Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    कासगंज: चार हत्याओं के चर्चित मामले में चार्जशीट की तैयारी में कासगंज पुलिस।

    कासगंज: महिला सिपाही प्यार में पागल सिरफिरे आशिक ने पत्नी और बच्चों की पहले नोएडा में हत्या कर दी थी, बाद में पहचान छुपाने के लिए कासगंज वापस आया और अपने दोस्त की हत्या कर दी । हत्या के बाद अपने कपड़े उसे पहना दिए, तथा उनका चेहरा बुरी तरफ क्षतिग्रस्त कर दिया ।

    बाद में अपने चेहरे की प्लास्टिक सर्जरी करवाई और हरियाणा के सोनीपत में जाकर छुप गया , चार साल तक इस मामले में जांच चलती रही लेकिन पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। यह कहानी है अलीगढ़ के गंगीरी थाना क्षेत्र के  एक गांव के रहने वाले राकेश की,  जिसकी शादी जनपद एटा के मारहरा थाना क्षेत्र के एक गांव से वर्ष 2012 में हुई थी ।

    लेकिन आरोपी राकेश अपने ही गांव की  रहने वाली रूबी (बदला हुआ नाम ) से प्रेम करता था, रूबी उत्तर प्रदेश पुलिस में महिला सिपाही थी। 2018 में आरोपी राकेश ने  नोएडा के बिसरख थाना इलाके में पहले अपनी पत्नी व दो बच्चों की हत्या की और उनका शव घर में बने बेसमेंट में छुपा दिया ।

    बाद में आरोपी वापस अपने गांव गंगीरी आया और अपने दोस्त को घुमाने के नाम पर कासगंज के ढोलना थाना क्षेत्र इलाके में ले गया, जहां पर उसकी चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी और पहचान छुपाने के लिए शव को क्षत-विक्षत कर के रेलवे लाइन के समीप फेंक दिया।

    मामले में आरोपी राकेश ने स्वयं ही नोएडा के थाना बिसरख में अपनी पत्नी को बच्चों के गायब होने की झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई, जिसमें उसने बताया कि उसकी पत्नी और बच्चे घर से बिना बताए कहीं चले गए हैं। इधर कासगंज के थाना ढोलना  में आरोपी राकेश के  भाई ने राकेश की मौत का झूठा मुकदमा पंजीकृत कराया,  जिसमें गांव के ही कुछ लोगों पर आरोप लगाए गए।

    इन पूरे मामलों का जब 4 साल बाद खुलासा हुआ तो लोगों को अपने कानों पर विश्वास नहीं हुआ, कासगंज पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए  आरोपी राकेश, उसकी प्रेमिका रूबी समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया ।

    अब इस पूरे प्रकरण पर ढोलना पुलिस आरोपियों पर चार्जशीट तैयार करने में जुटी हुई है,  जो आगामी दो-तीन दिन में कोर्ट में प्रस्तुत करेगी। इसी बीच नोएडा पुलिस भी कासगंज आयी और केस से संबंधित जानकारी जुटाई है। इस पूरे मामले में नोएडा पुलिस आरोपी को रिमांड पर लेने की तैयारी में जुटी है।


    अतुल यादव 

    Initiate News Agency (INA) कासगंज

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.