Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    देवबंद: यूनानी चिकित्सा पद्धति जन जन तक पहुँचे: डा0 देव पुजारी

    देवबंद: सेन्ट्रल काउन्सिल आफ इण्डियन मेडिसिन के पूर्व सदस्य तथा बोर्ड आफ इण्डियन मेडिसिन के वर्तमन निर्वाचित सदस्य डा0 अनवर सईद ने तिब्बे यूनानी की विभिन्न समस्याओं और उसके प्रचार व प्रसार को लेकर केन्द्रीय सरकार के कुछ महत्वपूर्ण जिम्मेदारों से भेंट कर उनसे यूनानी चिकित्सा के बारे में वार्ता की। इसी परिपेक्ष में  डा0 अनवर सईद की भेंट एन0सी0आई0एस0एम0 के चेयरमैन डा0 देव पुजारी से भी हुई। 

    डा0 देव पुजारी ने बताया कि एन0सी0आई0एस0एम0 नीति आयोग के अन्तर्गत देसी चिकित्सा पद्धतियों के प्रचार व प्रसार के लिए काम करने वाली केन्द्रीय संस्था है जिसके अन्तर्गत यूनानी चिकित्सा के कालेजों में शिक्षा, शैक्षणिक गुणवत्ता को ऊपर उठाने के लिए केन्द्रीय आयुष मंत्रालय के निर्देशों के अन्तर्गत एन0सी0आई0एस0एम0 विभिन्न प्रकार से सेवायें कर रही है। यूनानी चिकित्सा के यू0जी0 पी0जी0 सिलेबस में आयी हुई समस्याओं को दूर करने के लिए और शिक्षा पाठ्यक्रम इस तरह से बना दिया जाये कि छात्रों के लिए लाभकारी हो और वर्तमान की शिक्षा सम्बन्धी आवश्यकताओं को पूरा करता हो। 

    डा0 अनवर सईद ने बताया कि गत 6 सितम्बर को केन्द्रीय आयुष मंत्री सोरभबिंदा सोनोवाल जी ने भी यूनानी के विभिन्न अधिकारीयों की एक महत्वपूर्ण मीटिंग बुलायी थी जिसमें उन्होने यूनानी की विभिन्न समस्याओं पर बातचीत की प्राथमिकता तौर पर उन साधनों को तलाश करने पर  बात की जिनके द्वारा यूनानी तिब्ब को भारतवर्ष के जनजन तक पहुंचाया जा सके देश के अन्तिम छोर का व्यक्ति भी इससे लाभान्वित हो सके। उन्होने अपने आधीन अधिकारियों को स्पस्ष्ट आदेश दिया कि उन तमाम साधनों को उपयोग करने में कोई कसर न छोडी जाये जिनके द्वारा शाताब्दीयों पुरानी यह देसी चिकित्सा पद्धति भारत के कोने कोने में फैल सके।

    सैन्ट्रल कौन्सिल आॅफ रिसर्च इन यूनानी मेडिसीन (सी.सी.आर.यू.एम) के निदेशक से भी डा.0 अनवर सईद ने मुलाकात की वार्तालाप के बीच निदेशक महोदय ने स्पस्ष्ट किया कि इस संस्था के अन्र्तगत देश के विभिन्न भागों सैकड़ों की संख्या में रिसर्च आॅफिसर यूनानी चिकित्सा पद्धति को आधुनिक स्तर पर लाभकारी सिद्ध करने के लिए रिसर्च का कार्य कर रहे हैं। तथा विभिन्न जटील बिमारियों का  पूर्ण ईलाज भी रोगियों को दे रहें हैं। उन्होने बताया कि दिल्ली के साथ साथ लखनऊ वह हैदराबाद में 2 सैन्ट्रल रिसर्च इन्स्ट्टियूट कार्य कर रहे हैं। साथ ही साथ चैन्नय भदरक पटना, कोलकाता, अलीगढ़, नई दिल्ली, श्रीनगर और मुम्बई में यूनिट कार्य कर रही है।


    Initiate News Agency (INA)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.