Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    अयोध्या रामनगरी सावन के पहले सोमवार को हर-हर,बम-बम से गुंजायमान रही

    अयोध्या रामनगरी सावन के पहले सोमवार को हर-हर,बम-बम से गुंजायमान रही

    अयोध्या - उत्तरप्रदेश : मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की धर्म नगरी अयोध्या में सावन मास के प्रथम सोमवार को हर हर बम बम की गूंज सुनाई पड़ी। अयोध्या में नागेश्वर नाथ मंदिर, क्षीरेश्वरनाथ मंदिर  सहित विभिन्न शिव मंदिरों में जलाभिषेक करने वाले शिव भक्तों का तांता लग गया। सुबह से ही लोग सरयू की सलिल धारा में स्नान करके अपने आराध्य भोलेनाथ का जलाभिषेक करने के लिए नागेश्वर नाथ मंदिर पहुंचे और राम की पैड़ी पर बड़ी संख्या में भीड़ दिखाई पड़ी। सरयू तट पर स्नान करने वालों का तांता लगा रहा। अयोध्या के विभिन्न मंदिरों में बड़ी भीड़ दिखाई पड़ी।नागेश्वरनाथ के अभिषेक को लंबी कतार लगी| सरयूघाटों पर लाखों की भीड़ रही| अयोध्या में पहले सावन के महीने में सरयू स्नान व नागेश्वरनाथ के अभिषेक का विशेष महत्व है। अयोध्या में सावन का पहले सोमवार पर भगवान नागेश्वरनाथ महोदव के अभिषेक के लिए भक्तों की लंबी कतार हैं। बड़ी संख्या में श्रद्धालु सरयू स्नान कर नदी के जल से नागेश्वरनाथ का पूजन और जल चढाते दिखे। कोरोना कॉल को देखते हुए प्रशासन छोटे समूहों में लोगों को पूजन की अनुमति दी।

    सावन के पवित्र माह में सरयू स्नान व नागेश्वरनाथ के अभिषेक का विशेष महत्व है। सरयू को भगवान विष्णु के नेत्र से पैदा होने के कारण उनका एक नाम नेत्रजा भी है। भगवान विष्णु व शिव दोनों एक दूसरे की भक्ति में लीन रहते हैंl इस कारण सरयू जल से नागेश्वरनाथ के अभिषेक को बहुत ही फलदायक माना गया हैं| नागेश्वरनाथ मंदिर के आसपास भक्तों की भीड़ के साथ चोरों का गिरोह भी सक्रिय रहा l चोरी के आरोप मे कई महिलाओं को पुलिस ने हिरासत में लिया है। आरोप है कि मंदिर में आने जाने वाले श्रद्धालुओं की पर्स और जेवरात यह गिरोह गायब कर देता था। नागेश्वर नाथ मंदिर के बाहर लगी श्रद्धालुओं की भीड़ के सीसीटीवी फुटेज और महिला पुलिस कर्मियों की सक्रियता के चलते आरोपी महिलाओं को पकड़कर थाने भिजवाया गया। नागेश्वरनाथ मंदिर के अंदर, बाहर  महिला पुलिस तैनात रही|

     नागेश्वरनाथ मंदिर देश के 108 प्रमुख शिव मंदिरों में हैl इसकी स्थापना भगवान श्रीराम के पुत्र कुश ने किया था l यहां नागों पर नाराज कुश के क्रोध से उनकी रक्षा के लिए शिव खुद प्रकट हुए l नागों की रक्षा के लिए प्रकट होने के कारण यहां शिव नागेश्वरनाथ के नाम से प्रसिद्ध हुए l प्रत्येक माह की दोनों त्रयोदशी तिथि पर यहां बहुत की भीड़ रहती हैl अयोध्या आने वाले भक्तगण हनुमानगढ़ी व कनक भवन में भी दर्शन पूजन करते हैं|

    श्रद्धालुओं के लिए सुरक्षा के साथ कई स्थानों पर बैरियर लगाए गए। अयोध्या में सावन के पहले सोमवार पर लाखों श्रद्धालु अयोध्या पहुंचते हैं, जोकि सरयू में स्नान कर नागेश्वर नाथ मंदिर में दर्शन पूजन कर हनुमानगढ़ी व कनक भवन में भी दर्शन पूजन करते हैं l  श्रद्धालुओं के लिए सुरक्षा के लिए कई स्थानों पर बैरियर लगाए गए हैं भीड़ वाले स्थान पर लोग छोटे-छोटे टुकड़ियों में भेजे जा रहे हैं। जिससे मंदिरों में अधिक भीड़ न हो सके। भगवान श्री राम कि अयोध्या में बाबा भोलेनाथ के शिव कारा से अयोध्या गुंजायमान रही। प्रशासन द्वारा सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त किए गए हैं। सरयू नदी में जल पुलिस और मंदिरों के आसपास सिविल ड्रेस में और वर्दी में पुलिस तैनात रही। ताकि कहीं किसी भी तरह की अप्रिय घटना ना हो।

    देव बक्श वर्मा, अयोध्या - उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency) 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.