Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद। आयोग ने तीन सप्ताह में मजिस्ट्रेट जांच कर पूरी कर रिपोर्ट भेजने के दिये आदेश

     ---थीथकी के जीशान हैदर की मौत का मामला पहुंचा राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग में

    देवबंद। क्षेत्र के ग्राम थीथकी में बीते  5 सितंबर को संदिग्ध हालात में गोली लगने से हुई जीशान हैदर की मौत का मामला अब राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग में पहुंच गया है। आयोग ने  अब इस प्रकरण में  मजिस्ट्रेट जांच के आदेश देते हुये तीन हफ्ते के अंदर इस पूरे मामले की रिपोर्ट भेजने का भी आदेश दिया गया है।

    मृतक की पत्नी अफरोज ने राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग में पुलिस पर अपने पति जीशान की हत्या करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। जिसका संज्ञान लेते हुए आयोग के अवर सचिव राशिद सईद ने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर मामले में उचित कार्रवाई करने के लिए एसडीएम स्तर की कमेटी बनाकर जांच कराए जाने को आदेशित किया है। 

    साथ ही यह भी कहा है कि मामले में अब तक की गई कार्रवाई तथ्यों सहित 21 दिन के भीतर आयोग को भेजी जाए। उल्लेखनीय है कि विगत 5 सितंबर को गोैकशी की सूचना पर पुलिस ने आधी रात के समय थीतकी गांव के जंगल में छापामारी की थी। 

    इस दौरान सपा शासन में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री रहे सैयद ईसा रजा के तहेरे भाई जीशान हैदर के पैर में गोली लगी थी और उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई थी। पुलिस का कहना था कि भागते समय स्वयं के हाथ में लिए तमंचे से चली गोली जीशान के पैर में लगी और दहशत के चलते उसकी मौत हो गई। 

    जबकि मृतक के पत्नी अफरोज का आरोप था कि पुलिस पति को घर से बुलाकर ले गई और सुबह उसकी मौत की खबर मिली। इस मामले में अफरोज ने तीन उपनिरीक्षकों सहित 13 पुलिसकर्मियों पर हत्या का आरोप लगाया हुआ है। 

    पूरे मामले की सहारनपुर क्राइम ब्रांच तथा मुजफ्फरनगर के एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गी जांच कर रहे हैं। शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना यासूब अब्बास भी इस मामले में मुख्यमंत्री से निष्पक्ष जांच तथा दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर चुके हैं।


    Initiate News Agency(INA), देवबंद

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.