Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    यहां दशकों से नही मनाया जाता रक्षाबन्धन

    यहां दशकों से नही मनाया जाता रक्षाबन्धन

    सम्भल- उत्तरप्रदेश : देशभर में जहां बहनें अपने भाइयों की राखी बांधेंगी वहीं उत्तर प्रदेश के सम्भल के बैनीपुर चक गांव में भाइयों की कलाई सूनी रहेगी। इसका कारण है कि यहां के लोगों का मानना है कि राखी बांधने के बदले देने वाले उपहार में उनकी जायदाद न मांग ली जाये। यहां के लोग बड़ी संख्या में ये बात मानते हैं। यहीं वजह है कि यहां कई दशकों से रक्षाबंधन नही मनाया जाता है।

    हम बात कर रहे हैं जनपद सम्भल के आदमपुर मार्ग स्थित ग्राम बेनीपुर चक की। इस ग्राम में आकर बसे हैं अलीगढ़ के यादव आज भी रक्षाबंधन का पर्व नहीं मनाते हैं।

    उन्हें डर लगा रहता है कि बहन उनकी कलाई पर राखी बांधने के बदले कहीं उनसे उनकी जायदाद न मांग ले। आपको बताते चलें कि अलीगढ़ के ग्राम में रहने वाले यादव जाति के लोगों ने ठाकुर जाति की एक बहन बनाई थी। जिसने रक्षाबंधन के पर्व पर भाइयों के राखी बांधने के बदले उनकी जायदाद उनसे मांग ली थी।

    मगर बाद में जायदाद लेने से भी बहन ने मना कर दिया था। मगर यादव जाति के लोग बहन को राखी के बदले जमीन जायदाद देकर सम्भल के ग्राम बेनीपुर चक में आकर बस गये।

    लगभग दशकों बाद भी अब भी ग्राम के अंदर रक्षाबंधन का पर्व नहीं मनाया जाता है। उन्हें यही डर लगा रहता है कि कहीं राखी बांधने के बदले बहन उनसे उनकी जायदाद न मांग ले और फिर उन्हें बेघर होना पड़े।

    उवैश दानिश, सम्भल- उत्तरप्रदेश 
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.