Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शाहजहांपुर। नवरात्र में महंगा हुआ माता का "प्रसाद"

    --अनार, सेब व केला के दामों में अधिक बढ़ोतरी 

    शाहजहांपुर। शक्ति स्वरूपा की आराधना के विशेष पर्व नवरात्र पर देवी मां का प्रसाद और भोग भी महंगा हो गया। हालांकि इससे आस्था पर कोई फर्क नहीं पड़ा है, लेकिन फलों पर अचानक आई महंगाई से भक्तों की जेब पर लोड बढ़ गया है। 

    इस बार नवरात्र में फलों के दामों में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है। नवरात्र का महोत्सव हर सनातनधर्मी के घर में मनाया जा रहा है। माता के उपासक नौ दिन तक केवल फल व मेवा के सहारे व्रत रहकर पूजा-पाठ करते हैं। प्रतिदिन सुबह शाम मातारानी का भोग भी लगाया जाता है। 

    इसमें मिष्ठान कम और फलों का प्रयोग अधिक होता है। कारण, फल का वितरण प्रसाद के रूप में कर दिया जाता और उसे उपवास रखने वाले श्रद्धालु भी खा लेते हैं, जबकि दुकानों पर बनी मिठाई से परहेज करते हैं। इससे लगातार फलों के दामों में बढ़ोतरी हो रही है। 

    दस दिन पहले जो फल 60 से 80 रुपये किलो मिलता था, वही फल अब 100 से 140 रुपये किलो बिकने लगा है। सबसे ज्यादा महंगाई केला, अनार व सेब पर हुई है, जबकि मुसम्मी व पपीता के दाम 10 से 20 रुपये तक बढ़ोत्तरी हुई हैं।

    इस तरह बढ़े फलों के दाम

    फल - पहले - अब

    सेब - 60-100 रुपये प्रति किलो

    केला - 40-60 रुपये दर्जन

    अनार - 100-140 रुपये प्रति किलो

    हरा नारियल - 40-70 रुपये पीस

    पपीता - 60-80 रुपये किलो

    मुसम्मी- 60-80 रुपये किलो


    फ़ैयाज़ उद्दीन 

    Initiate News Agency(INA), शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.