Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    बदमाशों ने लूट की घटना को दिया अंजाम, पुलिस ने घटना का खुलासा कर पकड़ा

    बदमाशों ने लूट की घटना को दिया अंजाम, पुलिस ने घटना का खुलासा कर पकड़ा

    मुरादाबाद- उत्तरप्रदेश : 4 जुलाई को मुरादाबाद कंट्रोल रूम में कॉल कर इमरान नाम के एक व्यक्ति ने सूचना दी कि वह पाकबड़ा इलाके से अपने पार्टनर नफ़ीस के साथ 10 लाख 50 हज़ार रुपये लेकर स्कूटी से अपने गांव नरखेड़ा जो दिल्ली लखनऊ नेशनल हाईवे 09 पर थाना मुंडा पांडे इलाके में पड़ता है, वहां जा रहा था तभी काली पल्सर सवार तीन बदमाशों ने नेशनल हाइवे पर रामगंगा नदी पुल से पहले टक्कर मारकर उन्हें गिरा दिया और उनके साथ मारपीट कर तमंचे के बल पर बैग में रखे 10 लाख 50 हज़ार रुपये उनकी स्कूटी व दो मोबाईल फ़ोन लूट कर वापस दिल्ली की दिशा में फरार हो गए, पशु कारोबारियों से दिन दहाड़े नेशनल हाईवे पर लूट की सूचना मिलने से मुरादाबाद पुलिस के अधिकारियों में हड़कंप मच गया, पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर रवाना हुए और वहां पहुंचकर पीड़ित पशु कारोबारियों इमरान व नफ़ीस से पूछताछ कर बताए गए हुलिए के आधार पर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी, पुलिस ने शुरू से ही लूट को संदिग्ध मानते हुये लूट का शिकार पशु कारोबारियों को अलग अलग पूछताछ की, तो शुरू में दोनों ही कारोबारी पुलिस को एक जैसी ही कहानी सुनाने लगे, पुलिस अधीक्षक नगर अमित आनंद ने इस केस के वर्कआउट की जिम्मेदारी थाना कटघर पुलिस व SOG को दे दी, कटघर पुलिस ने दोनों पशु कारोबारियों से घुमा फिरा कर कई घंटे की अलग-अलग पूछताछ की तो वह बात सच साबित हो गई कि अपराधी चाहे कितना ही शातिर क्यों ना हो लेकिन वो कोई ना कोई गलती ऐसी कर ही देता है जिससे उसका अपराध सामने आ जाता है, ख़ुद को लूट का शिकार बता रहे पशु कारोबारी नफ़ीस की एक ग़लती पुलिस ने पकड़ ली, और कारोबारियों को घर भेज दिया, उसके बाद पुलिस ने अपने तरीके से छानबीन की तो पशु कारोबारी नफ़ीस ने घटना होने से कुछ देर पहले ही एक नंबर पर कॉल 4 सेकेंड की कॉल अपने रिश्तेदार फैज़ान को की थी, पुलिस ने जब फैज़ान को तलाश किया तो वो फ़रार मिला|

    पुलिस ने अब नफ़ीस के ऊपर पूरा शक़ होने के बाद उसे उसके दो साथियों के साथ गिरफ्तार कर लिया, पुलिस की पूछताछ में नफ़ीस टूट गया और उसने बताया कि उसके सभी भाई अपना अलग-अलग कारोबार करते थे उसने कई बार अपने परिवार के लोगों से कहा कि उसे कुछ पैसे ले लो वह अपना व्यापार अलग करेगा लेकिन किसी ने उसकी बात नहीं सुनी और उसकी नौकरी इमरान के बड़े भाई के पास 10 हज़ार रुपये महीने पर लगा दी, कारोबार करने के लिये पेसें की ज़रूरत थी, तब नफ़ीस ने आपने साथी शाहरुख, फरीद, ज़ीशान, फैज़ान, राजू, और राजा के साथ मिलकर साथ लूट का यह नाटक रचा था, पुलिस ने मुख्य आरोपी नफ़ीस को उसके साथी शाहरुख व फ़रीद के साथ गिरफ्तार कर उनकी निशानदेही पर 10 लाख 50 हज़ार रुपये में से 6 लाख 14 हज़ार रुपये एक 315 बोर का तमंचा व लूट में इस्तेमाल की गई बाईक बरामद कर ली है।

    4 जुलाई की रात कोतवाली कटघर में खड़ा पशु कारोबारी नफ़ीस अपने साथ हुई 10 लाख 50 हज़ार रुपये की लूट की घटना को कैसे बयान कर रहा है, कितनी संजीदगी से यह उससे सवाल कर रहे रिपोर्टर को जवाब दे रहा है कि कैसे-कैसे वह पैसे लेकर जा रहे थे और कैसे-कैसे अज्ञात बदमाशों ने उनके साथ लूट की घटना को अंजाम दिया, कोतवाली में खड़े पुलिसकर्मी और इन पशु कारोबारियों के घर वाले भी नफ़ीस के साथ हमदर्दी दिखा रहे थे, लेकिन पशु कारोबारी नफ़ीस को यह नहीं पता था इसने जो फिल्मी कहानी रची है वह ज्यादा देर तक मुरादाबाद पुलिस के सामने टिकने वाली नहीं है और पुलिस ने नफ़ीस की कहानी का खुलासा कर पूरा मामला ही पलट दिया, जो लोग कल तक नफ़ीस के साथ हमदर्दी दिखा रहे थे वही लोगों अब नफ़ीस को विलेन की नज़रों से देख रहे हैं।

    ************

    थाने में खड़े पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहा पशु...

    कारोबारी नफ़ीस पत्रकार का सवाल का जवाब देते हुए एक बार अटका था, नफ़ीस के मालिक का भाई इमरान भी नफीस की बात सुनकर उसकी बात पर यकीन कर रहा था लेकिन पुलिस को पहले से ही नफ़ीस के ऊपर शक था और पुलिस ने इसी शक के आधार पर इस पूरी लूट की घटना का खुलासा किया है और अब पुलिस नफीस के बाकी फरार तीन साथियों की तलाश कर रही है। पकड़े जाने के बाद लूट के मुख्य आरोपी नफीस को अब अपने किए पर पछतावा हो रहा है और अब वो रो रहा है और बोल रहा है कि वह अपनी गलती पर शर्मिंदा है।

    मसूद अहमद, मुरादाबाद- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency)

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.