Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कासगंज: अपनी नाकामियों को छुपाने में जुटा स्वास्थ्य विभाग , अब जिले में प्राइवेट पैथोलॉजी से नहीं करा सकेंगे डेंगू की जांच।

    कासगंज: कासगंज जनपद के तहसील पटियाली के गंजडुंडवारा क्षेत्र में इन दिनों बुखार से हालत बेहद खराब होते हुए नजर आ रहे है। क्योंकि कासगंज जनपद के तहसील पटियाली क्षेत्र के गंजडुंडवारा क्षेत्र में दिनवा दिन बुखार का प्रकोप बढ़ रहा है और लोग इस बेरहम बुखार से काल के गाल में समा रहे है। 

    वही सीएमओ डॉ अनिल कुमार ने जनपद के सभी पैथोलॉजी लेबो को डेंगू की जांचे ना करने के कड़े निर्देश दे दिए है। ओर बुखार के बढ़ते प्रकोप पर स्वास्थ्य महकमा हालातो पर काबू पा लेने के झूठे दावे करता हुआ नजर आ रहा है। वही गंजडुंडवारा की पैथोलॉजी लेबो पर रोजाना तीन सौ से चार सौ लोगो की बुखार की जांचे की जा रही है। 

    आपको बतादे कासगंज जनपद के तहसील पटियाली ओर गंजडुंडवारा क्षेत्र में बुखार से अब तक करीब 20 से अधिक लोगो की मौते हो चुकी है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग अपने रिकॉर्ड में जनपद में किसी की भी मौत बुखार से होना नही मांन रहा है। 

    आपको बतादे जब हमने बुखार के प्रकोप की स्थिति जानने के लिए आज गंजडुंडवारा कस्वे में संचालित पैथोलॉजी लेबो के संचालको से हकीकत जानना चाहा तो पता चला कि गंजडुंडवारा में करीब 15 पैथोलॉजी लेब संचालित है। और पैथोलॉजी लेबो के संचालको ने बताया कि एक पैथोलॉजी लेब पर करीब रोजाना 15 से 30 मरीज बुखार से सम्बंधित अपनी जांचो के लिए आ रहे है मतलब जांचे कराने वाले मरीजों के आंकड़े देखे जाए तो रोजाना करीब 400 लोग अपनी जांचे करा रहे है। 

    इससे हकीकत पता चलती है कि गंजडुंडवारा में बुखार ने पूरी तरह से अपने पांब पसार रखे है। वही जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने पैथोलॉजी लेब संचालको को कड़े निर्देश दिए है कि कोई भी पैथोलॉजी लेब संचालक अपनी लेब पर डेंगू की जांच नही करेगा ये सब जांचे जिला अस्पताल में होंगी

    आपको बतादे गंजडुंडवारा में बुखार से हुई मौतों से स्वास्थ्य महकमे ने अपनी नाकामी छिपाने ओर डेंगू से हुई मौतों के आंकड़ो को छिपाने के लिए गंजडुंडवारा के पैथोलॉजी लेब संचालको को डेंगू की जांचे ना करने के निर्देश दिए है। 

    वही बीते चार दिन पूर्व गंजडुंडवारा में पैथोलॉजी लेब संचालको के खिलाफ डेंगू की जांचे करने की शिकायत पर सीएमओ ने गंजडुंडवारा की करीब आधा दर्जन पैथोलॉजी लेबो पर छापामार कार्यवाही की ओर बताया कि लेबो पर कमिया मिली है जिन्हें नोटिस दिए गए है और दो दिनों का समय दिया गया है कमिया मिलने पर पैथोलॉजी लेबो पर कार्यवाही की जाएगी। 

    लेकिन सीएमओ डॉ अनिल कुमार के दावे हवा हवाई हुए और पैथोलॉजी लेबो को दिए गए नोटिस की जांचे कागजो तक सिमट गई और अपनी नाकामी छिपाने के लिए पैथोलॉजी लेबो को डेंगू की जांचे ना करने के निर्देश जारी कर दिए।


     अतुल यादव कासगंज 

    Initiate News Agency (INA)


    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.