Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    शाहजहाँपुर: ये ज़रूरी नहीं गाली का जवाब गाली से ही दिया जाये: डॉ0 पूजा त्रिपाठी पाण्डे

    शाहजहाँपुर: पं॰ राम प्रसाद बिस्मिल राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय शाहजहांपुर में मिशन शक्ति फ़ेज़-3 के अंतर्गत मरीजो व हास्पिटल स्टाफ़ के मध्य संवेदनशील सामंजस्य स्थापित करने के ध्येय से महाविद्यालय की सहायक प्रवक्ता डॉ० पूजा त्रिपाठी पाण्डेय ने चिकित्सा नैतिकता के अंतर्गत कम्यूनिकेशन का महत्व बताया। 

    पं॰ राम प्रसाद बिस्मिल राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ० राजेश कुमार के उत्तम मार्गदर्शन व सीएमएस डॉ० ए॰यू॰पी॰ सिन्हा के सहयोग एवं डॉ० पूजा त्रिपाठी पाण्डेय के कुशल निर्देशन में महिलाओं को समाज के हर क्षेत्र में आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित एवं प्रशिक्षित किया गया। कैबिनेट मंत्री चिकित्सा शिक्षा सुरेश कुमार खन्ना की प्रेरणा से नैतिकता के गुणो को चिकित्सा से जुड़े सभी कर्मचारियों में और प्रबल व सुदृढ़ बनाने के धेय्य से डॉक्टर पूजा त्रिपाठी पांडेय ने “चिकित्सा नैतिकता के अंतर्गत कम्यूनिकेशन का महत्व” विषय पर चर्चा की। जिससे रोगियों व हास्पिटल स्टाफ़ के मध्य संवेदनशील सामंजस्य बन सके। 

    इस अवसर पर महाविद्यालय की सहायक प्रवक्ता पूजा त्रिपाठी पांडेय ने बताया कि जब हम किसी और से इस बात की आशा करते हैं कि वह अच्छा आचरण करें, तो हमें भी अपने बर्ताव का ध्यान रखना चाहिए, यह जरूरी नहीं कि गाली का जवाब गली ही हो। उन्होने नर्सिंग स्टाफ को समझाते हुए कहा कि अच्छा आचरण वह है जिसमें बुरी स्थितियों को अच्छे एवं सुन्दर तरीके से पेश किया जाए। दूसरों से हम कैसा व्यवहार करते हैं चाहे स्थिति विपरीत ही क्यों न हो, हमें उत्तेजित या शान्त, भ्रष्ट या ईमानदार, बर्बर या सभ्य बना जा सकता है। 

    इस मौके पर उन्होंने मरीजो से व तीमारदारों से बात कर उनकी समस्याओं को सुना बल्कि उनकी समस्याओं का निस्तारण भी किया। उन्होंने बड़े ही विनम्र भाव से सभी मरीजो का दिल ही नही बल्कि खूब ढेर सारा आशीर्वाद भी लिया। कुछ मरीजो के तीमारदारों ने स्टाफ से अभद्रता का आरोप भी लगाया। इस पर श्रीमती पांडेय ने लिखित सिकायत करने के बाद उस पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने का अस्वाशन दिया। उन्होंने स्टाफ को भी विनम्र रहते हुए मरीजो व तीमारदारों के साथ अच्छा व कुशल व्यवहार करने की सलाह दी। शिकायत मिलने पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही की चेतावनी भी दी। इस अवसर पर तमाम स्टाफ व मरीज व मरीजो के तिमारदार लोग उपस्थित रहे। साथ ही राष्ट्र सेविका समिति शाहजीपुर के सहयोग से चिकित्सालय की महिला कर्मचारी सेल्फ़ डिफ़ेन्स की भी शिक्षा प्रति दिन प्राप्त कर रही हैं।


    फ़ैयाज़ उद्दीन 

    Initiate News Agency (INA)शाहजहाँपुर

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.