Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शहर की बिगड़ी हालत को देखकर भड़के सपा नेता अजीत मिश्रा

    शहर की बिगड़ी हालत को देखकर भड़के सपा नेता अजीत मिश्रा

    बलिया- उत्तरप्रदेश : समाजसेवी सपा नेता अजीत मिश्रा, शहर की बिगड़ती हालत को देखकर भड़के। श्री मिश्रा ने कहा ,कि बड़े  दुख की बात है, कि मौजूदा  सरकार में हमारे बलिया के दो मंत्री सरकार मेंनुमाइंदगी कर रहे हैं ,लेकिन  जनता को जो उम्मीद थी,  कि भाजपा आएगी, और हमारे बलिया का विकास तेजी से होगा, उस पर  जब प्रदेश सरकार में दो मंत्री बलिया के हुए, तो बलियावासीयों  की उम्मीदें और बढ़ गई। किअब तो हमारे बलिया विकास खूब होगा।पर हमें बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है , बल्कि यू कहें हम ही नहीं बलियावासी शहर की बिगड़ी हालत को देखकर काफी  दुखी हैं।  इस कष्ट को बलिया कि जनता खूब महसूस कर रही है।स्वास्थ, सड़क, सुरक्षा, सबकी हालत बद से बदतर है। क्या यही विकास है,क्या इसी को विकास कहते हैं।

    अजीत मिश्र ने अपने और बलिया कि  जनता के कष्ट का इज़हार करते हुए कहा कि । कोई भी व्यक्ति किसी भी सड़क पर चला जाए, हर तरफ बलिया  ,पानी में लबालब डूबा हुआ दिखाई देगा ।सड़कों में कितने गड्ढे हैं कि ई रिक्शा ,रिक्शा ,साइकिल मोटरसाइकिल से लोग अकसर गिर जाया  करते हैं। हमें दुख के साथ कहना पड़ रहा है  की वहीं मंत्री आनंद शुक्ला के घर के सामने nh31 पर इतने गड्ढे हैं , और सडक पर इतना पानी लगा हुआ है ,लबालब सड़क  पानी से भरी हुई है। क्या मंत्री को नहीं दिखाई देता। दिखाई भी कैसे दें मंत्री तो लग्जरी गाड़ियों में चलते हैं।  मंत्री को अज़ान की आवाज़ से तकलीफ ज़रूर होती है, लेकिन वहीं सड़के जो लबालब पानी से भरी हुई  हैं वो नहीं दिखाई देतीं, हर तरफ सड़कें खस्ताहाल हैं । सड़कों पर इतने गड्ढे हैं कि आप चल नहीं सकते ।क्या इसी को विकास कहते हैं।

    अगर स्वास्थ्य सेवाओं कि बात करें तो सारे माननीय लोगों  का का दौरा बराबर जिला अस्पताल में होता रहता है ।पर हॉस्पिटल कि बिगड़ी व्यवस्था नहीं दिखाई देती है। हॉस्पिटल, रेफरल हॉस्पिटल बनकर रह गया है । इसका मतलब है कि, यहां स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं है। आए दिन लोग मऊ और बनारस को इलाज के लिए रवाना किए जाते हैं। अगर सुरक्षा की बात करें तो ,जनपद में हत्या के केस में बढोत्तरी होती  जा रही हैं , महिलाएं सुरक्षित नहीं दिख रही हैं ,आखिर हो क्या रहा है ।

    प्रदेश सरकार के एक दुसरे मंत्री का घर स्टेडियम के पास ही है। स्टेडियम भी पानी से लबालब भरा हुआ है। पुलिस ऑफिस भी पानी से भरा हुआ है, जेल में आए दिन मोटर लगाकर पानी निकाला जाता है। पुलिस लाइन में पानी भरा हुआ है, कलेक्ट्रेट परिसर में पानी भरा हुआ है यह कौन सा विकास है  मेरी समझ में नहीं आ रहा है । इसलिए जनता  यहां के जनप्रतिनिधियों से ,और भाजपा के झूठे विकास के दावों से ,ऊब चुकी है।और टकटकी लगाए हमारे मुखिया अखिलेश यादव की तरफ देख रही है ।क्यों कि अखिलेश यादव के जमाने पर ही विकास हुआ था। अखिलेश यादव ने बलिया को ट्रामा सेंटर दिया, जनेश्वर मिश्र सेतू दिया, बिजली व्यवस्था दुरुस्त रहे इस  लिए 33/ 11- के सब स्टेशन बनवाये थे । दूसरे शहरों से जोड़ने के लिए पुल बनवाया , पॉलिटेक्निक और विश्वविद्यालय दिए। अखिलेश यादव ही के ज़माने में विकास हुआ था । मौजूदा सरकार में प्रदेश का बंटाधार हो गया है। आने वाले चुनाव में जनता भाजपा और भाजपा के नेताओं को सबक सिखा देगी ,जनता समय का इंतजार कर रही है।

    आसिफ हुसैन जैदी, बलिया- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.