Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। डीएम का फरमान, देर रात में गाड़ी उठा एसडीएम दौड़े गौशाला, निरीक्षण कर निराश्रित गोशालाओं की व्यवस्थाओं का लिया जायजा

    अलीगढ़। यूपी के अलीगढ़ जिले में गौशालाओं की व्यवस्थाओं को लेकर डीएम के द्वारा सुनाए गए फरमान के बाद जिले के उप जिलाअधिकारियों में हड़कंप मच गया। निराश्रित गौशालाओं को लेकर डीएम ने फरमान सुनाया तो एसडीएम खैर कुंवर बहादुर सिंह तहसील की कुर्सी छोड़ देर रात उदयगड़ी गांव की गौशाला की कच्ची जमीन पर गाड़ी को बंजर जमीन के हेलीपैड पर रोकने के गौशाला की हकीकत जानने के लिए पहुंच गए। 

    जहां देर रात में ही काले अंधेरे के साए में गौशाला का औचक निरीक्षण किया गया। गौशाला का देर रात अचानक किए गए औचक निरीक्षण के बाद निराश्रित गौशाला की देखरेख कर रहे कर्मचारियों में एसडीएम सहित गाड़ी की तेजतर्रार लाइट को देख भगदड़ मच गई। देर रात में अस्थाई गौशाला पर पहुंचे एसडीएम ने निराश्रित गौशाला में रह रहे गोवंश के चारे पानी की व्यवस्था को देखते हुए गौशाला में फैली अव्यवस्थाओं का भी जायजा लिया गया। लेकिन इस दौरान एसडीएम को गौशाला में कोई कमी नजर नहीं आई। जिसके बाद निरीक्षण के नाम पर खानापूर्ति करते हुए गौशाला की देखरेख कर रहे कर्मचारियों को 100 में से 100 नंबर देकर व्यवस्था को ठीक ठहरा अपना काम कर चले गए।

    अलीगढ़ जिले की तहसील खैर के टप्पल ब्लॉक के गांव सालपुर गोशाला का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था। वायरल वीडियो में गौशाला की पूरी हकीकत बयान थी। तो वहीं जिला प्रशासन की पोल भी खुली थी। सालपुर गौशाला में आवारा गोवंश बिना चारा पानी के गौशाला में मृत पड़े थे। गौशाला में मृत पड़े गोवंशों को आवारा कुत्ते नोच नोच कर अपनी भूख का निवाला बना रहे थे। जबकि गौशाला की जमीन पर जिंदा गोवंश कम मरे पड़े ज्यादा दिख रहे थे। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था। डीएम ने गौशालाओं की व्यवस्था का जिम्मा क्षेत्र के सभी जिलाधिकारियों को सौंप दिया गया था। डीएम द्वारा उप जिलाधिकारियों को गौशाला की व्यवस्थाओं को लेकर सुनाएं गए फरमान के बाद एसडीएम सहित तहसीलदार भी अपने अपने क्षेत्रों की गौशालाओं की तरफ दौड़ना शुरू कर दिया और एक एक कर तहसीलदार और एसडीएम द्वारा निराश्रित गौशालाओं पर देर रात धावा बोलते हुए औचक निरीक्षण किया गया है।


    जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में 2 दिन पहले थाना टप्पल क्षेत्र टप्पल ब्लाक के गांव सालपुर की गौशाला में फैली अव्यवस्थाओं और निराश्रित गौशाला में भूख प्यास के चलते आवारा गोवंश दम तोड़ते हुए गौशाला में पड़े हुए थे। गौशाला के अंदर मृत हालत में आवारा गोवंश मरे पड़े थे। जिन आवारा मरे पड़े गोवंश को आवारा कुत्ते अपने नुकीले दांतों से नोच नोच कर खा रहे थे। उसी दौरान किसी स्थानीय ग्रामीण द्वारा गौशाला में मरे पड़े गोवंशों की वीडियो बनाने के बाद सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गई थी। सोशल मीडिया पर गौशाला की हकीकत बयान करने वाली वीडियो वायरल करने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था। सोशल मीडिया पर वायरल हुई वीडियो के बाद एसडीएम खैर के द्वारा लगातार खैर क्षेत्र की विभिन्न गौशालाओं का निरीक्षण किया जा रहा है। इसी कड़ी में जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे के ने संज्ञान लेते हुए डीएम के द्वारा एसडीएम खैर को निराश्रित गोशालाओं में आवारा गोवंश के लिए चारे पानी के व्यवस्थाओं को देखने के लिए निर्देशित किया गया था। जिसके बाद डीएम के निर्देश पर तहसील खैर एसडीएम कुंवर बहादुर सिंह ने देर रात उदयगड़ी गांव में बनी निराश्रित गौशाला पर पहुंच गए। जहां एसडीएम ने गौशाला की व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए निरीक्षण किया गया। एसडीएम के अचानक देर रात गौशाला में पहुंचने के बाद गौशाला के देखरेख कर रहे कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। गौशाला का निरीक्षण करने के बाद एसडीएम खैर कुंवर बहादुर सिंह ने बताया कि गौशाला में चारे,पानी की पूरी व्यवस्था है तथा गौशाला में गौवंश को ठंड से बचाव हेतु अलाव भी जलाए गए है।

    एसडीएम खैर कुंवर बहादुर सिंह ने देर रात उदयगड़ी गांव की गौशाला का औचक निरीक्षण किया गया है। एसडीम द्वारा गौशाला का देर रात में अचानक किए गए निरीक्षण के बाद निराश्रित गौशाला की देखरेख करने वाले कर्मचारियों में भगदड़ मच गई। देर रात गौशाला पर पहुंचे एसडीएम ने निराश्रित गौशाला में रह रहे गोवंश के चारे पानी की व्यवस्था को देखते हुए गौशाला में फैली अव्यवस्थाओं का भी जायजा लिया गया।

    अजय कुमार

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.