Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या। अयोध्या में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने 84 कोसी परिक्रमा मार्ग, 5 परियोजनाओं व रिंग रोड का किया शिलान्यास

    --रिंग रोड में चार रेलवे ओवरब्रिज व नदी पर दो पुल बनेंगे

    --पांच जिलों से सीधे लोग जुड़ेंगे


    अयोध्या। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की धर्म नगरी अयोध्या में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने 84 कोसी परिक्रमा मार्ग, 5 परियोजनाओं व 67 किलोमीटर रिंग रोड का किया शिलान्यास। 8700 करोड़ की योजना का किया शिलान्यास। 

    अयोध्या से अकबरपुर,अयोध्या से सुल्तानपुर फोर लेन सड़क को दी मंजूरी। सहादतगंज, अयोध्या धाम, सरयू पुल 19 किलोमीटर के हाईवे पर लाइटिंग फुटपाथ साइकिल पथ व ड्रेनेज बनाने की स्वीकृति। नितिन गडग़री ने कहा ये भगवान राम की नगरी है, इसको सुंदर से सुंदर बनाने के लिए सब कुछ करेंगे। सांसद लल्लू सिंह ने जो मांगा सो दिया और भी जो मांगेंगे देंगे।

    उन्होंने कहा कि डबल इंजन को लाइए अमेरिका बना दूंगा।अयोध्या में गडकरी बोले- 3 लाख करोड़ का काम किया, लक्ष्य पांच लाख करोड़ का। अयोध्या को विश्व स्तर की कनेक्टिविटी देने के लिए दो बड़ी सौगातें मिलीं। रामनगरी पहुंचे केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी  3 हजार 500 करोड़ के 84 कोसी परिक्रमा मार्ग और 2588 करोड़ के रिंग रोड का भूमि पूजन किया। 

    जनसभा को संबोधित करते हुए गडकरी बोले कि दिल्ली से देहरादून, गोरखपुर से सिलीगुड़ी के लिए सड़क बना रहे हैं। प्रदेश में तीन लाख करोड़ का काम किया है। आप डबल इंजन की सरकार ले आइए पांच लाखनं करोड़ का काम करुंगा।

    अयोध्या बाईपास को बेहतर करूंगा। परिक्रमा मार्ग 2023 तक बनकर तैयार हो जाएगा।  पैदल पथ 5 मीटर की होगी जिस पर घास होगी। सरयू के दोनों छोर को मिलाने के लिए हाइड्रोलिक बनेगा। 5600 करोड़ रिंग रोड के लिए खर्च होगा। 

    गडकरी रामलला और हनुमानगढ़ी दर्शन किए। उनके साथ प्रदेश के डिप्टी CM केशव प्रसाद मौर्य भी मौजूद रहे।चौरासी कोसी परिक्रमा मार्ग 5 जिलों में 275.35 किलोमीटर का होगा, इसमें अयोध्या, बस्ती, बाराबंकी, अंबेडकर नगर समेत गोंडा जिला भी आता है।

    फिलहाल चौरासी कोसी परिक्रमा मार्ग की स्थिति बहुत खराब है। परिक्रमा करने वाले लोगों को नाव से नदी पार करनी पड़ती है। 84 कोसी परिक्रमा मार्ग पर बारिन बाग, अलियाबाद, नियामत गंज सहित कई कस्बे आते हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग बनने से गोंडा, रायबरेली, अयोध्या, सुलतानपुर के लोग सीधे जुड़ सकेंगे।पर्यटन की दृष्टि से श्रद्धालुओं और सैलानियों के लिए यह काफी अहम होगी रिंग रोड।

    रामनगरी में ट्रैफिक कंट्रोल व परिवहन सुविधा के लिहाज से अहम 65.8 किलोमीटर की रिंग रोड जल्द उपलब्ध होगी।  भारत सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने इसे अंतिम रूप दे दिया है। इसके लिए 2588 करोड़ का डीपीआर बनकर तैयार हैl

    सांसद लल्लू  ने कहा कि 65.8 किमी. की रिंग रोड में चार रेलवे ओवरब्रिज, नदी पर दो पुल तथा पांच प्रमुख मार्गों पर विशेष निर्माण किए जाएंगे। जनपद के विकास में रिंग रोड एक अहम कड़ी साबित होगी।रिंग रोड से जुड़े कई इलाकों को इससे कनेक्टिविटी भी मिलेगी।  

    रिंग रोड से जुड़ने वाले इन इलाके के लोगों को निकट परिवहन का बेहतर माध्यम मिलेगा, जो विकास के लिए लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है।कहा कि इसके निर्माण से श्रद्धालुओं व सैलानियों के साथ आम लोगों के वाहन भी सुगमता से एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंच सकेंगे, जिससे शहर के व्यस्त यातायात व्यवस्था में भी सुधार आएगा।


    देव बक्श वर्मा

    Initiate News Agency(INA) अयोध्या

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.