Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सभी ग्राम पंचायतें होगी वाई-फाई युक्त- डीएम इंद्र विक्रम सिंह

    सभी ग्राम पंचायतें होगी वाई-फाई युक्त- डीएम इंद्र विक्रम सिंह

    शाहजहाँपुर- उत्तरप्रदेश : अब वह दिन दूर नहीं जब जनपद की समस्त ग्राम पंचायतें होगी वाई-फाई युक्त। समस्त ग्राम पंचायतों को वाई-फाई कनेक्टिविटी से जोड़ने के लिए तीव्र गति से कार्य कराया जा रहा है। जनपद में विकास खण्ड ददरौल, भावलखेड़ा, जलालाबाद, मदनापुर, मिर्जापुर, तिलहर, पुवायां, खुटार, कांट जहां की ग्राम पंचायतों में वाई-फाई कनेक्टिविटी के लिए केबिल बिछाने के प्रक्रिया पूर्ण कर ली गयी है। उपरोक्त 9 विकास खण्डों में शेष 6 विकास खण्डों में वाई-फाई कनेक्टिविटी के लिए केबिल बिछाने की प्रक्रिया अधूरी है, जिसे  यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह ने आज यहां न्यू कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान दिए है। जिलाधिकारी ने कहा है कि ग्राम पंचायतों को वाई-फाई कनेक्टिविटी से जोड़ना प्रधान मंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। यह कार्य भारत संचार मंत्रालय एवं प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से कराया जा रहा है। उन्होंने कहा है कि विकास खण्ड ददरौल, भावलखेड़ा, जलालाबाद, मदनापुर, मिर्जापुर, तिलहर, पुवायां, खुटार, कांट के खण्ड विकास अधिकारी वाई-फाई कनेक्टिविटी ग्राम पंचायतों में पहुंची है अथवा नहीं इसकी क्रास चेकिंग कर लें। वाई-फाई कनेक्टिविटी से ग्राम पंचायतों में ग्राम पंचायत भवन/ग्राम पंचायत सचिवालय, प्राइमरी विद्यालय आदि सरकारी संस्थाओं को जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा है कि सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी द्वारा इस बात की पुष्टि कर ली जाए कि निर्माणाधीन पंचायत भवनों/ग्राम पंचायत सचिवालयों तक वाई-फाई कनेक्टिविटी हेतु केबिल बिछ जाना चाहिए। उन्होंने कहा है कि केबिल बिछने की प्रक्रिया पूर्ण होने पर यह कार्य बी0बी0एन0एल0 को सौप दिया जाएगा। उन्होंने सम्पूर्ण कार्य को सितम्बर माह तक पूर्ण करने के निर्देश दिए है।

    सिंह ने कहा है कि निर्माणाधीन पंचायत भवनों को यथाशीघ्र पूर्ण कराया जाए। उन्होंने कहा है कि जिस पंचायत भवन के निर्माण हेतु अभी भूमि नहीं उपलब्ध कराई गयी है उसे यथाशीघ्र उपलब्ध करा दी जाए। कहा है कि सार्वजनिक शौचालय निर्माण कार्य की स्थिति संतोषजनक है। शौचालयों प्रबन्धन हेतु समूहों को समर्पित करने की कार्यवाही जल्द से जल्द पूर्ण कर ली जाए। उन्होंने कहा है कि आवास योजना ग्रामीण के अन्तर्गत लाभार्थियों की सलेक्टेड लिस्ट वर्तमान स्थिति को देखकर तैयार कर ली जाए। जिसको पात्र मानते हो वह लाभार्थी वास्तिविक पात्र आवश्य होना चाहिए। चूंकि यह कार्य सचिव एवं विकास खण्ड अधिकारी के मध्य देखा जाता है। अगर अपात्रों को आवास योजना का लाभ मिला तो सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी एवं ग्राम पंचायत सचिव के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा है कि गोशालाओं में पर्याप्त मात्रा में गोवंश नहीं है। गोशालाओं में पर्याप्त मात्रा में गोवंश रखने की व्यवस्था खण्ड विकास अधिकारी द्वारा पूर्ण कर ली जाए। उन्होंने कहा है कि गोशालाओं में भूसा, चारा आदि की समस्या नहीं होनी चाहिए। अगर गोशालाओं में भूसे, चारे आदि की समस्या उत्पन्न हुई तो सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारी के विरूद्ध विधिक कार्यवाही की जाएगी।

     इन्द्र विक्रम सिंह ने कहा है कि जन मिशन योजना के अन्तर्गत घर-घर पानी देने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा है कि जहां-जहां पर जल मिशन योजना के अन्तर्गत कार्य कराया जा रहा है। वहां पर सम्बनिधत खण्ड विकास अधिकारियों द्वारा इस बात की पुष्टि अवश्य कर ली जाए कि जो रोड कटिंग की गयी है उस रोड की मरम्मत सम्बन्धित विभाग द्वारा कराई गयी है अथवा नहीं। रोड कटिंग की मरम्मत कार्य उसी क्वालिटी से पूर्ण कराया जाए, जिस प्रकार से पूर्व में स्टीमेट के आधार रोड का निर्माण कराया गया है। 

    उन्होंने कहा कि आयुष्मान गोल्डन कार्ड की प्रक्रिया निशुल्क कर दी गयी है। पात्र लाभार्थियों को चिन्हित कर आयुष्मान गोल्डन कार्ड योजना से जोड़ा जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि पंचायत सहायक की भर्ती प्रक्रिया प्रस्तावित हैं। ग्राम पंचायतों में पारर्शिता के साथ योग्य पंचायत सहायक भर्ती की जाए। 

    इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी प्रेरणा शर्मा, अपर जिलाधिकारी प्रशासन, नगर आयुक्त संतोष शर्मा, संयुक्त मजिस्ट्रेट विशाल कुमार, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायत आदि उपस्थित रहे।

    फ़ैयाज़ उद्दीन, शाहजहाँपुर- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.