Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कानपुर। डिपो में ट्रायल के दौरान मेट्रो, कानपुर की सरजमीं पर पहली बार चली मेट्रो, सिग्नल और दरवाजों का भी हुआ परीक्षण

    कानपुर। मेट्रो को पहली बार शहर की धरती पर चलाकर देखा गया। असेंबलिंग एरिया से निकाल कर सोमवार को उसे डिपो के अंदर ही ट्रैक पर चलाया गया। इसके साथ ही सिग्नल के साथ रुकने, चलने का परीक्षण करने के साथ ट्रेन के अंदर से ही इसके दरवाजे खोलने और बंद करने की चेकिंग की गई। पिछले माह के अंत में मेट्रो की पहली ट्रेन के कोच कानपुर आए थे। इन तीनों कोच को उसी समय उतार कर असेंबलिंग एरिया के अंदर ले जाया गया था। इसके बाद से इसके तमाम पुर्जों को असेंबल करने का कार्य चल रहा था। साथ ही ट्रेन के विभिन्न उपकरणों की चेकिंग की गई। सारी चेकिंग पूरी करने के बाद सोमवार को इसे चलाकर देखने के लिए असेंबलिंग एरिया से बाहर लाया गया। इसे डिपों के अंदर ही ट्रैक पर चलाया गया। शाम से रात तक मेट्रो को ट्रैक पर अलग-अलग स्पीड पर चलाकर देखा जाता रहा। 


    डिपो में आज से करंट की आपूर्ति शुरू हो जानी थी, इसलिए आज मेट्रो ट्रेन को चलाने का समय तय किया गया था लेकिन रिसीविंग सब स्टेशन सोमवार को शुरू नहीं हो सका और दो जेनरेटर के करंट से मेट्रो को चलाया गया। मेट्रो को यूं तो अधिकतम 80 किलोमीटर की रफ्तार पर चलाया जाता है, लेकिन मुख्य रूट पर परीक्षण के दौरान इसे 90 किलोमीटर तक की रफ्तार तक चलाया जाएगा। सोमवार को पहले ट्रायल में मेट्रो की गति पांच, 10 और 15 किमी रही। डिपो के अंदर इसे अधिकतम 30 किमी की रफ्तार से चलाया जाएगा। 


    यूपीएमआरसी  द्वारा काफी तेज और व्यवस्थित तरीके से मेट्रो का कार्य कराया जा रहा है ऐसे में इस बात से इन्कार नहीं किया जा सकता कि कनपुरियों को दीपावली पर मेेट्रो का तोहफा मिल सकता है। कानपुर में मेट्रो के पहले सफल ट्रायल पर एमडी कुमार केशव ने बधाई दी है।

    इब्ने हसन ज़ैदी

    Initiate News Agency (INA) , कानपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.