Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बी0सी0 सखी की महिलाएं गांव की महिलाओं को बैंको से जोड़कर पैसों का लेनदेन घर-घर जाकर करवांएगी

    बी0सी0 सखी की महिलाएं गांव की महिलाओं को बैंको से जोड़कर पैसों का लेनदेन घर-घर जाकर करवांएगी

    शाहजहाँपुर- उत्तरप्रदेश : सरकार ने महिलाओं को रोजगार का बड़ा मौका दिया है। अब बैंकिंग कॉरेस्पोंडेंट की महिलाएं गांव के हर घर तक बैंकिंग की सुविधाएं पहुंचायेंगी। बी0सी0 सखी योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि हर घर तक बैंक की सुविधाएं पहुंचे। इस योजना के अन्तर्गत बी0सी0 सखी की महिलाएं गांव की महिलाओं को बैंको से जोड़कर पैसों का लेनदेन घर-घर जाकर करवांएगी। सारा लेनदेन डिजिटल होगा। सरकार ने बी0सी सखी महिलाओं को 4 हजार रूपये प्रति माह देने के साथ ही बैंको से लेनदेन कराने पर बैंक द्वारा कमिशन भी दिया जाएगा। यह बात जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह गांधी भवन परिसर में आयोजित मेगा क्रेडिट कैम्प के शुभारम्भ दौरान कही।

    इस अवसर पर एलडीएम द्वारा जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित किया गया। जिलाधिकारी ने कहा  कि बी0सी सखी महिलाएं समूह की महिलाओं को बैंक से लेनदेन सम्बन्धित कार्य में सहयोग करेंगें। कहा कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में पंचायत भवन का निर्माण कराया जा रहा है। अब जल्द ही प्रत्येक ग्राम पंचायत में एकाउंटेंट-कम डाटा-एंट्री-ऑपरेटर (पंचायत सहायक) की तैनाती की जाएगी। पंचायत भवन में शासकीय योजनाओं के अपलाई हेतु सुविधाएं प्रदान होंगी।

    सिंह ने कहा कि शहरी क्षेत्रो के फल सब्जी, रेहड़ी, पट्टी, खोखा आदि लगाने वालों को अपना रोजगार चलाने हेतु प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना से लाभान्वित किया जा रहा है। उन्होंने कहा है कि  ऐसे पथ विक्रेताओं को जिनकी कोविड-19 महामारी में आर्थिक स्थिति खराब हो गयी उन पथविक्रेताओं को पी०एम० स्वनिधि योजना के अन्तर्गत एक साल की अवधि के लिये रूपये 10,000 का पूजीगत ऋण बैंक के माध्यम से उपलब्ध कराया जा रहा है। सभी पथ विक्रेता स्वनिधि योजना का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त कर अपने रोजगार में वृद्धि कर सकतें है। जो पथ विक्रेता समय से पैसे की अदायगी बैक को करेगें। उन्हें दूसरे चरण में रूपये 20,000 तथा तीसरे चरण में रूपये 50,000 का पूजीगंत ऋण उपलब्ध कराया जायेगा। 

    इस अवसर पर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक व नगर आयुक्त ने संयुक्त रूपसे जनपद की 20 बी0सी सखी महिलाओं को इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस “पॉस मशीन“ अपने हाथों से दिया। इसी कड़ी में उन्होंने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्य मंत्री युवा स्वरोजगार योजना ,एक जनपद एक उत्पाद योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना तथा अन्य ऋण सम्बन्धित विभिन्ना योजनाओं के कुल 23 लाभार्थियों को मौके पर ऋण स्वीकृति प्रमाण पत्र वितरित किया।

    इस मौके पर कुल 101.54 करोड़ रुपये का ऋण स्वीकृत पत्र वितरित किया गया, जिसमें 26 करोड़ रुपयों का ऋण एम0एस0एम0ई0 एवं  43 करोड़ रुपये का ऋण कृषि संबन्धित योजना का रहा। उक्त कैम्प के अन्तर्गत बैंक आफ बड़ौदा द्वारा 38.33 करोड़ रुपये एवं  स्टेट बैंक द्वारा 21 करोड़ , बड़ौदा यू0पी0 बैंक द्वारा 20.86 करोड़ रुपये के ऋण स्वीकृत किया गया। इस अवसर पर बैंक आफ बड़ौदा क्षेत्रीय प्रबन्धक मिहिर कुमार झा , क्षेत्रीय प्रबन्धक स्टेट बैंक आफ इंडिया कौशल किशोर साहू, अग्रणी बैंक प्रबन्धक सी॰एस॰जोशी, आर0सेटी के डायरेक्टर सचिन तथा विभिन्न बैंक के जिला समन्वयक आदि उपस्थित रहें।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.