Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    विधायक सुरेंद्र मैथानी के अथक प्रयासों से लाखों शहरवासियों को एक बार फिर मिलेगी राहत

    विधायक सुरेंद्र मैथानी के अथक प्रयासों से लाखों शहरवासियों को एक बार फिर मिलेगी राहत

    • दादा नगर समानांतर पुल को उत्तर प्रदेश सरकार से मिली सैद्धांतिक मंजूरी
    • रेल मंत्रालय भारत सरकार द्वारा पुल निर्माण के संदर्भ में प्राप्त हुआ पत्र
    • करीब 25 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले इस पुल से अनावश्यक जाम से आम जनमानस को मिलेगी बड़ी राहत
    • दादा नगर औद्योगिक क्षेत्र में काम करने वाले गरीब मजदूर भाइयों को जाम से मिलेगी बड़ी राहत
    • विधायक सुरेन्द्र मैथानी के मुताबिक, उनके कार्यकाल में विधानसभा में पांचवें पुल की जल्द होगी शुरुआत

    कानपुर- उत्तरप्रदेश : गोविंद नगर विधानसभा के विधायक सुरेंद्र मैथानी के अथक प्रयासों से एक बार फिर विधानसभा में आम जनमानस को एक बड़ी राहत मिलने जा रही है। विधायक सुरेंद्र मैथानी ने मीडिया कर्मियों से बातचीत में बताया कि दादा नगर रेलवे क्रॉसिंग के ऊपर समानांतर पुल को उत्तर प्रदेश सदन में याचिका लगाकर और फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट कर पुल को आम जनमानस के हित में स्वीकृत कराने का कार्य किया गया है। इसका बीड़ा स्वयं विधायक सुरेंद्र मैथानी ने उठाया था जिसके लिए उन्हें तीन राउंड दिल्ली भी जाना पड़ा जहां पर उन्होंने रेल मंत्री पीयूष गोयल से भेंट कर उन्हें आम जनमानस को हो रही दिक्कतों के बारे में बताया जिसके बाद रेल मंत्रालय द्वारा भेजा गया पत्र आज उन्हें प्राप्त हुआ है जिसमें इस पुल को मंजूरी दे दी गई है।

    सुरेंद्र मैथानी, विधायक

    विधायक सुरेंद्र मैथानी ने बताया कि अब गोविंद नगर विधानसभा में कुल मिलाकर 5 पुल आम जनमानस को राहत प्रदान करने का काम करेंगे। इससे पूर्व पिछले 3 वर्षों से अधिक अवधि से निर्मित हो रहा अरमापुर का पुल, 4 वर्षों से लंबित नौरैया खेड़ा पुल को पूरा कराया। इसके साथ पनकी पावर प्रोजेक्ट से दो पुलों को पास करा के जनता के हित में उसका कार्य भी आरंभ हो चुका है। अब दादा नगर हेतु विधानसभा में इस पांचवें पुल को उत्तर प्रदेश सरकार से सैद्धांतिक मंजूरी दिलाई गई है जिसके बाद अब केंद्र सरकार की अंतिम मुहर भी इस पर लग गई है। इस पुल की लागत 25 करोड़ बताई जा रही है जिसके निर्माण के बाद दादा नगर औद्योगिक क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारी गरीब मजदूर भाइयों को साइकिल, स्कूटर और मोटरसाइकिल आदि से अनावश्यक जाम में फंसने वालों समेत दक्षिण की आबादी के लगभग दो लाख से अधिक लोगों को आवागमन का एक सुलभ मार्ग उपलब्ध होगा।

    इब्ने हसन जैदी, कानपुर- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency) 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.