Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ग़ाज़ीपुर: हरी साग-सब्जी खाएं, बीमारियों को दूर भगाएँ

    ग़ाज़ीपुर: राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत बच्चों, गर्भवती व धात्री को सुपोषित करने के लिए जागरूक किया जा रहा है।  जिला कार्यक्रम अधिकारी दिलीप कुमार पांडे ने बताया कि हरी पत्तेदार सब्जियों में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं। इनके नियमित सेवन से कई बीमारियों से बचा सकता है।  जो लोग इनको पसंद नहीं करते वह इनके फायदे जानेंगे तो आहार में शामिल जरूर करेंगे। 

    हरा साग हर सीजन में खाना चाहिए, लेकिन इनकी तासीर गर्म होती है। इसलिए सर्दियों में इन्हें खाने से बहुत फायदे मिलते हैं। ज्यादातर लोग सरसों का साग, मेथी का साग और पालक खाना ही पसंद करते हैं, लेकिन बाजार में और भी कई तरह के साग मिलते हैं, जो सेहत के लिए बहुत अच्छे हैं और लोगों को कई बीमारियों से भी बचाते हैं | 

    शेरपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के आयुष चिकित्सा अधिकारी डॉ अमित गुप्ता ने बताया कि कलमी साग के  सेवन से वजन कम किया जा सकता है । यह भारत में काफी मशहूर है। यह कम कैलोरी वाला साग विटामिन, एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स से भरपूर है। इतना ही नहीं आयरन की कमी से होने वाले ऑस्टियोपोरोसिस और एनीमिया को रोकने में भी यह कारगर है|

    सहजन का सेवन -  डॉ गुप्ता ने बताया कि सहजन के पत्ते विटामिन, प्रोटीन और अमीनो एसिड से भरपूर होते है. इसके सेवन से गठिया, डायबिटीज, दिल संबंधी बीमारी, सांस संबंधी बीमारी, त्वचा और पाचन की समस्याएं आसानी से दूर होती हैं।

    पालक का साग- पालक में आयरन, कैल्शियम और मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है. इसका सेवन त्वचा, हड्डियों और बालों को स्वस्थ रखता है. सर्दियों में इसका सेवन करने से बीमारियां कम होती हैं. डायबिटीज के लोगों को अक्सर पालक खाने की सलाह दी जाती है.क्योंकि यह मधुमेह को नियंत्रित रखता है।

    मेथी साग का सेवन - मेथी सेहत के लिए बेहद लाभकारी है। मेथी के  साग से पराठे भी बनाए जाते हैं. इस लो कैलोरी वाले पत्तेदार साग में ट्राइगोनेलिन और डायोसजेनिन जैसे एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने में मददगार होते हैं. वजन कम करने में भी यह साग आपकी मदद कर सकता है.

    बथुए का साग-बथुआ में पाटेशियम, फॉस्फोरस, जिंक, कैल्शियम और अन्य एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होते हैं. यह साग ब्लड प्यूरीफायर का काम करता है. इसमें मौजूद अमीनो एसिड के कारण यह पचने में आसान है. इसके नियमित सेवन से कई बीमारियों से दूर रह सकते हैं।


    Initiate News Agency (INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.