Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या में गुरू पूर्णिमा पर भक्तों का उमड़ा जनसैलाब

    अयोध्या में गुरू पूर्णिमा पर भक्तों का उमड़ा जनसैलाब

    सरयू  की सलिल धारा में डुबकी लगाये और मन्दिरों में गुरू परम्परा के अनुसार किया दर्शन पूजन

    अयोध्या - उत्तरप्रदेश : मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की धर्मनगरी अयोध्या में गुरु पूर्णिमा के पावन पर्व पर राम नगरी अयोध्या में आस्था और श्रद्धा का जनसैलाब उमड़ पड़ा।सालों साल बाद इतनी बड़ी संख्या में भक्तों ने सरयू की पावन धारा में डुबकी लगा कर मन्दिरों में पूजा अर्चना करके अपने अराध्य को याद किया। ब्रह्म मुहूर्त से ही लाखों श्रद्धालुओं ने राम नगरी अयोध्या पहुंचकर पवित्र सरयू नदी में स्नान किया और मठ मंदिरों में दर्शन पूजन किया। दिन निकलने के साथ ही अयोध्या के विभिन्न मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। गुरु शिष्य परंपरा के पवित्र पर्व गुरु पूर्णिमा पर अपने गुरु के प्रति श्रद्धा अर्पित करने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ अयोध्या में उमड़ पड़ी है। राम नगरी अयोध्या में गुरु पूर्णिमा पर्व मनाने की परंपरा सदियों से चली आ रही है। गुरु पूर्णिमा के पर्व पर अयोध्या के गुरुपीठ वशिष्ट कुंड में  मेले का आयोजन भी होगा, जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल होंगे। सदियों से गुरु पूर्णिमा पर्व पर अयोध्या में भव्य आयोजन होते रहे हैं|

    गुरु पूर्णिमा पर्व पर ब्रह्म मुहूर्त से ही पवित्र सरयू नदी में स्नान करने के लिए श्रद्धालुओं में होड़ मची रही। दिन निकलने के साथ ही भीड़ बढ़ती गई। सुरक्षा व्यवस्था के बीच श्रद्धालुओं ने पवित्र सरयू नदी में आस्था की डुबकी लगाई। सरयू स्नान करने के बाद श्रद्धालुओं ने प्राचीन नागेश्वर नाथ मंदिर में दर्शन और पूजन भी किया। गुरु पूर्णिमा के मौके पर राम नगरी अयोध्या में कई धार्मिक आयोजन होंगे। दिन भर मंदिरों में भजन कीर्तन के साथ गुरु की आराधना का क्रम चले रहा है।

    गुरु पूर्णिमा का पर्व  एक ऐसा पर्व पर  है जब  शिष्य पूरा समय गुरु को अर्पित करते हैं।  गुरु की सेवा में रहते हैं उनकी आरती पूजा की जाती है और उन्हें भेंट दी जाती है। यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। गुरु पूर्णिमा पर  मां सरयू की विशेष आरती होगी। गुरु पूर्णिमा के मौके पर परंपरागत रूप से  शाम सरयू घाट पर एक भव्य आयोजन किया जाएगा।  इस आयोजन की कड़ी में मां सरयू की भव्य आरती उतारी जाएगी और विशेष धार्मिक अनुष्ठान किए जाएंगे। इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बड़ी संख्या में भक्तों श्रद्धालुओं अयोध्या पहुंचे हैं।  शाम 6:00 बजे संत तुलसीदास घाट पर होगा। कोरोना संक्रमण काल के दौरान पहला ऐसा मौका है, जब इतनी बड़ी संख्या में श्रद्धालु अयोध्या में पहुंचे हैं। श्रद्धालु अभी भी खतरे से लापरवाह बने हुए हैं।वहीं दूसरी तरफ अयोध्या में सरयू नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

    देव बक्श वर्मा, अयोध्या - उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency) 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.