Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    खराब नलकूप ठीक न कराने से किसान परेशान, शिकायतों का ढ़ेर बढ़ा लेकिन निस्तारण नहीं

    खराब नलकूप ठीक न कराने से किसान परेशान, शिकायतों का ढ़ेर बढ़ा लेकिन निस्तारण नहीं

    क्या समाधान दिवस पर भी नहीं होगा समस्याओं का निदान, समाधान है या है व्यवधान

    हरियावां- हरदोई : विकास खंड के गांव मरई में खराब पड़े नलकूप संख्या 17 को ठीक कराने का कोरा आश्वासन देते देते अधिकारी नहीं थके लेकिन सरकारी फाइलों में शिकायती पत्रों का ढ़ेर निरंतर बढ़ता ही जा रहा है। इस मामले को लेकर आईएनए न्यूज़ एजेंसी ने जमीनी स्तर पर किसानों की दिक्कतों को समझा और 9 जून को इस खबर को प्राथमिकता से प्रकाशित कर संबंधित अधिकारियों के संज्ञान में लाने का काम भी किया गया था लेकिन अभी तक इसका कोई निस्तारण नहीं किया गया है। सीएम और सचिवालय के हुक्मरानों की नजर में हीरो बनने की चाहत में जिला स्तरीय अधिकारी चाहें जितने समाधान दिवस आयोजित कर लें लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है। जिले का उच्चस्तरीय सिस्टम इतना निष्क्रिय और असंवेदनशील होगा, यह किसी को पता नहीं था। नलकूप न ठीक होने की वजह से किसानों की फसलों पर कितना प्रभाव पड़ रहा है, इसका अंदाजा शायद एयर कंडीशनर में बैठकर फाइलों में दस्तखत करने वाले अधिकारियों को नहीं है।

    महीनों की मेहनत करके अपनी फसलों को तैयार करने की उम्मीद लगाकर बैठे सैकड़ों किसानों को पल भर में नुकसान होने का डर इन भ्रष्ट अधिकारियों को नहीं है। 'जी हुजूर, हां हुजूर' में व्यस्त रहकर जिला स्तरीय मीटिंग्स में जिले को विकासशील बताने वाले अधिकारियों को अब जरा भी शर्म नहीं रह गयी है। किसान अपनी समस्या बताते बताते थक गए। शिकायती पत्र देते देते उनकी चप्पलें घिस गईं। आश्वासन दिया गया, उम्मीद दी गयी, वादे किए गए। नहीं किया गया तो समस्या का निदान। जब नलकूप विभाग ही किसानों की नलकूपों से सम्बंधित शिकायतों का निस्तारण नहीं कर पा रहा है तो फिर उन्हें किस बात की तनख्वाह दी जा रही है।

    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.