Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पीलीभीत: कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने पीलीभीत के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का किया हवाई सर्वेक्षण

    पीलीभीत: प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने जिला अधिकारी पुलकित खरे के साथ जनपद के बाढ़ प्रभावित पूरनपुर एवं कलीनगर क्षेत्रों का किया हवाई सर्वेक्षण, संबंधित अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के  साथ की समीक्षा बैठक।

    प्रदेश के एसएससी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशानुसार प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने जनपद के बाढ़ प्रभावित तहसील कलीनगर व पूरनपुर के गांवों का शनिवार को हवाई सर्वेक्षण किया। हवाई सर्वेक्षण करने के बाद कृषि मंत्री ने पुलिस लाइन स्थित सभागार में सम्बन्धित अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ राहत बचाव कार्यों से सम्बन्धित समीक्षा बैठक की गई। 

    बैठक में जिलाधिकारी पुलकित खरे ने  अवगत कराया  कि विगत 90 वर्ष में सबसे अधिक 05 लाख 47 हजार क्यूसेक पानी वनबसा बैराज से डिस्चार्ज करने के कारण जनपद की पूरनपुर एवं कलीनगर तहसील में जलभराव की स्थिति उत्पन्न हुई और साथ ही साथ अन्य तहसीलें भी आंशिक रूप से प्रभावित हुई। 

    उन्होंने अवगत कराया कि दिनांक 19 अक्टूबर को अपरान्हन 1ः00 बजे पानी डिस्चार्ज करने की सूचना प्राप्त होने ने पर कंट्रोलरूम को सक्रिय करते हुये समस्त उप जिलाधिकारी अपने अपने क्षेत्र में बाढ़ चौकियों को सक्रिय किया गया। 

    तहसील कलीनगर में नगरिया कालोनी, नलदेंगा, गभिया सहराई, गोरखडिब्बी, रमनगरा, बुझिया ता0 महाराजपुर, नकटाह, नौजल्हा, कुतियाकवर व पूरनपुर तहसील के श्रीनगर, राहुलनगर, चंदिया हजारा, खिरकिया बरगदिया, कालोनी नं0 06, राणाप्रताप नगर, नहरोसा, तहसील अमरिया के गांव देवहा नदी से प्रभावित गांव खली नवादा, मझलिया, तहसील सदर के प्रभावित गांव नगरिया कालोनी, पीलीभीत शहर, चंदोई, रामपुर, उझेनिया, मीरपुर तथा बीसलपुर के ग्राम भैंसहा, शेखपुर आदि गांवों में बैराज से पानी डिस्चार्ज करने के उपरान्त जलभराव की स्थिति उत्पन्न हुई। जनपद की पांच तहसीलों के पूर्ण एवं आंशिक रूप से कुल 78 गांव बाढ़ से प्रभावित हुये हैं, जिसमें पूरनपुर के 21 ग्राम, कलीनगर के 27 ग्राम, तहसील अमरिया के 06 ग्राम, बीसलपुर के 06 ग्राम व सदर तहसील के 18 ग्राम प्रभावित हुये। 

    तहसील पूरनपुर व कलीनगर के ग्रामों में जल भराव की स्थिति होने पर जिला प्रशासन द्वारा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, एसएसबी टीम, मेडिकल टीमें, राजस्व विभाग टीम, पूर्ति विभाग की टीमें के द्वारा बचाव कार्य लगातार संचालित किया जा रहा है। इसके साथ ही जिला प्रशासन द्वारा मेडिकल टीमों के माध्यम से दवाईयां वितरित कराई जा रही है। 

    जिला प्रशासन द्वारा 30 हजार लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा चुका है तथा निरन्तर भोजन दिया जा रहा है। इसके साथ ही साथ जनपद में कोई भी जनहानि नहीं हुई है। बाढ़ से 329 पशुओं की हानि व एक व्यक्तिगत मुर्गी फार्म की लगभग 300 मुर्गियों का नुकसान हुआ है तथा 7000 हे0 कृषि भूमि व 25 आवास को नुकसान पहुंचा है।  

    समीक्षा बैठक में शाही ने जिलाधिकारी एवं समस्त सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि जिन जिन ग्रामों के लोग बाढ़ से प्रभावित हुये है। लोगों को भोजन व पेयजल, प्रकाश की व्यवस्था कराना सुनिश्चित कराई जाये जब तक की स्थिति सामान्य नही हो जाती है। 

    मुख्य चिकित्साधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुये उन्होंने कहा कि प्रभावित ग्राम पंचायतों में नियमित मेडिकल कैम्प आयोजित कर आवश्यक दवाई वितरित की जाये तथा निगरानी टीम के माध्यम से डोर टू डोर ओआरएस, ग्लूकोज, क्लोरिन की गोलियां वितरित कराई जाये और साथ ही साथ मोबाईल यूनिट के द्वारा लोगों के जांच हेतु सैपल लिए जाये और आवश्यक मेडिसीन किट वितरित कराई जाये पंचायतीराज विभाग द्वारा साफ सफाई, फोगिंग व एण्टी लार्वा का नियमित छिडकाव कराया जाये। इसके साथ ही साथ मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया गया कि पशुओं के लिए भूसा व दवाईयां की नियमित उपलब्धता सुनिश्चित की जाये। 

    शाही ने निर्देशित किया गया  किया  कि जिन बाढ पीड़ितों के मकान गिर गये हैं उनकी शीघ्र ही सूची तैयार कर प्रेषित की जाये जिससे की पीड़ित व्यक्तियों को आवास दिया जा सके और जिन किसान भाईयों की फसल नष्ट हो गई है, उसका सर्वेक्षण कर रिपोर्ट तत्काल प्रेषित की जाये जिससे किसानों को हुये नुकसान का मुआवजा उपलब्ध कराया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लाभार्थियों को उनके नुकसान का नियमानुसार अधिक से अधिक लाभ प्रदान किया जाये।

    बिजली व्यवस्था को ठीक कराते हुये पूर्ति सुनिश्चित की जाये। इसके साथ ही साथ समस्त को निर्देशित किया गया कि प्रभावित ग्रामों में जिला प्रशासन, जनप्रतिनिधियों व समाजसेवियों के माध्यम से लोगों को प्रकाश व्यवस्था हेतु जनरेटर, टार्च, कपडे, भोजन, पेयजल आदि की समस्त व्यवस्थाऐं उपलब्ध कराई जाये। 

    समीक्षा बैठक में भाजपा जिलाध्यक्ष  संजीव प्रताप सिंह, विधायक सदर संजय सिंह गंगवार,  विधायक बरखेडा  किशनलाल राजपूत,  विधायक पूरनपुर  बाबूराम पासवान, पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी, मुख्य विकास अधिकारी  प्रशान्त कुमार, अपर जिलाधिकारी (वि./रा.)  कुंवर बहादुर सिंह, अपर जिलाधिकारी (न्यायिक)  देवेन्द्र प्रताप मिश्र, अपर पुलिस अधीक्षक, सम्बन्धित उप जिलाधिकारी, नगर मजिस्ट्रेट  अरूण कुमार, जिला कृषि अधिकारी सहित जनपद स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।


    कुंवर निर्भय सिंह

    Initiate News Agency(INA), पीलीभीत

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.