Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। गौशाला संचालक से 50 हजार रुपये महीने की मांगी चौथ, वसूली न देने गोशाला बंद करने की धमकी, दौड़ा-दौड़ाकर पीटने का वीडियो वायरल

    अलीगढ़। मोहनपुर गांव में चलानी है गौशाला तो देने पड़ेंगे ₹50000 महीना नहीं दिए तो गौशाला करनी पड़ेगी बंद जी हां कुछ बदमाशों द्वारा गौशाला संचालक को इसी तरह की धमकी दी गई है। जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशुओं के लिए कई अरबों से ज्यादा रुपया खर्च कर शहर शहर गांव गांव गौशाला स्थापित कराई गई थी। लेकिन  उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की तहसील इगलास क्षेत्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गौशालाओं का रखरखाव रखने वाले गौशाला संचालक को दबंगों द्वारा 50,000 रुपए हर महीने चौथ वसूली देने की मांग की गई है। इसके साथ ही गौशाला संचालक को हर महीने 50,000 रुपया चौथ वसूली नहीं देने पर उसकी गौशाला को बंद कराने की भी धमकी दी गई। लेकिन गौशाला संचालक ने दबंगों की धमकी के बाद जब चौथ वसूली देने से इंकर कर दिया गया। तो उसके बाद चौथ वसूली मांगने वाले बदमाशों ने गौशाला संचालक को सड़कों पर सरेसहा दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया है। दबंगों द्वारा गौशाला संचालक को दौड़ा-दौड़ा कर पीटने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लेकिन अब देखने वाली बात होगी की उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री गौशाला संचालक की बदमाशों द्वारा की जा रही पिटाई का वीडियो सामने आने के बाद आरोपियों के खिलाफ किस तरह की कार्रवाई मुख्यमंत्री की पुलिस द्वारा की जाती है।


    उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की कोतवाली इगलास क्षेत्र में 1 नवंबर को गौशाला संचालक के साथ दबंगों द्वारा की गई मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वायरल होने के बाद गौशाला संचालक के द्वारा दबंगों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर अलीगढ़ जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी को लिखित में तहरीर देते हुए दौड़ा-दौड़ा कर पिटाई करने वाले लोगों द्वारा उससे चौथ वसूली ना देने पर जान से मारने की धमकी देने वाले दबंगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की मांग की गई है। पीड़ित शशीपाल सत्यानंद दास ने एसएसपी कलानिधि नैथानी को दिए गए प्रार्थना पत्र में कोतवाली इगलास क्षेत्र के गांव मोहनपुर निवासी शशिपाल सत्यानंद दास ने आरोप लगाया है कि उसके द्वारा मोहनपुर सहित भरतपुर गांव में गौ सेवा समिति के तहत दोनों गांवों में बनी हुई गौशाला का संचालन करता हैं। 1 नवंबर की सुबह जब है गौशाला के अंदर पशुओं को चारा खिला रहा था। उसी दौरान मोहनपुर गांव के दबंग पुष्पेंद्र, भूरी सिंह, रिंकू, पिंकू, सहित अन्य लोग अपने हाथों में लाठी डंडे लेकर गौशाला में घुस गए। जिसके बाद दबंगों द्वारा उसके साथ भद्दी भद्दी गालियां देते हुए गाली गलौज की गई। दबंगों द्वारा दी जा रही गाली गलौज का विरोध किया गया तो विरोध करने पर दबंगों ने ईट पत्थर बरसाते हुए लाठी-डंडों से उसके ऊपर हमला बोल दिया गया। जिसके बाद दबंगों ने उससे 50,000 रुपया गांव के अंदर गौशाला चलाने के नाम पर हर महीने चौथ वसूली मांगी गई। चौथ वसूली ना देने पर गौशाला को बंद कराने की धमकी देते हुए रात बे रात उसकी हत्या करने की धमकी दी गई। उसके द्वारा दबंगों को चौथ वसूली दिए जाने से मना करने पर गौशाला में घुसकर हमला करने वाले हमलावरों ने एकजुट होकर हत्या करने की कोशिश करते हुए ईट पत्थर बरसाते हुए उसको दौड़ा-दौड़ा कर पिटाई की गई। दबंगों द्वारा गौशाला संचालक के ऊपर दौड़ा-दौड़ा कर की गई पिटाई की घटना इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। 

    जिसके बाद गौशाला संचालक शशिपाल सत्यानंद दास ने दबंगों के खिलाफ सीसीटीवी फुटेज के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई करने की मांग की गई है अब देखने वाली बात होगी की उत्तर प्रदेश कि सरकार में संत का चोला पहने बैठे हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अलीगढ़ पुलिस दबंगों के खिलाफ कार्रवाई कर क्या सड़कों पर घूमने वाले आवारा पशुओं की देखभाल कर उन्हें चारा खिलाने वाले गौशाला संचालक को न्याय दिला पाती है कि नहीं?

    Initiate News Agency (INA), अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.