Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। गुप्तांगों पर हमला करा कर कातिल पत्नी ने प्रेमी व दोस्तों संग मिल पति की कराई थी निर्मम हत्या, अवैध संबंधों में बाधक बना था पति

    अलीगढ़। थाना पाली मुकीमपुर पुलिस में हरिओम हत्याकांड का खुलासा किया है। पुलिस ने हत्याकांड में हत्या का षड्यंत्र रच प्लान बनाने वाली कातिल पत्नी व प्रेमी सहित दोस्तों को गिरफ्तार किया। पत्नी ने अवैध संबंधों के चलते अपने प्रेमी और उसके दोस्तों के साथ मिलकर शादी में शरीक होने पहुंचे पति को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया था। पत्नी के प्लान के मुताबिक उसके प्रेमी और दोस्तों ने पति के गुप्तांगों पर लातों से हमला कर बेहोश कर दिया। फिर प्रेमी ने उसके पति के दोनों पैर पकड़ लिए गए। तभी एक दोस्त ने हाथों से गला दबाकर हत्या कर दी।हत्या कर उसके चेहरे को ईटों से कुचल कर गांव के बाहर जंगल में भूसे के ढ़ेर में जलाने के बादशव छिपा दिया था। ग्रामीणों ने मृतक का अधजला शव गांव के बाहर जंगल में पड़ा देखा था। पुलिस ने अधजले शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। भाई की तहरीर पर अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया गया था। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई थी।


    जानकारी के अनुसार थाना पाली मुकीमपुर हरिओम हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।पुलिस ने हरिओम हत्याकांड में मर्तक हरिओम की पत्नी सरिता सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि हरिओम की हत्या पत्नी के अवैध संबंधों में बाधक बनने पर उसके पति की हत्या की गई थी। कोतवाली अतरौली क्षेत्र के गांव मोहल्ला बाबू नगर निवासी हरि ओम 17 नवंबर को अतरौली कस्बा के मोहल्ला कटरा निवासी अजीत कुमार की शादी में शरीक होने के लिए थाना पाली मुकीमपुर क्षेत्र के गांव बिशनपुर गया था। लेकिन बारात तो दूल्हा दुल्हन समेत 18 नवंबर को मोहल्ले में वापस लौट गई थी। जबकि शादी में शरीक होने पहुंचे हरिओम लौटकर अपने घर नहीं पहुंचा था। जिसके बाद 18 नवंबर को हरिओम की लाश थाना पाली मुकीमपुर क्षेत्र के गांव तोछीगढ़ के जंगलों में पड़ी हुई क्षेत्रीय ग्रामीणों को मिली थी। हरिओम की अधजली लाश मिलने के बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी।अधजली लाश जंगल में मिलने की सूचना ग्रामीणों द्वारा पुलिस को दी गई थी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची थी। जिसके बाद मृतक की शिनाख्त उसके भाई ने हरिओम के रूप में हुई थी। पुलिस ने हरिओम के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। 18 नवंबर को रवि कुमार निवासी कोतवाली अतरौली के द्वारा भाई हरिओम की हत्या के मामले में पालीमुकीमपुर थाने पर मुकदमा दर्ज कराया गया था। पुलिस ने तहरीर पर पाली मुकीमपुर थाने पर मुकदमा अपराध संख्या 331/2021 धारा 302 IPC बनाम अज्ञात पंजीकृत किया था।

    पुलिस मामले की जांच में जुट गई थी। जिसके बाद उन्हें शुरू से ही मृतक हरिओम के दोस्तों की बातें पुलिस को संदेहजनक लग रही थी। पुलिस ने अतरौली मोहल्ला कटरा निवासी देवेंद्र से पूछताछ की गई। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने बताया कि मृतक की पत्नी सरिता से उसके 7 वर्षो से अवैध संबंध थे। अवैध संबंधों के बारे में मृतक हरिओम को पता चल गया था। जिसके कारण आए दिन घर में कलेश होती रहती थी। जब उसने सरिता से इस बारे में पूछा तो उसने अपने पति की हत्या करने की सलाह दी। जिसके बाद उसने अपने दोस्तों के साथ मिलकर हरिओम की हत्या कर दी।

