Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का दो दिवसीय 27 वां कन्वेंशन जारी

    कानपुर। जाजमऊ में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का दो दिवसीय 27 वां कन्वेंशन जारी है पहले दिन बोर्ड के सदर ने दिया खुद बा ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य मौलाना राबे हसनी ने शनिवार को बोर्ड के 27 वें कन्वेंशन में कहा कि मुसलमानों को एकजुट रहना जरूरी है अगर वे ऐसा नहीं करते हैं तो मौजूदा हालात का सामना नहीं कर सकते जोश में होश खोने की जरूरत नहीं है बल्कि हिकमत ए अमली से काम लेना जरूरी है जाजमऊ स्थित दारुल तालीम और संगत मदरसा में शुरू दो दिवसीय इजलास की सदारत करते हुए उन्होंने अपने खुद में में बिना नाम लिए मौजूदा हालात पर रोशनी डाली उन्होंने सदस्यों को ताकीद करते हुए कहा कि वे अपने व्यक्तिगत विचारों के लिए बोर्ड के मंच का इस्तेमाल ना करें उम्मीद जताई के कानपुर में हो रहे इजलास के बेहतर नतीजे सामने आएंगे। 

    जमीअत उलमा ई हिंद के कौमी सद्र मौलाना असद मदनी ने कहा कि किसानों का आंदोलन सीएए और एनआरसी के खिलाफ महिलाओं के चलाए गए साइन बाग के आंदोलन से प्रेरित था कुरौना के कारण शाहिनबाग आंदोलन खत्म करना पड़ा किसानों का आंदोलन इससे बड़ा साबित हुआ और उनकी हिम्मत ने कामयाबी दिलाई वही मौलाना मदनी ने कहा कि जब कारोबार से जुड़े कृषि कानून वापस हो सकते हैं तो सरकार को अल्पसंख्यकों का सम्मान करते हुए सीएए और एनआरसी भी वापस लेना चाहिए उन्होंने कहा जनता की ताकत संसद की ताकत से बहुत बड़ी होती है किसानों की तरह मुसलमान भी इसी मूल के रहने वाले हैं आठ नौ साल हो गए पर हम सरकार के पास नहीं गए और ना सरकार ने हमसे बात की। मौलाना सैय्यद अरशद मदनी (अध्यक्ष जमीयत उलेमा-ए-हिंद) और प्रोफेसर सैय्यद अली मुहम्मद नकवी(पूर्व प्रोफेसर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी) आज कानपुर में हुई सत्ताईसवीं बैठक में सर्वसम्मति से ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष चुने गए हैं।

    इब्ने हसन ज़ैदी

    Initiate News Agency (INA) , कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.