Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लखीमपुर खीरी। गौरीफंटा बॉर्डर पर रोडवेज के राजस्व को चूना लगा रहे डग्गामार वाहन

    लखीमपुर खीरी। इंडो नेपाल बॉर्डर पर इन दिनों दलालों के द्वारा प्रवासी मजदूरों के साथ जमकर मन माना किराया वसूल करते हुए शोषण करने का काम किया जा रहा है और पुलिस महकमा मौन साधे हुए हैं। गौरीफंटा बॉर्डर पर सुबह सात बजे से ही डग्गामार वाहनों का जमावडा लगना सुरू हो जाता है। नियम-कानून ताक पर रख कर दलाल खुलेआम गौरीफंटा चौकी व रोडवेज बस के ठीक सामने डग्गामार वाहनों द्वारा सवारी भरने का सिलसिला लगा रहता है। यह सब पुलिस के साथ साथ बार्डर पर बैठी तमाम सुरक्षा एजेंसियों के सामने होता है। लेकिन कोई भी अधिकारी इस तरह की हो रही अवैध वसूली पर कार्रवाई करना अपनी जिम्मेदारी नही समझते, यही नहीं अगर कोई प्रवासी मजदूर इन दलालों के खिलाफ आवाज उठाता है, तो पुलिस को बुलाकर डरा-धमका कर शान्त करा दिया जाता है। 

    डग्गामार वाहनों का यह आतंक कई दिनों से चल रहा है और परिवहन निगम की व्यवस्था को बिगाड़ती जा रही है। इन वाहनों के संचालन से डिपो को प्रत्येक माह करीब 60 लाख की आर्थिक क्षति हो रही है। इन डग्गामार वाहनों का हौसला इस कदर बुलंद है कि सवारी भरने के लिए रोडवेज से यात्रियों को भी बुलाकर बैठाते है। यही कारण है कि टकराव की स्थिति बनी रहती है। कई बार अधिकारियों का दौरा हुआ और सख्त निर्देश दिए गए लेकिन पुलिस विभाग के कानों में जूं तक नहीं रेंगी और खुलेआम दलालों को बढ़ावा देने का कार्य किया गया। अब देखना होगा कि उच्च अधिकारी गौरीफंटा बॉर्डर पर हो रही दलाली को रोक पाने में कितना कारगर साबित होते है।

    शहनवाज़ गौरी

    Initiate News Agency (INA), लखीमपुर खीरी

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.