Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सम्भल। धूमधाम से मना ईद मिलादुन्नबी का पर्व, अकीदतमंदों ने की तबर्रुकात की ज़ियारत

    सम्भल। कोरोना महामारी की गाइडलाइन को देखते हुए ईद मिलादुन्नबी का त्यौहार बड़े ही सादे अंदाज में मनाया गया। सारा वातावरण सरकार की आमद मरहबा से गूंज उठा। अकीदतमंदों ने तब तबर्रुकात की ज़ियारत कर मुल्क व कौम की तरक्की को दुआ मांगी।


    पैगंबर-ए-इस्लाम की यौम-ए-पैदाइश का पर्व ईद मिलादुन्नबी मंगलवार 19 अक्टूबर को बड़े अकीदत के साथ मनाया जा रहा है। सोमवार से ही जगह-जगह महफिल-ए-मिलाद की तैयारियां चलती रहीं है। घरों, मस्जिदों में मिलाद की महफिल, कुरआन ख्वानी, फातिहा ख्वानी, नात ख्वानी शुरू हो चुकी है। मस्जिदों और दरगाहों को फूलों, झालरों, गुब्बारों आदि से सजाया गया है। मिलादुन्नबी यानी इस्लाम के संस्थापक पैगंबर मोहम्मद साहब का जन्मदिन रबीउल अव्वल महीने की 12 तारीख को मनाया जाता है। मक्का शहर में 571 ईसवी को पैगम्बर साहब हजरत मुहम्मद सल्ल. का जन्म हुआ था। इसी की याद में ईद मिलादुन्नबी का पर्व मनाया जाता है। इसी क्रम में सम्भल में भी ईद मिलादुन्नबी का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। 


    ईदो की ईद, ईद मिलादुन्नबी पर उलेमा गाड़ियों से तबर्रुकात लेकर दीपा सराय चौक पहुँचे। जहाँ पर जलसे का आयोजन करते हुए अकीदतमंदों को तबर्रुकात की ज़ियारत कराई गई। दीपा सराय चौक का सारा वातावरण सरकार की आमद मरहबा के नारों से गूंज उठा। अकीदतमंदों ने तबर्रुकात की ज़ियारत कर मुल्क व क़ौम की तरक्की को दुआएं मांगी।

    उवैस दानिश

    Initiate News Agency (INA), सम्भल

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.