Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    उन्नाव। आर एस एस का स्कूल है तो भाजपा सरकार में नही होगी कारवाई

    ...... तीन माह की फीस बकाया होने पर प्रिंसिपल द्वारा अपशब्द कहे जाने पर क्षुब्ध होकर छात्रा ने लगाई थी  फांसी।

    ....... लगभग दो माह के बाद भी नही मिला है पीड़ित माता पिता को न्याय।

    उन्नाव। जनपद उन्नाव के रसूलाबाद का है जहां के सुशील कुमार अवस्थी पुत्र स्वर्गीय शिव कुमार निवासी आदर्श नगर थाना कोतवाली सदर जिला उन्नाव में किराए पर रहते हैं इनकी इकलौती संतान पुत्री स्मृति अवस्थी सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज एबी नगर उन्नाव में 10वीं की छात्रा थी प्रार्थी की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है जिसके चलते वह फीस नहीं भर पाया था प्रार्थी गत वर्ष कोरोना काल की वजह से करीब 3 माह की फीस विद्यालय में जमा नहीं कर पाया जिसके कारण स्कूल प्रधानाचार्य ने पीड़ित की पुत्री स्मृति अवस्थी को परीक्षा में सम्मिलित नहीं होने दिया और उसे डांटा जिससे क्षुब्ध होकर बिटिया ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी जिसके बाद लगातार पीड़ित पिता अपने परिवार के साथ न्याय की गुहार लगा रहा है अब तक पीड़ित पिता न्याय के लिए मुख्यमंत्री, कानून मंत्री, सांसद, विधायक, डीएम, एसपी, सहित तमाम आला अधिकारियों से मिला किंतु अब तक कोई भी न्याय की उम्मीद नहीं दिखती नजर आ रही है पिता का कहना है यह आर एस एस का स्कूल है इसलिये भाजपा सरकार में इस स्कूल पर कोई कारवाई नही होगी, अब ऐसे में कब पीड़िता को न्याय मिलेगा यह तो आने वाला समय बताएगा । 


    लेकिन इस पूरे प्रकरण को लेकर पापा संगठन के राष्ट्रीय संयोजक दीपक सिंह सरीन पहुंचे पीड़ित परिवार से मिलने जिन्होंने पीड़ित परिवार की व्यथा को सुना और उसे ढांढस बताते हुए कहा कि आप निश्चिंत रहिए हर हाल में आपको न्याय दिलाया जाएगा टीम पापा आपके साथ खड़ी है हर हाल में आप को न्याय दिलाने के लिए हम शासन-प्रशासन की ईट से ईट बजाने का काम करेंगे । इस दौरान राष्ट्रीय संयोजक दीपक सरीन ने फोन पर केंद्रीय कानून एवं न्याय मंत्री प्रो एसपी सिंह बघेल से की बात और उन्हें पूरे मामले से अवगत कराते हुए उन्हें कहा कि इस मामले को त्वरित संज्ञान में लेते हुए दोषियों के खिलाफ कारवाई की जाए अन्यथा अभिभावक पीडितको न्याय दिलाने के लिये सड़क पर उतरेंगे।

    Initiate News Agency (INA) , उन्नाव

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.