिम उत्तर प्रदेश की सुरक्षा व्यवसथा मजबूत होगी लेकिन उन्होने एक भी बार अपने सम्बोधन में देवबंद को आतंकवाद का केन्द्र नही बताया.

    इन नेताओं ने भी रैली को किया सम्बोधित

    रैली में आयुष मंत्री डा0 धर्मसिंह सैनी, पिछडा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष जसंवत सैनी, विधायक कीरत सिंह, देवेन्द्र निम, कुवंर ब्रिजेश सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष मांगेराम, महापौर संजीव वालिया, कोओपरेटिव बैंक के अध्यक्ष चैधरी राजपाल सिंह, पूर्व सांसद राघव लखन पाल शर्मा, पूर्व विधायक राजीव गुम्बर, पूर्व विधायक महावीर राणा, जिलाध्यक्ष डा0 महेन्द्र सैनी, लाजकृष्ण गांधी, जगपाल सिंह, अमित अग्रवाल, प्रदीप चैधरी, बिजेन्द्र मोगा आदि ने अपने अपने विचार वयक्त किए।

    डेढ घंटा देरी से पहुंचे रैली स्थल पर मुख्यमंत्री

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन का समय दोपहर डेढ बजे निधार्रित था लेकिन वह रैली स्थल पर लगभग 3 बजे पहुंचे जबकि उनका हैलिकाप्टर 2ः55 मिनट पर रैली स्थल के निकट उतरा 3 बजकर 15 मिनट पर मुख्यमंत्री का सम्बोधन शूरू हुआ और 3 बजकर 37 मिनट पर भाषण समाप्त हुआ। भाषण समाप्त होते ही मुख्यमत्री का काफिला हैलिपैड की और रवाना हो गया और लगभग 3 बजकर 50 मिनट पर मुख्यमंत्री के हैलिकाप्टर ने देवबंद से उडान भरी।

    रैली समाप्त होते ही लोगों में मची बैनर और होर्डिंग लूटने की होड  

    मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली समाप्त होते ही जहंा पंडाल में बज रहे म्युजिक पर कार्यकर्ताओं ने नाचना शूरू कर दिया वही कुछ लोगों में बैनर और होर्डिंग लूटने की होड मच गई। रैली स्थल से लौटते समय बहुत से लोगों को हाथो में बैनर और होर्डिंग थे।

    वीआईपी गैलरी में प्रवेश को लेकर पुलिस से उलझते नजर आये भाजपा नेता

    वीआईपी गैलरी में प्रवेश को लेकर बहुत से भाजपा नेता पुलिस से उलझते नजर आये। हालांकि प्रशासन द्वारा वीआईपी पास वितरित किए गये थे लेकिन उसके बाद भी कुछ नेता बिना पास के ही वीआईपी नेता पुलिस से उलझते नजर आये लेकिन पुलिस व्यवस्था चाक चैबंद होने के कारण ऐसे नेताओं के मसंूबे सफल नही हो पाये।

    भाजपा कार्यकर्ता जनसभा के दौरान सैल्फी लेते नजर आये

    रैली के दौरान भाजपा के युवा कार्यकर्ता मंच के सामने व एक दुसरे के साथ जीत का निशान बनाकर सैल्फी लेते नजर आये। वही अगर रैली में भीड की बात करे तो भले ही ये बहुत अधिक सफल रैली न हो बल्कि आयोजक इतनी भीड जुटाने में तो सफल हो ही गये जिससे उनका मान सम्मान बच गया। हालांकि रैली में महिलाओं स्कूली छात्र-छात्राओं की संख्या भी बहुत अधिक थी तीन विद्यार्थियों को मोबाईल और तीन को टेबलेट मुख्यमंत्री ने मंच पर बुलाकर अपने हाथो से प्रदान किए जबकि अन्य छात्र-छात्राओं को मोबाईल और टेबलेट आयुष मंत्री धर्मसिंह सैनी द्वारा प्रदान किये गये।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.