Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    पशुचर की भूमि पर अफसरों ने करा दिया कब्जा, तहसील स्तर के अधिकारी कर रहे मौज

    पशुचर की भूमि पर अफसरों ने करा दिया कब्जा, तहसील स्तर के अधिकारी कर रहे मौज

    शाहाबाद- हरदोई : उत्तरप्रदेश सरकार के मुखिया के सपने को हरदोई जनपद के शाहाबाद तहसील के अधिकारी ठेंगा दिखा रहे हैं। ताज़ा मामला तहसील शाहाबाद की ग्राम पंचायत तिउर चौगवा का है जहाँ तहसील स्तर के अधिकारियों की मिलीभगत से पशुचर की भूमि को कब्ज़ा मुक्त करवाने को कब्ज़ा ही करवा दिया गया ।

    तहसील शाहबाद के तिउर चौगवा में पूर्व प्रधान नन्ही देवी ने अपने कार्यकाल में वर्ष 2017 में पशुचर की भूमि को कब्जा मुक्त करवाया था जब तक उनका कार्यकाल रहा तब तक किसी भी अधिकारी के द्वारा भूमि पर आँख भी नही उठाई गयी और पशुचर की भूमि पर वृक्षारोपण करवाया गया। लेकिन 2021 में सत्ता पलटने से प्रतिभा सिंह प्रधान हुई और शाहबाद के अधिकारियों ने इसका पूर्ण लाभ लिया, और पशुचर की भूमि का क़ब्ज़ा करवा दिया।

    शाहबाद तहसील के क़ानूनगो आशीष शुक्ला अक्सर शूर्खियो में रहते है जो अधिकारी कार्यदिवस में किसी भी जगह पैमाईश करने नही जाता आख़िर वो अधिकारी अवकाश के दिन पैमाई करने केसे पहुँच गया। ये तो सोंचने का विषय है।

    जब इस बात की खबर गाँव के ग्रामीण जनो को हुई तब जदुवीर के साथ कई ग्रामवासियों ने इसकी शिकायत उपज़िलाधिकारी शाहबाद से दिनांक 07/07/2021 को की ।

    उपजिलाधिकरी ने पुनः पैमाइस के लिए कानूनगो एवं लेखपाल को आदेशित किया लेकिन कार्यवाही नही हुई उसके बाद पूर्व प्रधान प्रतिनिधी सुशील कुमार दीक्षित ने पुनः शिकायत दिनांक 09/07/2021 को की उपजिलाधिकारी के द्वारा पुनः जाँच कर कार्यवाही का आदेश तहसीलदार को दिया लेकिन लगभग 10 दिन बीत  जाने के बाद भी कार्यवाही अमल में नही लाई गयी ।

    इससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि तहसील शाहबाद के अधिकारी किस तरीक़े से अपनी मनमानी करके पशुचर की भूमि पर वरक्षारोपण के साथ ट्रीगार्ड को तोडवाकर किसी को भी सरकारी भूमि आवंटित कर सकते है। लेकिन अब देखना ये होगा कि सरकारी भूमि को आवंटित करने का अधिकारी क़ानूनगो को किसने दिया?

    इसके द्वारा अनुमान लगाया जा सकता है जब नन्ही देवी(पूर्व प्रधान) के द्वारा दिनांक 18-09-2020 को भूमि न. 195 की पैमाई करवाने के लिए शिकायती प्रार्थना पत्र उपजिलाधिकरी को दिया था लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई । तो अब ऐसे पैसों के भूखे अधिकारी किस तरह से अपना कार्य ईमानदारी से करेंगे।।

    अब देखना ये होगा की हरदोई जनपद की तहसील शाहाबाद के तेज़तर्रार उपजिलाधिकारी ( सौरभ दुबे) इन शिकायती प्रार्थना पत्रों पर एवं मीडिया की शूर्खियो में रहने वाले कानूनगो आशीष शुक्ला के ऊपर क्या कार्यवाही करते है।

    INA NEWS(Initiate News Agency), डेस्क हरदोई|

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.