Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: गन्ना किसानों को चीनी मिलों से गन्ना भुगतान व ब्याज नहीं तो भाजपा को वोट नहीं

    --22 दिसंबर से गन्ना भवन से बड़े आंदोलन की तैयारी- भगत सिंह वर्मा


    देवबंद: पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भगत सिंह वर्मा ने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार की उपेक्षा के चलते प्रदेश के गन्ना किसान भारी आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहे हैं उत्तर प्रदेश की चीनी मिलों ने पिछले वर्ष का भी गन्ना भुगतान अभी तक नहीं दिया है।

    भगत सिंह वर्मा सोमवार को मोर्चा कार्यालय पर गन्ना किसानो की बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि सहारनपुर जिले की 4 चीनी मिलों पर पिछले वर्ष का गन्ना भुगतान 240 करोड़ रुपए बकाया है और पिछले वर्षों में देरी से किए गए गन्ना भुगतान पर लगा ब्याज सहारनपुर जिले की 6 चीनी मिलों पर 500 करोड रुपए ब्याज बकाया है। 

    उन्होने कहा कि गन्ना किसानों को चीनी मिलों से गन्ना भुगतान में ब्याज दिलाने के लिए भाजपा की योगी सरकार कोई आवश्यक कार्यवाही नहीं कर रही है जिसके कारण गन्ना किसान एक एक रुपए को मोहताज हैं और भारी आर्थिक संकट में है। 

    भगत सिंह वर्मा ने योगी सरकार और चीनी मिल मालिकों, चेतावनी देते हुए कहा कि यदि सरकार ने अविलंब पिछले वर्ष का गन्ना भुगतान व  इस वर्ष का गन्ना भुगतान व ब्याज और गन्ने का लाभकारी रेट 600 रूपये कुंतल नहीं दिलाया तो गन्ना किसान 22 दिसंबर से गन्ना भवन सहारनपुर से जोरदार प्रदर्शन करके बड़े आंदोलन की शुरुआत करेंगे। बैठक की अध्यक्षता पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष राजेंद्र चैधरी ने तथा संचालन प्रदेश महामंत्री आसिम मलिक ने किया। 

    बैठक में सरदार गुलविंदर सिंह बंटी, वीरेंद्र सिंह बिल्लू, विनोद सैनी, नीरज सैनी, प्रधान अजीत सिंह, प्रधान नरेश कुमार एडवोकेट, डॉक्टर यशपाल त्यागी, सुभाष त्यागी, रविंद्र चैधरी, प्रधान सुधीर चैधरी, संजय चैधरी, वसीम जहीरपुर, हाजी सुलेमान, हाजी राशिद, मोहम्मद फारुख, यासीन त्यागी, केसर आलम, महबूब हसन, नवाब अली, चैधरी नीरपाल सिंह, ऋषि पाल गुर्जर, संदीप गुर्जर, कृष्ण पाल गुर्जर, विकास गुर्जर, अमजद गौड़, बदर आलम, मोहम्मद अकरम त्यागी आदि उपास्थित रहे।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.