Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    मिश्रित/सीतापुर। स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही है धज्जियां। सामुदायिक शौचालय जिम्मेदारों की उदासीनता और अनदेखी के चलते ताला बंद

    मिश्रित/सीतापुर। देश और प्रदेश की सरकारों द्वारा स्वच्छ भारत मिशन अभियान पर बल देकर जहां घर-घर शौचालय बनवाए जा रहे हैं वहीं यहां के ब्लॉक मुख्यालय और तहसील मुख्यालय पर आने वाले जरूरतमंद ग्रामीणों और वादकारियों के लिए दोनों प्रांगणों में दशकों पहले बनवाए गए सामुदायिक शौचालय जिम्मेदारों की उदासीनता और अनदेखी के चलते ताला बंद होकर अपनी दुर्दशा पर आंसू बहाने को मजबूर हो रहे हैं। ज्ञातव्य हो कि बीते वर्ष 2008 में ब्लॉक मुख्यालय प्रांगण में राष्ट्रीय सम विकास योजना अंतर्गत निर्मित सामुदायिक स्वच्छ शौचालय पूरी तरह ताला बंद होकर अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है जिसकी तरफ से ब्लॉक के जिम्मेदार पूरी तरह उदासीन बने हुए हैं यहां आने वाले ग्रामीण यत्र तत्र दीवारों के किनारे मल मूत्र त्यागन कर रहे हैं जिससे स्वच्छ भारत अभियान की उड़ रही है धज्जियां।

    इसी तरह दशकों पहले तहसील मुख्यालय प्रांगण में उप जिलाधिकारी के पुराने विश्राम कक्ष के समीप तहसील आने वाले ग्रामीणों और वाद कारियों के मल मूत्र त्याग न हेतु  सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया गया था जो अर्से से पूरी तरह ताला बंद हुआ पड़ा है इसके मुख्य दरवाजे के सामने बैनामा लेखकों ने अपने टीन सेड और तख़्त डालकर पूरी तरह से अतिक्रमण कर रखा है जिससे अपनी दुर्दशा पर आंसू बहाता हुआ यह कई सीटर सामुदायिक शौचालय ताला बंद पड़ा हुआ है और तहसील आने वाले वादकारी तथा जरूरतमंद ग्रामीण यत्र तत्र दीवारों के किनारे लघुशंका आदि  करने पर मजबूर हो रहे हैं जिससे स्वच्छ भारत मिशन अभियान की खुलेआम उड़ने वाली धज्जियों की तरफ से तहसील प्रशासन पूरी तरह अनजान बना हुआ है इस तरह से यहां ब्लॉक और तहसील मुख्यालय पर बने सामुदायिक शौचालय जनता के लिए सफेद हाथी साबित हो रहे हैं।

    संदीप चौरसिया 

    Initiate News Agency (INA), तहसील मिश्रित

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.