Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अमरोहा : बाल बन्दी ग्रह में थर्ड डिग्री से मौत का आरोप

     अमरोहा : यूपी के बुलंदशहर में आज बाल सुधार गृह में एक बाल बन्दी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक बाल बन्दी के परिजनों ने बन्दी ग्रह प्रशासन पर थर्ड डिग्री देने का आरोप लगा सनसनी फैला दी है। हालांकि प्रशासन ने सभी आरोपों को नकारते हुए बाल बन्दी की मौत को सुसाइड करार दिया है। आपको बता दें कि अमरोहा जनपद के गजरौला थाना क्षेत्र के मोहल्ला सुल्तान नगर निवासी रोहित की बाल बन्दी ग्रह में  संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मौत का कारण प्रशासन की ओर से सुसाइड बताया गया है। हालांकि बाल बन्दी रोहित ने सुसाइड क्यों किया इसका जवाब किसी के पास नहीं है। रोहित को लड़की भगा ले जाने के जुर्म में बाल बन्दी ग्रह में 30 जुलाई को लाया गया था। बाल बन्दी ग्रह से 16 अगस्त को रोहित और अन्य चार बन्दी बाल बन्दी ग्रह का ताला तोड़कर फरार हो गए थे। 18 अगस्त को रोहित ने हापुड़ जुविनाइल कोर्ट में सरेंडर किया था। हापुड़ जुविनाइल कोर्ट में सरेंडर करते समय रोहित के पिता ने बाल बन्दी ग्रह प्रशासन पर रोहित को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था, साथ ही कोर्ट से प्रताड़ित नहीं करने की गुहार भी लगाई थी। इसके बाद रोहित को फिर से बुलंदशहर बाल बन्दी ग्रह लाया गया। वहीं रोहित के परिजनों ने बाल बन्दी ग्रह प्रशासन पर रोहित को थर्ड डिग्री देने का आरोप लगाया है। इतना ही नहीं परिजनों का दावा है कि रोहित को बन्दी ग्रह के स्टाफ से जान का खतरा बना हुआ था। 

    सरदार सिंह, मृतक का पिता
    जिसकी रोहित ने आशंका भी जाहिर की थी। रोहित के पिता की मानें तो बाल बन्दियों ने बन्दी ग्रह के स्टाफ की शह पर रोहित के साथ मारपीट की थी। जिससे उसकी कोल्हे की हड्डी और पसलियां भी टूट गई थी। परिजनों के मुताबिक बन्दी ग्रह प्रशासन रोहित से इस वजह से नाराज रहता था, क्योंकि वह अपने परिजनों से बन्दी ग्रह के स्टाफ के आचरण की शिकायत करता था। वहीं, फिलहाल परिजनों के आरोप के आधार पर डीएम बुलंदशहर रविन्द्र कुमार ने सिटी मजिस्ट्रेट को मामले की जांच सौंप दी है, ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। वहीं मृतक बाल बन्दी का शव पोस्टमार्टम हाउस पहुंच गया है।

    एम हारिस

    Initiate News Agency (INA), 


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.