Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़: कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के बीच होगा नुमाइश का शुभारंभ,सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ेंगे धज्जियां

    --नुमाइश के इतिहास में पहली बार की गई हेलीकॉप्टर की व्यवस्था

    अलीगढ़: 20 दिसंबर से अलीगढ़ में नुमाइश लगने जा रही है। जिसको लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई है। नुमाइश प्रदर्शनी में इस बार नए वेरिएंट के साथ सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ेंगी। नुमाइश मैदान पहुंच रहे दुकानदारों का कहना है।

    अभी स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की तरफ से उन्हें कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर कोई गाइडलाइन नहीं दी गई है।बल्कि नुमाइश के इतिहास में पहली बार जिला प्रशासन की तरफ से नुमाइश में लोगों के लिए हेलीकॉप्टर की व्यवस्था की गई है। इस बार नुमाइश में पहुंचने वाले लोग हेलीकॉप्टर में बैठकर नुमाइश का लुफ्त उठा सकेंगे।

    जहां देश मे ओमीक्रोन वायरस के 32 केस आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से नई गाइडलाइन जारी हो चुकी है।पीएम,सीएम,स्वास्थ्य मंत्रालय और  WHO की तरफ से सोशल डिस्टेंस, वैक्सीनेशन और हैंड सैनिटाइजर के लिए कहा गया है। लेकिन अलीगढ़ में 20 दिसंबर 2021 को नुमाइश का उद्घाटन किया जा रहा है। नुमाइश के चलते हजारों–लाखों लोगों की भीड़ जुटेगी।

    वहां सोशल डिस्टेंस का कैसे पालन किया जाएगा। इसको लेकर सीएमओ का कहना है कि कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है।नुमाइश प्रदर्शनी के दौरान लोगों से खचाखच भरने वाले मैदान को लेकर पहले ही स्वास्थ्य विभाग ने तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन कराया जाएगा। लोगों को सैनिटाइजेशन भी कराया जाएगा। 

    जानकारी के अनुसार जहां एक और देश विदेश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन ने दस्तक दे अपना कहर बरपा ना शुरू कर दिया है। आज पूरा विश्व ओमिक्रोन वेरिएंट को लेकर पूरी तरह से खौफजदा है। जबकि यूरोपियों  देशों के साथ अपने देश में भी ओमिक्रोन वायरस के 32 केस मिलने के बाद स्वास्थ विभाग में हड़कंप मचा दिया है। 

    तो वही कोरोना की गई गाइडलाइन और नए वेरिएंट ओमिक्रोन वायरस के बीच अलीगढ़ के जिला प्रशासन ने लोगों की जान के साथ खिलवाड़ करते हुए राजकीय औद्योगिक एवं कृषि प्रदर्शनी का लगाने का अहम फैसला लिया गया है। बैठक में लिए गए फैसले के बाद जिला प्रशासन की तरफ से प्रदर्शनी का शुभारंभ करने की तैयारियां जोरो-सोरों से शुरू कर दी गई है। दूरदराज राज्य से प्रदर्शनी में झूले और सर्कस सहित अन्य सामानों को लेकर लोगों ने नुमाइश मैदान पहुंचकर तैयारियां शुरू कर दी गई है। 

    जिला प्रशासन की तरफ से नुमाइश प्रदर्शनी का शुभारंभ 20 दिसंबर से फीता काटकर शुरू कर दिया जाएगा। लेकिन ऐसे में बड़ा सवाल खड़ा होता है। जहां एक और स्वास्थ्य विभाग सहित जिला प्रशासन कोरोना की नए वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर सतर्कता के साथ में अलर्ट नजर आ रहा है।जबकि लाखों की तादात में नुमाइश मैदान में पहुंचने वाले लोगों के बीच जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग आखिर कोरोना के नए वायरस ओमिक्रोन वेरिएंट के बीच कैसे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करा पाएगा जब मैदान लोगों से खचाखच भरा होगा। 

    जहां हर रोज लाखों लोग नुमाइश मैदान में प्रदर्शनी का लुफ्त उठाने के लिए इस मैदान में शिरकत करने पहुंचेंगे। लेकिन स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर स्वास्थ्य विभाग की तरफ से पूरी तैयारियों पहले से कर ली गई है। यहां पहुंचने वाले लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी कराया जाएगा और सैनिटाइजेशन का भी कार्य पूरी मुस्तैदी के साथ होगा।

    राजकीय औद्योगिक एवं कृषि प्रदर्शनी को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी आनंद उपाध्याय का कहना है कि पहले की तरह इस बार भी पहले से ही नुमाइश प्रदर्शनी को लेकर सभी तैयारियां स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कर ली गई है। नुमाइश प्रदर्शनी के दौरान कोविड प्रोटोकॉल के तहत स्वास्थ्य विभाग की तरफ से पूरी व्यवस्था कर तैयारियां के साथ अलर्ट है। 

    कोविड प्रोटोकॉल के तहत नुमाइश में पहुंचने वाले लोगों के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से मेडिकल हेल्थ, चिकित्सा उपचार सहित कोविड से संबंधित मीटर सहित कॉविड टेस्ट करने के लिए पूरी व्यवस्था  नुमाइश मैदान में मौके पर हर समय मौजूद रहेंगी। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग की तरफ से लोगों को सैनिटाइजेशन कराने पर भी पूरा ध्यान मुख्य रूप से रखा जाएगा।

    नुमाइश ठेकेदार सुरेश चंद्र वार्ष्णेय ने कहा गत वर्षो की तरह इस बार भी नुमाइश की तैयारी जोरों पर है बल्कि पहले की अपेक्षा इस बार नुमाइश और शानदार होने वाली है क्योंकि इस बार जिला प्रशासन की तरफ से नुमाइश में शिरकत करने पहुंचने वाले लोगों के लिए हेलीकॉप्टर की व्यवस्था भी की गई हैं। हेलीकॉप्टर की व्यवस्था नुमाइश इतिहास में पहली बार की गई है। लेकिन कोरोना को लेकर अभी जिला प्रशासन और स्वास्थ विभाग की तरफ से कोई गाइडलाइन नहीं दी गई है।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.