    पुलिस पूछताछ के दौरान हत्यारे आरोपी देवेंद्र ने पुलिस को बताया कि वह और उसका मृतक दोस्त हरिओम दोनो प्रजापति जाति होने के चलते मृतक हरिओम व दिनेश एक साथ ईंट के भट्टों पर ईंट ढोने का काम करते थे।जिस कारण उसका मृतक हरिओम के घर काफी आना जाना था। मृतक हरिओम के घर  आने जाने के दौरान हरिओम की पत्नी सरिता से करीब 7 वर्ष से अवैध सम्बन्ध हो गये थे। जबकि उसका पति हरिओम शराब पीने के साथ जुआ खेलता और अक्सर शराब पीकर पत्नी सरिता के साथ मारपीट करता था।जिसके चलते हरिओम की पत्नी सरिता से उसकी काफी नजदीकी हो गयी।इसी दौरान देवेंद्र और सरिता के बीच पनप रहे अवैध सम्बन्धों की भनक उसके पति मृतक हरिओम को हो गयी। अवैध संबंधों को लेकर देवेंद्र और हरिओम में कई बार कहा सुनी हुई थी। जिसमें पत्नी सरिता भी अपने प्रेमी देवेंद्र का ही पक्ष लेती थी। पत्नी के अपने दोस्त देवेंद्र के साथ अवैध सम्बन्धों की जानकारी होने पर हरिओम उससे रंजिश मानने लगा था। 16 नवंबर को कोतवाली अतरौली मौहल्ला कटरा निवासी देवेंद्र के दोस्त बबलू के छोटे भाई अजीत की बारात पाली के गांव वीसनपुर वाहनपुर गई थी। उसी दौरान देवेंद्र ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर शादी में ही हरिओम की हत्या की योजना बनाई। हत्या की योजना बनाने से पहले हरिओम की पत्नी सरिता को भी फोन से बताया। जिसमें हरिओम की पत्नी सरिता ने कहा कि ठीक है उसके पति हरिओम की हत्या कर हमेशा के लिए किस्सा खत्म करो। उसके बाद सभी लोगों ने साथ बैठकर शराब पी और हरिओम को ज्यादा शराब पिला दी। नशा होने पर शादी से वापस लौटते समय हरिओम को नरेश की बुलट मोटरसाइकिल पर साथ में बैठा दिया। तीनों लोग पाली अतरौली रोड जूनियर हाईस्कूल तोछीगढ़ के सामने खेडिया धौकल गांव को जाने वाले रास्ते के पास पहुंच गए। 

    उसके बाद नरेश ने हरिओम के गले में हाथ से फंदा डाल दिया और हरिओम के गुप्तांग पर जमकर लातों से वार कर दिया। गुप्तांगो पर हुए हमले से हरिओम बेहोश होकर जमीन पर गिर गया। फिर देवेंद्र ने उसके दोनों पैर पकड लिए नरेश ने हाथों से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई। शव की शिनाख्त ना हो इसके लिए ईंट से हरिओम के चेहरे पर वार कर चेहरा कुचल दिया गया।

    एसओ पालीमुकीमपुर प्रभारी रामवकील सिंह ने बताया कि आरोपी देवेंद्र कुमार, उसके साथी नरेश कुमार, दिनेश कुमार और मृतक की पत्नी सरिता को हत्या करने और हत्या के बाद शव छिपने और सबूत मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया है।  हत्यारे देवेन्द्र की निशांदेही पर मृतक हरिओम के पैर का जूता घटनास्थल खेडिया मोड़ से बरामद किया गया।जबकि घटना में इस्तेमाल की गई आरोपी नरेश की बुलट मोटरसाइकिल को अभियुक्तगण देवेन्द्र व नरेश की गिरफ्तारी के साथ कोतवाली अतरौली अस्पताल के पास से बरामद किया गया। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

    अजय कुमार

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.