Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    प्रयागराज। बीबी फातिमा ज़हरा की शहादत का जिक्र सुनकर मजलिस में मौजूद लोगों की आंखें हुई नम

    प्रयागराज। बीबी फातिमा ज़हरा दुनिया की तमाम ख्वातीन के लिए एक रोशनी के मीनार की हैसियत रखती हैं यह बयान मशहूर आलिमेदीन मौलाना मेहंदी अब्बास ने प्रयागराज शहर के दांदूपुर गांव में स्थित जामा मस्जिद में हुई मजलिस को खिताब करते हुए दिया।

    इस्लाम धर्म के संस्थापक मोहम्मद साहब की इकलौती बेटी हज़रत फातिमा ज़हरा की शहादत पर मोमिनीने दांदूपुर की तरफ से शुक्रवार को अय्यामे अजाए फातमियॉ मजलिस हुई जिसको संबोधित करते हुए मौलाना मेहंदी अब्बास ने कहा कि फातिमा ज़हरा ने बेटी की हैसियत से अपने बाप हजरत मोहम्मद साहब और अपने शौहर हज़रत अली की मिसाली खिदमत की और अपनी आगोश से ऐसे मिसाली बच्चे हसन और हुसैन को परवान चढ़ाया। 

    फातिमा जहरा की जिंदगी ऐसा सबक है कि जो भी औरतें इनके बताए हिदायत के रास्ते पर चलेंगी वह कभी गुमराह नहीं होंगी वही मौलाना ने फातिमा जहरा के किरदार को अपनाकर अपनी जिंदगी गुजारने के लिए ताकीद किया। आखिर में उन्होने फातिमा ज़हरा की शहादत के मसाएब बयान किए जिससे चारों तरफ फिजा में सिर्फ रोने की आवाजें ही बुलंद थी। मजलिस में शेर अली, ज़ाकिर हुसैन, एखलाक हैदर, मौलाना तुफैल आदि उपस्थित रहे।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.