Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    लखीमपुर-खीरी: प्रमुख सचिव ने किसानों से की सीधी बातचीत, सुनी समस्याएं, दिए निर्देश

    लखीमपुर-खीरी: मंगलवार को प्रमुख सचिव, खाद्य एवं रसद उप्र वीना कुमारी मीणा औचक रूप से धान खरीद में किसानों को आ रही दिक्कतों को जानने एवं उसके समाधान हेतु जनपद खीरी पहुँची। उनके साथ लखनऊ से पीसीएफ के एमडी मासूम अली सरवर, पीसीयू एमडी मनोज कुमार द्विवेदी, यूपीएसएस एमडी राजीव यादव व आरएफसी लखनऊ संतोष कुमार भी आए।

    प्रमुख सचिव ने कहा कि किसान को क्रय केंद्रों पर धान बेचने में कहां समस्या आ रही, वह इसे जानने व इसके समाधान के लिए खीरी आई है। किसानों को खरीद में ज्यादा से ज्यादा फैसिलिटेट करके सरकार की मंशा के अनुरूप उनकी हर संभव मदद की जाएगी। जिले में अबतक 11 हजार किसानों ने धान बेचने हेतु अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। जिन्हें फैसिलिटेट कराने हेतु अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए है। 

    सर्वप्रथम प्रमुख सचिव खाद एवं रसद वीना कुमारी मीणा लखनऊ के अफसरों के साथ जिला मुख्यालय पर स्थिति कृषि उत्पादन मंडी समिति राजापुर पहुँची। जहां उन्होंने डिप्टी आरएमओ से धान की आवक की जानकारी ली। मार्केटिंग के क्रय केंद्र पर ग्राम सिंघानिया के किसान हाफिज के धान के ढेर की नमी नपवाई, जो 20 प्रतिशत मिली। उन्होंने निर्देश दिए कि धान को सुखाकर आज शाम तक खरीद करे। 

    उन्होंने विपणन शाखा के क्रय केंद्र पर अपना धान बेचने आए बरकुडा निवासी किसान लवप्रीत से बातचीत कर टोकन जनरेशन में कोई असुविधा तो नहीं हुई, की जानकारी ली। उन्होंने खरीद में और सुधार लाने के लिए किसानों से सुझाव मांगे। पीसीयू के सीएमएस क्रय केंद्र के प्रभारी शंभू दयाल से पूछा कि अब तक उन्होंने कितने किसानों से बात की। उन्होंने पंजीकरण कराने वाले किसानों की संख्या एवं उसके सापेक्ष जारी टोकन की जानकारी ली। 

    उन्होंने निर्देश दिए कि खाली स्लॉट के सापेक्ष टोकन जनरेशन कराए। मंडी समिति के क्रय केंद्र के गोडाउन में धान के भंडारण मिलने पर नाराजगी जताई, उसे तत्काल यथास्थान भिजवाने के निर्देश दिए। पीसीयू एसएस रजागंज के क्रय केंद्र पर केंद्र प्रभारी रोहित सिंह ने पूछने पर बताया कि अब तक 200 कुंतल की तौल हुई है। इस दौरान धौराहरा खुर्द निवासी किसान सुखविंदर सिंह के पिता धान की तोल कराते मिले। 

    प्रमुख सचिव ने निर्देश दिए कि यदि किसान वास्तविक है तो उसकी तत्काल खरीद की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि खीरी जनपद की सभी मंडियों में स्थापित क्रय केंद्रों में कांटो की संख्या दो गुनी की जाए। मंडी समिति के क्रय केंद्र प्रभारी प्रमोद कुमार गुप्ता को पंजीकरण करने वाले किसानों से बातचीत करने के निर्देश दिए। 

    टेलीफोन के जरिए उनसे पूछें पंजीकरण के बाद उन्होंने अबतक टोकन जनरेट क्यों नहीं कराया और वह कब तक अपना धान लाएंगे। प्रमुख सचिव ने डिप्टी आरएमओ को निर्देश दिए कि सभी पंजीकृत 11 हजार  किसानों की सूची निकलवा कर उनसे बात कर टोकन जनरेट कराकर उनकी खरीद कराई जाए। 

    निरीक्षण के दौरान यूपीएसएस फूलबेहड़ के सेंटर पर किसान करमजीत कौर की तोल होती मिली। पीसीयू प्रथम के प्रभारी सौरभ सिंह की निघासन के ग्राम बैरिया निवासी तरसेम सिंह ने उनका धान खरीदने में हीलाहवाली करने की बात कही। 

    किसान ने कहा कि उसका धान मंडी में ही स्थापित अन्य सहकारिता के ही क्रय केंद्र पर खरीद हो चुकी। प्रमुख सचिव ने संदर्भित प्रकरण में एआर कोऑपरेटिव को जांच करने हेतु कहा। एफसीआई के सेन्टर पर किसान राजवीर सिंह प्रधान डस्टर के जरिए जाना जा रहा था। किसान ने पूछने पर कोई असुविधा नहीं होने की बात कही।

    निरीक्षण के दौरान डीएम डॉ अरविंद कुमार चौरसिया, एडीएम संजय कुमार सिंह, एसडीएम सदर राजेश कुमार, डिप्टी आरएमओ डॉ लालमणि पांडेय, सहायक आयुक्त एवं निबंधक सहकारिता सूर्य नारायण मिश्रा, मंडी सचिव समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

    इसके बाद प्रमुख सचिव तहसील गोला में स्थापित कृषि उत्पादन मंडी समिति पहुंची। जहां उन्होंने साधन सहकारी समिति गोला मंडी, जूट संघ गोला मंडी, एफसीआई, गोला मंडी प्रथम विपणन शाखा, पीसीयू गोला मंडी, सीएमएस लखीमपुर गोला मंडी क्रय केंद्र देखे। उन्होंने सभी क्रय केंद्र प्रभारियों से टोकन जनरेशन के सापेक्ष आने वाले किसानों की संख्या जानी। 

    टोकन के बाद किसानों को मंडी ना आने का कारण पूछा। इस दौरान उन्होंने किसान आशुतोष वर्मा, त्रिलोक सिंह, बलजिंदर सिंह, संतोष सिंह, अमरजीत सिंह मोहन सिंह जसपाल सिंह से बातचीत कर उनकी समस्याएं जानी और उनके निस्तारण हेतु संबंधित को जरूरी निर्देश दिए। 

    इस दौरान एडीएम संजय कुमार सिंह, एसडीएम गोला अखिलेश यादव, डिप्टी आरएमओ डॉ लालमणि पांडेय, सहायक आयुक्त एवं निबंधक सहकारिता सूर्य नारायण मिश्रा, मंडी सचिव समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।


    Initiate News Agency(INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.