Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। पुलिसकर्मी बता 4 लुटेरों ने स्कूटी सवार से आचार संहिता का खौफ दिखा, 10 लाख की लूट, लूट की जगह पुलिस ने दर्ज किया ठगी का मुकदमा

    अलीगढ़। यूपी के अलीगढ़ जिले में 4 लुटेरों द्वारा पुलिसकर्मी बता आचार संहिता के नाम पर स्कूटी सवार प्रॉपर्टी डीलर से सोने चांदी के गहने सहित 10 लाख की लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। पुलिसकर्मी बताकर चारों शातिर लुटेरों द्वारा चैटिंग करने के नाम पर की गई लूट की वारदात के बाद पीड़ित मुकदमा दर्ज कराने के लिए कोतवाली पहुंचा और लूट करने वाले चारों लुटेरों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज करने के लिए पुलिस को लिखित में तहरीर दी गई। आरोप है कि थाने में पुलिस ने लूट का मुकदमा दर्ज करने के बजाए  ठगी करने की तहरीर पुलिस द्वारा ली गई है। जबकि उसके साथ दिनदहाड़े लूट की गई। पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी और तहरीर के आधार पर मामले की जांच में जुटी हुई है।

    मुकेश गुप्ता पीड़ित

    उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के बन्नादेवी क्षेत्र के गोला रोड पर पुलिस की वर्दी पहन 4 शातिर लुटेरों ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर  विधानसभा चुनाव में आचार संहिता के नाम पर चेकिंग करने का खौफ दिखाया। जिसके बाद चारों शातिर लुटेरों ने चेकिंग करते हुए स्कूटी सवार बुजुर्ग प्रॉपर्टी डीलर के साथ सोने चांदी के आभूषण लूटने के साथ 10 लाख रुपए की दिनदहाड़े लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। प्रॉपर्टी डीलर जब तक कुछ समझ पाता। तब तक चारों लुटेरे सोने चांदी के गहने लूट मौके से फरार हो गए थे। सूचना पर दो थानों की पुलिस सहित सीओ मोहसिन खान घटनास्थल पर पहुंच गए। मौके पर पहुंची पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे खंगालने में जुट गई है। पीड़ित का आरोप है पुलिस की वर्दी पहन कर खुद को पुलिसकर्मी बताकर लूट करने वाले चारों आरोपियों के खिलाफ जब मुकदमा दर्ज कराने के लिए कोतवाली पहुंचा।जहां पुलिस ने लूट का मुकदमा दर्ज करने के बजाए ठगी करने का मुकदमा दर्ज किया गया। फिलहाल अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

    जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की कोतवाली बन्नादेवी क्षेत्र के गूलर रोड गली नंबर 1 निवासी मुकेश गुप्ता का सीमेंट और प्रापर्टी डीलर का काम है। रोज की तरह मुकेश गुप्ता अपने घर से अपनी स्कूटी पर सवार होकर दोपहर में साथी के पास प्रॉपर्टी की बात करने के लिए जा रहे थे। उसी दौरान हंसराज मंदिर के पास दो बाइक पर सादा कपड़े पहने चार युवकों ने उनकी स्कूटी को ओवरटेक कर गूलर रोड तिराहे पर रोक लिया। आरोप है कि पूछने पर चारों लोगों ने खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए उसको आचार संहिता का खौफ दिखाकर धमकाना शुरू कर दिया। आचार संहिता का हवाला देते हुए मुकेश गुप्ता से जेवर उतारने को कहा। जिस डर के वजह से पीड़ित ने टप्पेबाजों को अपने गले की जंजीर, हाथ में पहनी तीन अंगूठी व अन्य सामान उतार कर दे दिया। तभी चकमा देकर चारों शातिर लुटेरों ने सोने चांदी का सभी सामान एक पैकेट में डाल दिया।जिसके बाद में दूसरे पैकेट में पत्थर भर कर उसको हिदायत देकर वापस कर दिया। जहां थोड़ी दूर चलने पर पीड़ित को एहसास हुआ की उसके साथ ठगी हुई है। पीड़ित ने जब अपनी स्कूटी खोलकर उस पैकेट चेक किया तो उसमें पत्थर रखें हुए थे। जिसे देख उसके होश उड़ गये। जिसके बाद उसने अपने साथ चारों शातिर लुटेरों द्वारा सूचना पुलिस को दी गई।सूचना पर बन्नादेवी व देहलीगेट पुलिस सहित सीओ मोहसिन खान भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगालना शुरू कर दिया है। हालांकि अभी तक की जांच में ठगी करने वाले चारों ठगों का कोई सुराग नहीं लगा है। जबकि पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

    लूट के शिकार मुकेश गुप्ता ने कहा कि चार लोगों ने खुद को पुलिसकर्मी बताया। जिसके बाद हंसराज मंदिर के पास स्कूटी को ओवरटेक कर सोने चांदी के आभूषण लूटने के साथ ही उसके साथ 10 लाख की लूट की गई। आरोप है थाने पर उसके साथ लूट करने वाले चारों आरोपियों के खिलाफ पुलिस को लूट का मुकदमा दर्ज करने के लिए लिखित में तहरीर दी गई थी।लेकिन पुलिस ने उसके संग हुई लूट की तहरीर नहीं ली गई। आरोप है कि पुलिस ने उसके साथ ठगी होने की तहरीर ली गई हैं।जबकि उसके साथ दिनदहाड़े लूट हुई है।

    अजय कुमार

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.