Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    ढाई लाख के जेवरात और पैंतालीस हजार रुपए की नगदी पर हाथ साफ़, घटनाओं से लोग परेशान

    ढाई लाख के जेवरात और पैंतालीस हजार रुपए की नगदी पर हाथ साफ़, घटनाओं से लोग परेशान

    मिश्रित/सीतापुर- उत्तरप्रदेश : जहां पर जिले के पुलिस मुखिया अपने मातहतों को घटित होने वाले अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण लगाने के लिए आए दिन निर्देश दे रहे हैं वहीं मिश्रित कोतवाली पर तैनात प्रभारी निरीक्षक की मनमानियों के आगे कप्तान का निर्देश हवा हवाई ही साबित हो रहा है और क्षेत्र में आए दिन लूट चोरी छिनैती की घटनाएं दिन दूनी रात चौगुनी गति से बढ़ रही हैं । बताते चलें कि बीती रात कोतवाली क्षेत्र के गांव चंद्रावल निवासी कौशलेंद्र पुत्र भगवती प्रसाद के घर में धावा बोलकर अज्ञात चोर ढाई लाख रुपए कीमत के जेवरात और पैंतालीस हजार रुपए की नगदी चुरा ले जाने में सफल रहे हैं पीड़ित द्वारा प्रार्थना पत्र दिए जाने के बावजूद भी इस समाचार के लिखने तक पुलिस ने मामले का पंजीकरण नहीं किया था।

    इतना ही नहीं इस घटना के पहले बीते 13 अगस्त को दिनदहाड़े ग्राम किशनपुर निवासी एक पत्रकार के घर में गांव का एक दबंग देसी तमंचे लहराते हुए आंगन में मेज पर रखी सात हजार रुपए की नगदी सहित आवश्यक कागजातो की बैग उठाकर भागने में सफल रहा था ।इतना ही नहीं ग्राम परसौली निवासी देवीचरन की अनुपस्थित में बीते 11 अगस्त को दिन के दौरान उनका एक रिश्तेदार घर के बाहर बंधी पचास हजार रुपए कीमत की भैंस दबंगई से लोडर डाला पर लाद कर चंपत हो गया था। इन घटित घटनाओं की तहरीर पीड़ितों द्वारा दिए जाने के बावजूद भी पुलिस ने कार्यवाही करने के बजाए उन्हें ठंडे बस्ते में दबा दिया है।

    इसी तरह बीते 25 जुलाई की रात मिश्रित कस्बे में सीतापुर हरदोई मार्ग पर स्थित स्वास्तिक डेंटल क्लीनिक के बाहर खड़े जनरेटर जो लोहे के जाल के अंदर खड़ा था उसका ताला तोड़कर अज्ञात चोर जनरेटर का अल्टीनेटर चुरा ले गए क्लीनिक के डॉ अजीत सिंह ने दूसरे दिन घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कोतवाली पर तहरीर दी लेकिन पुलिस ने न तो मामले का पंजीकरण  किया और न ही चोरी गया अल्टीनेटर बरामद किया। इतना ही नहीं इसके पहले कस्बे के नहर चौराहे की कुतुबनगर रोड पर स्थित संजय कुमार शुक्ला के घर के बाहर रोड के किनारे खड़ी उनकी मारुति 800 यूपी 32 बी सी 5608 बीते 22 जुलाई की रात चोर चुरा ले जाने में सफल रहे थे।

    इसी तरह  शेष नाथ मंदिर के नीचे बनी कोठरी में रहने वाले लालू नामक आंखों से दिव्यांग व्यक्ति के दो मोबाइल और डीजे मिक्सर तथा नगदी आदि अज्ञात चोरों द्वारा रात्रि के समय चोरी कर लिया गया था‌ इन घटित घटनाओं की पीड़ितों द्वारा तहरीर दिए जाने के बावजूद भी पुलिस ने अपनी अपराध छिपाऊ नीतियों के तहत पंजीकरण करना अभी तक मुनासिब ही नहीं समझा है  घटनाओं के अनावरण की बात तो दिवा स्वप्न ही बनी हुई है। कुल मिलाकर कोतवाली मिश्रित प्रभारी निरीक्षक की लचर नीतियों के चलते दलालों के इशारे पर अपराधों का हब बन कर रह गई है।

    संदीप चौरसिया, मिश्रित/सीतापुर- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.