Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    नैमिषारण्य/सीतापुर। विधानसभा चुनाव को लेकर साधु संतो ने धर्मिक नगरी मे भरी हुंकार

    नैमिषारण्य/सीतापुर। नैमिषारण्य हुए संत सम्मेलन में संतो ने एक बार फिर से योगी आदित्यनाथ को यूपी का मुख्यमंत्री बनाने की अपील संत सम्मेलन का आरम्भ तीर्थ नैमिषारण्य से इसी लिये किया जा रहा है क्योंकि ये वही धरती जहां बैठकर हजारों संत निर्णय लेते थे और पूरा विश्व उसे मानता था, ये बातें तीर्थ स्थित पंचायती धर्मशाला में विश्व हिन्दू परिषद द्वारा आयोजित एक दिवसीय प्रांतीय धर्माचार्य सम्मेलन में अपने विचार प्रकट करते हुये कार्यक्रम के मुख्य वक्ता वाराणसी से आये स्वामी जितेन्द्रानन्द सरस्वती ने कहीं। 

    स्वामी जितेन्द्रानन्द ने कहा कि आप लोग को बताना चाहता हूँ कि लोक कल्याण के निर्णय नैमिषारण्य से ही लिये जाते थे, हम यहां मौजूद सभी संतों से अपील करने आये हैं कि आने वाले दो महीनों तक घर घर जाकर अलख जगाओ हजारों वर्षों की तपस्या के बाद एक योगी प्रदेश का मुखिया बना है गद्दी बैठे संत को मुख्यमंत्री बनाये रखना हमारी जिम्मेदारी है, लोकतंत्र के महापर्व में हमारा प्रयास एक छोटी सी आहुति है।

    प्रांत संगठन मंत्री राजेश सिंह ने कहा कि हिन्दू समाज इस देश का सच्चा मालिक है दास या सेवक नहीं मैं यहां संतों से हिन्दू समाज को जागृत करने की अपील करने आया हूँ। बनगढ़ महन्त संतोषदास खाकी ने कहा आज जो भव्य राम मंदिर में रामलला विराजमान होने जा रहे हैं वो हम संतो की तपस्या का ही परिणाम है। हरियाणा से आए संत स्वामी धर्मदेव, जगदाचार्य स्वामी देवेंद्रानंद,स्वामी विद्यानंद ने भी सभा को संबोधित किया। 

    इस दौरान कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष विपुल सिंह, चौरासी कोसीय परिक्रमा अध्यक्ष महंत भरत दास, बनगढ़ महंत संतोष दास खाकी, रामानुजकुमारी माता जी, खैराबाद के स्वामी बजरंग मुनि, स्वामी पगलानंद, स्वामी विद्यानंद, महंत मनमोहन दास,महंत विष्णुदेवाचार्य, विहिप जिला मंत्री महेश तिवारी, रोमा भार्गव, सरला देवी,अभय शुक्ला आदि मौजूद रहे ।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.