Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। श्रीनगर में जवान की बीमारी के चलते हुई मौत, गांव पहुंचा पार्थिव शरीर, सलामी देकर किया अंतिम संस्कार

    अलीगढ़। गांव बिसारा निवासी 44 वर्षीय जवान जगबीर सिंह बीमारी के चलते उपचार के दौरान श्रीनगर बेस अस्पताल में मंगलवार को मौत हो गई थी। गुरुवार की सुबह जवान का पार्थिव शरीर उसके गांव पहुंचा। जवान के पार्थिव शरीर को देखने के लिए गांव के अंदर लोगों का जनसैलाब उमड़ गया। जिसके बाद जवान के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित करते हुए श्रद्धांजलि देते हुए नम आंखों के बीच गमगीन माहौल में विदाई दी गई।तो वहीं सलामी के साथ जवान के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया गया।


    अलीगढ़ जिले की तहसील खैर क्षेत्र के गांव बिसारा निवासी 44 वर्षीय फौजी जगबीर सिंह की श्रीनगर यूनिट 130 में हवलदार के पद पर तैनाती थी। ड्यूटी पर तैनाती के दौरान जवान जगबीर सिंह बीमार होने के चलते श्रीनगर बेस अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था। जहां डॉक्टरों की देखरेख में बीमार फौजी का इलाज चल रहा था। मंगलवार की देर रात उपचार के दौरान फौजी ने अंतिम सांस लेते हुए दम तोड़ दिया। जहां उपचार के दौरान जवान की मौत हो गई। मंगलवार को जवान की हुई मौत के बाद मृतक जवान का शव गुरुवार की सुबह राजकीय सम्मान के साथ कोतवाली क्षेत्र के गांव बिसारा लाया गया। गांव में जवान का पार्थिव शरीर पहुंचते ही सैकड़ों गांवों का जनसैलाब मृतक जवान के पार्थिव शरीर को देखने के लिए उमड़ पड़ा। तो वही मृतक फौजी के घर में कोहराम मच गया। पत्नी और दो बच्चों सहित परिवार को रोते बिलखते छोड़कर जवान हमेशा के लिए अलविदा कहकर इस दुनिया से चला गया। घर में मचा कोहराम के बीच जवान के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए श्मशान घाट पर ले जाया गया। जहां फौजी के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए ले जाते हुए सैकड़ों की तादाद में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। इस दौरान लोगों द्वारा फौजी के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित करते हुए नम आंखों से विदाई देते हुए श्रद्धांजलि दी गई। जहां जिला प्रशासन सहित आल्हा अधिकारी मौजूद रहे। तो वही राजकीय सम्मान के साथ गारद की सलामी देते हुए जवान के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया गया है।

    जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के कोतवाली क्षेत्र के गांव बिसारा निवासी हवलदार जगबीर सिंह पुत्र बलिदान सिंह की श्रीनगर में यूनिट 130 में तैनाती थी। श्रीनगर में तैनाती के दौरान बीमारी के चलते उपचार के दौरान मंगलवार की देर रात श्रीनगर बेस अस्पताल में फौजी जगबीर सिंह की मौत हो गई थी। हवलदार जगबीर सिंह की मौत की खबर बुधवार को सेना के अधिकारियों द्वारा उसके परिजनों को दी गई थी। पति की मौत की खबर सुनते ही पत्नी बदहवास हो गई थी। तो वहीं बेटे की मौत की खबर सुनते ही बलिदान सिंह सहित पूरे परिवार में कोहराम मच गया था। जवान की मौत की सूचना मिलते ही गांव में सड़के सूनी और गमगीन माहौल हो गया था। जिसके बाद हवलदार जगबीर सिंह का पार्थिव शरीर सैनिक सम्मान के साथ गुरुवार की सुबह उसके गांव बिसारा पहुंच गया। जिसके बाद जवान का पार्थिव शरीर गांव में पहुंचते ही जवान के पार्थिव शरीर को देखने के लिए गांव सहित आसपास के गांव के लोगों का सैलाब मृतक जवान के घर पर उमड़ पड़ा। जहां मरने से पहले जवान अपने पीछे पत्नी सहित एक मासूम बेटी और एक मासूम बच्चे को रोता बिलखता छोड़ इस दुनिया को अलविदा कह मौत के आगोश में सो गया है। जहां मृतक जवान की मौत से परिवार के लोगों का भी रो रो कर बुरा हाल है।तो वही गांव के अंदर जवान की मौत के बाद लोगों के घरों के चूल्हे सुने पड़े हुए हैं। तो वहीं पूरे गांव के अंदर गमगीन माहौल है। जवान की मौत से हर किसी की आंखें नम है। जवान के पार्थिव शरीर को देखने के लिए सैकड़ों की तादात में आसपास के गांव के लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा तो वही जवान के पार्थिव शरीर को जिला प्रशासन सहित सेना के के जवानों की मौजूदगी में सैकड़ों लोगों को बीच जवान के पार्थिव शरीर को अंतिम विदाई दी गई। जहां जवान के पार्थिव शरीर को देखने के लिए उमड़ा जनसैलाब के द्वारा जवान के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित करते हुए उसके सम्मान में नारेबाजी की गई और श्रद्धांजलि देते हुए विदाई दी गई। तो वही गारद की सलामी देते हुए जवान जगबीर सिंह के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया गया।

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.