Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में बैंकर्स की बैठक सम्पन्न

    जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में बैंकर्स की बैठक सम्पन्न

    सीतापुरउत्तरप्रदेश : जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में गुरूवार को बैंकर्स की जिला सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने बैकों द्वारा संचालित योजनाओं की एक एक करके समीक्षा की एवं निर्देश दिये कि बैंकों के माध्यम से संचालित शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ जनता को मिले, यह सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कड़े निर्देश दिए कि अनावश्यक रूप से कोई भी प्रकरण लम्बित न रखा जाये। के0सी0सी0, एक जनपद एक उत्पाद, पी0एम0ई0जी0पी0, सी0एम0वाई0एस0वाई, स्वनिधि ऋण, बुनकरों हेतु प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना, स्वयं सहायता समूह-बैंक लिंकेज-एन0आर0एल0एम0/ एन0यू0एल0एम0, लघु एवं मध्यम उद्योग को वित्तपोषण एवं इसकी प्रगति, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना व स्टैण्ड अप इण्डिया आदि योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने लीड बैंक मैनेजर को निर्देश दिये कि औद्योगिक आस्थानों, मण्डी परिसरों एवं अन्य महत्वपूर्ण स्थलों पर ए0टी0एम0 की आवश्यकता का परीक्षण कर ए0टी0एम0 स्थापित कराये जाने की कार्यवाही तत्काल सुनिश्चित करें।

    प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में भी प्राथमिकता के आधार पर लक्ष्यों के अनुरूप ऋण स्वीकृत कराये जाने के निर्देश देते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि इस योजना के माध्यम से अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को स्वावलम्बी बनाने के शासन महत्वाकांक्षी प्रयास में सभी विभाग एवं बैंक अपना योगदान दें। एन0आर0एल0एम0 में क्रेडिट लिंकेज बढ़ाये जाने के निर्देश देते हुये जिलाधिकारी ने कहा कि लम्बित आवेदनों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण सुनिश्चित किया जाये एवं खाते खुलवाये जायें। आर्यावर्त बैंक में अधिक आवेदन लम्बित होने पर सुधार के कड़े निर्देश दिये। प्रगति की साप्ताहिक समीक्षा करने के निर्देश भी मुख्य विकास अधिकारी को दिये। अस्वीकृत आवेदन पत्रों के अस्वीकृत होने के कारणों का विवरण तलब किया। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना में सुधार के निर्देश उपायुक्त उद्योग को दिये। एक जनपद एक उत्पाद योजना का स्पष्ट डाटा प्रस्तुत न कर पाने पर उपायुक्त उद्योग को फटकार भी लगायी तथा लक्ष्य के अनुरूप आवेदन प्राप्त करते हुये पात्रों को अधिक से अधिक लाभान्वित करने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये। आर्यावर्त बैंक एवं इण्डियन बैंक के प्रतिनिधियों को भी लम्बित आवेदनों का त्वरित निस्तारण किये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि लाभार्थीपरक योजनाओं यथा पी0एम0 स्वनिधि, एन0आर0एल0एम0 आदि के विषय में सेमिनार आयोजित कराते हुये बैंक मैनेजरों को प्रशिक्षण दिया जाये। स्वयं सहायता समूहों के हितार्थ संचालित योजनाओं का प्राथमिकता के आधार पर लाभ दिये जाने के निर्देश भी दिये। प्रधानमंत्री बुनकर क्रेडिट कार्ड योजना में लक्ष्य के सापेक्ष शून्य आवेदन प्राप्त होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुये सुधार के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि जनपद के दरी बुनकरों को योजना के विषय में जानकारी देते हुये उन्हें लाभान्वित किया जाये। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अक्षत वर्मा, लीड बैंक मैनेजर संजय मिश्रा, उपायुक्त उद्योग आशीष गुप्ता सहित बैंकों के जिला समन्वयक तथा संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

    शरद कपूर,  सीतापुरउत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.