Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अलीगढ़। साध्वी प्राची का बयान, दिवाली सड़कें पटाखे फोड़ने के लिए नहीं हैं तो मुसलमान सड़क पर नमाज अदा भी नहीं कर सकते

    अलीगढ़। विश्व हिंदू परिषद की हिंदूवादी नेता साध्वी प्राची ने अलीगढ़ जिले के टप्पल में हिन्दू जागरण अभियान के तहत एक कार्यक्रम में भाग लेने के दौरान एक फिल्म अभिनेता का नाम लिये बगैर कहा कि जब सड़क पर पटाखे नहीं जला सकते हैं। तो देश की सड़कों पर नमाज भी नहीं अदा होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि एक अभिनेता सुर्खियों में है क्यों कि उनका बेटा ड्रग्स केश में फंसा है। जिन्होंने कहा था कि हिंदुस्तान की सड़कें पटाखे फोड़ने के लिए नहीं है। सड़कों को खुली छूट देनी चाहिए। ताकि सफर करें।

    इसके साथ ही साध्वी प्राची ने दीपावली आने के मौके पर कहा कि हिंदुस्तान की सड़कें पैदल चलने और सफर करने के लिए बनाई गई है। लेकिन हम इसे स्वीकार करते हैं और पटाखे अपने घरों में फोड़ लेंगे। देश की सड़कों पर सफर होना चाहिए। गाड़ियां चलनी चाहिए। लेकिन सड़क पर नमाज नहीं होनी चाहिए। यह बंद होना चाहिए।

    साध्वी प्राची (हिन्दूवादी नेता)

    साध्वी प्राची ने कहा कि कुछ लोग मेरे बयान को विवादित बना देते हैं लेकिन मैं सच को सच कहती हूं और यह मेरा धर्म है। जो कि मैंने भगवा धारण किया है। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान को संस्कार देने का काम संत समाज का है। लेकिन हीरो इसे बिगाड़ने का काम कर रहे हैं।

    करवा चौथ का व्रत पतिव्रता नारी करती है कोई रखैल करवा चौथ नहीं

    सोशल मीडिया पर करवा चौथ को लेकर दुष्प्रचार को लेकर भी साध्वी प्राची चुप नहीं रही। उन्होंने दुष्प्रचार करने वाली महिला का नाम न लेते हुए कहा कि एक महिला करवा चौथ व्रत को ढकोसला बता रही है। साध्वी प्राची ने कहा कि करवा चौथ का व्रत तो पतिव्रता नारी ही करती है कोई रखैल करवा चौथ नहीं कर सकती। साध्वी प्राची ने कहा कि हिंदू समाज पर समय-समय पर कुठाराघात किया गया है। हिंदू संस्कृति की रक्षा संतों की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि संत समाज हिंदू धर्म, संस्कृति और संस्कारों को बचाने का कार्य कर रहे हैं।

    Initiate News Agency (INA) , अलीगढ़

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.