Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: अन्नदाता किसानों की समस्या हल होने तक किसानों का संघर्ष जारी रहेगा: भगत सिंह वर्मा।

    देवबंद: सोमवार को पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा कार्यालय पर एक बैठक को संबोधित करते हुए पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भगत सिंह वर्मा ने कहा कि भाजपा की केंद्र और प्रदेश सरकार किसान वह गरीब विरोधी है।

    उन्होने कहा कि कृषि प्रधान देश भारतवर्ष में अन्नदाता किसान सरकार की गलत नीतियों के कारण कर्ज बंद होकर आत्महत्या कर रहे हैं जो दिल्ली में बैठे हुए नेताओं के लिए बहुत शर्मनाक है उन्हें इस पर चिंतन करना चाहिए। 

    पहले से ही अन्नदाता किसान भारी आर्थिक संकट से जूझ रहा था इसके बावजूद भाजपा की मोदी सरकार ने तीन कृषि काले कानून लाकर किसानों में देश को बर्बाद करने का कार्य किया है देश के अन्नदाता किसानों को उनकी फसलों का लाभकारी मूल्य नहीं मिल रहा है। 

    भगत सिंह वर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश व देश के गन्ना किसान भारी आर्थिक संकट में हैं गन्ने का लाभकारी रेट कम से कम 600 कुंटल किया जाए चीनी मिलों से पिछले वर्ष का बकाया गन्ना भुगतान किसानों को दिलाया जाए। 

    पिछले वर्षों में देरी से किए गए गन्ना भुगतान पर लगा ब्याज गन्ना किसानों को चीनी मिलों से सरकार तुरंत दिलाएं चीनी मिलों से ब्याज का भुगतान कराने के लिए माननीय हाईकोर्ट में माननीय सुप्रीम कोर्ट ने आदेश किए हुए हैं। 

    बैठक में विनोद सैनी, सरदार गुरविंदर सिंह, बंटी, वीरेंद्र सिंह, बिल्लू, रविंद्र चैधरी, प्रधान नीरज सैनी, प्रधान सुधीर चैधरी, पूर्व जिला पंचायत सदस्य संजय चैधरी, हाजी सुलेमान, मोहम्मद वसीम, मोहम्मद फारुख, मोहम्मद यासीन त्यागी, मोहम्मद याकूब, महबूब हसन, बुद्धू हसन, धन प्रकाश त्यागी, सुभाष त्यागी, नैन सिंह सैनी, रविन्द्र गिल, विजयपाल सिंह, सुभाष चैधरी, संजय त्यागी, आदेश.


    Initiate News Agency(INA), देवबंद

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.