Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    सीडीओ आकांक्षा राना ने 'अपनी वाटिका' का किया निरीक्षण, ख़राब प्रगति पर हुई कार्रवाई

    सीडीओ आकांक्षा राना ने 'अपनी वाटिका' का किया निरीक्षण, ख़राब प्रगति पर हुई कार्रवाई

    • कमियां मिलने पर कई ग्राम पंचायतों के सचिव, टीए, तकनीकी सहायक व रोजगार सेवकों के वेतन रोकने के निर्देश
    • मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना ने संबंधित बीडीओ को 'कारण बताओ' नोटिस जारी करने के भी दिए निर्देश

    'अपनी वाटिका' का किया निरीक्षण करने पहुंची मुख्य विकास
    अधिकारी आकांक्षा राना, 
    उनके साथ डीसी मनरेगा प्रमोद
    कुमार चंद्रौल व बीडीओ संध्या रानी उपस्थित 

    हरदोई : जिले की कई ग्राम पंचायतों में आज मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राना ने 'अपनी वाटिका' का निरीक्षण किया। कमियां मिलने पर सीडीओ ने सख्त रुख अपनाते हुए कार्य पूर्ण होने तक सचिव, टीए, तकनीकी सहायक और रोजगार सेवकों का वेतन  रोकने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने संबंधित बीडीओ को कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी आदेश दिए। निरीक्षण के समय उनके साथ डीसी मनरेगा प्रमोद कुमार चंद्रौल व बीडीओ संध्या रानी उपस्थित थीं|

    सीडीओ आकांक्षा द्वारा की गई इस कार्रवाई से पूरे महकमे में हड़कंप मच गया। खराब प्रगति पाए जाने पर सीडीओ ने यह कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मनरेगा योजना के तहत ब्लॉक टड़ियावां की ग्राम सभा भडायल, हरियावां की पेंग, अगौलपुर, बाबूपुर कचनारी, मदरावां, पिहानी ब्लॉक की ग्राम सभा छतैंया में निर्माणाधीन अपनी वाटिका का निरीक्षण सीडीओ ने किया।

    इस दौरान उन्होंने पाथ-वे, बेंचेज, पौधों के लिए जल-व्यवस्था, फेंसिंग, सुरक्षा खाई, गेट व लाइटिंग आदि की व्यवस्थाओं का गहन निरीक्षण किया। जिसमें से भडायल में पौधों को लगाए जाने हेतु कार्य चल रहा था। शेष कोई भी कार्य यहां नहीं हो रहा था।

    जिस पर 10 अगस्त तक कार्य पूर्ण करने के निर्देश मिले। वहीं ग्राम सभा पेंग में सुरक्षा खाई खोदी जा रही थी। साथ ही तार फेंसिंग के लिए पिलर लगाए जा रहे थे। अगौलापुर में तार फेंसिंग, गेट, पिलर व समतलीकरण का कार्य पूरा मिला।

    जबकि इंटरलॉकिंग का कार्य चल रहा था। सीडीओ द्वारा एक सप्ताह में काम पूरा करने के निर्देश दिए गए। बाबूपुर कचनारी में तार फेंसिंग का काम पूर्ण मिला। लेकिन इसमें आरी-तार का प्रयोग किया गया था। जिसे बदलवाने के निर्देश सीडीओ ने दिए। यहां पिलर व समतलीकरण का कार्य जारी था। छतैंया, लोधनाखेड़ा में पिछले वर्ष की बनी वाटिका ही दिखाई दी। इस वर्ष कोई वाटिका नहीं बनाई गई।

    मदरावां में पिलर लगाए जाने का कार्य जारी था। जबकि समतलीकरण, गेट व तार-फेसिंग का कार्य अपूर्ण मिला। अपनी वाटिका का कार्य अपूर्ण पाए जाने व खराब प्रगति मिलने पर भडायल, पेंग, अगौलपुर, बाबूपुर कचनारी, मदरावां, छतैंया के सचिव, टीए, रोजगार सेवकों व तकनीकी सहायक आदि का वेतन काम पूर्ण न होने तक रोके जाने के निर्देश सीडीओ ने दिए।

    जबकि पिहानी में एक भी वाटिका न होने की दशा में सचिव अंतिमा वर्मा, अमित कुमार, विवेक कश्यप, तेजराम, इंद्रपाल व तकनीकी सहायक संतोष कुमार, सिद्धेश्वर द्विवेदी, सुशील कुमार का वेतन भी कार्य पूर्ण होने तक रोकने के निर्देश दिए गए। वहीं उक्त ग्राम पंचायतों के सभी खंड विकास अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस भी जारी करने के निर्देश सीडीओ ने दिए। उक्त क्रम में सचिव जितेंद्र कुमार, विजय कुमार, आकाश पाल, अजय पाल, संतोष आदि पर भी वेतन रोकने की कार्रवाई की गई।

    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.