Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    हाईटेंशन विद्युत लाइन गिरने से एक मजदूर की मौत, तीन झुलसे

    हाईटेंशन विद्युत लाइन गिरने से एक मजदूर की मौत, तीन झुलसे

    • छः वर्ष पहले मृतक के पिता की भी विद्युत करंट लगने से हुई थी मौत
    • परिजनों ने मृतक के शव को मिट्टी में दबा कर देसी उपचार करने का किया प्रयास
    • पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा

    पीलीभीत- उत्तरप्रदेश : खेत पर धान की रोपाई कर रहे मजदूरों पर हाईटेंशन विद्युत लाइन का तार अचानक टूटकर गिरने से एक मजदूर की मौत हो गई| तीन मजदूर घायल हो गए पीड़ित के परिजनों ने विद्युत विभाग की लापरवाही को लेकर जमकर हंगामा काटा सूचना पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे भाजपा विधायक ने भी मौके पर पहुंच कर पीड़ित के परिजनों से की मुलाकात संबंधित अधिकारियों को दिया उचित कार्रवाई का आदेश। 

    जनपद के माधोटांडा कस्बा के वार्ड नंबर छह निवासी रोहित , नीशू, शिल्पी और सेजल कस्बा से  कुछ दूरी पर खेत में धान की रोपाई कर रहे थे तभी  खेत के ऊपर से गुजरने वाली ग्यारह हजार केवी हाईटेंशन विद्युत लाइन का तार अचानक टूट कर खेत में गिर पड़ा और वह सभी विद्युत करंट के चपेट आ गए|

    घायल सेजल

    करंट लगने से आस पड़ोस में काम करने वाले लोगों में भगदड़ मच गई लोगों ने 108 एंबुलेंस को सूचना दी जिस पर  एंबुलेंस घटनास्थल पर पहुंची सभी घायलों को आस-पड़ोस के लोगों ने एंबुलेंस के सहारे माधोटांडा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र  पहुंचाया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ विनीत कुमार यादव ने सभी घायलों का परीक्षण किया परीक्षण के दौरान उन्होंने अट्ठारह वर्षीय नीशू पुत्र राजेश को मृत घोषित कर दिया और अन्य घायलों का उपचार जारी कर दिया।

    घायल शिल्पी

    करंट लगने की सूचना क्षेत्र में आग की तरह फैल गई अस्पताल परिसर में पीड़ित के परिजनों सहित सैकड़ों लोगों की भीड़ जमा हो गई परिजनों ने विद्युत विभाग की लापरवाही के कारण हादसा होने की बात कहकर जमकर हंगामा काटा सूचना पर थाना माधोटांडा प्रभारी निरीक्षक रामसेवक पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे अस्पताल में बढ़ती हुई भीड़ और जनमानस का आक्रोश विद्युत विभाग के खिलाफ तेजी के साथ भड़कने लगा परिजन मृतक के शव को अस्पताल परिसर में मिट्टी में दबा कर देसी उपचार करने लगे आला अधिकारियों को सूचना दी गई जिस पर एसडीएम एवं तहसीलदार कलीनगर पूरनपुर पुलिस क्षेत्राधिकारी मौके पर पहुंचे पीड़ित परिजनों से बातचीत कर संवैधानिक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया देर से विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता एवं एसडीओ भी मौके पर पहुंचे। पूरनपुर विधानसभा के विधायक बाबूराम पासवान भी पीड़ित के परिजनों से मिलने अस्पताल परिसर में पहुंचे घायलों से मुलाकात कर उनका हाल जाना और मृतक के बड़े भाई राहुल से बातचीत कर उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया

    **********

    परिजनों ने मृतक के शव को देसी उपचार के लिए अस्पताल परिसर में मिट्टी में दबा दिया..

    घायल रोहित

    विद्युत करंट लगने से हालांकि नीशू की चिकित्सकों के अनुसार मौत हो गई थी पर मृतक के परिजन यह मानने को कतई तैयार नहीं हुए कि उसकी मौत हो गई उन्होंने मृतक के शव को अस्पताल के परिसर में ही मिट्टी में दबा कर देसी उपचार करना शुरू कर दिया लोगों का मानना है की मिट्टी में दबा देने से करंट का प्रभाव समाप्त हो सकता है पर आधुनिक युग में शायद ही ऐसा संभव हो।

    **********

    काफी समझाने बुझाने के बाद परिजन पोस्टमार्टम के लिए हुए तैयार..

    मृतक के परिजन पहले शव एक दिन तक मिट्टी में ही दवा कर देसी उपचार कर सही करने को लेकर अपनी जिद पर अड़े हुए थे विधायक ,पुलिस प्रशासन एवं अन्य समाजसेवियों के काफी समझाने बुझाने के बाद आखिरकार परिजन मृतक के शव को पोस्टमार्टम कराने के लिए तैयार हो गए जिस पर पुलिस ने शव का पंचनामा भर जिला मुख्यालय भेजा।

    **********

    छः वर्ष पहले मृतक के पिता की भी मौत करंट लगने से हुई थी...

    इसी विधि का विधान कहे या अजीब संयोग कि मृतक नीशू की विद्युत करंट लगने से मौत 5 जुलाई को हुई ठीक 5 जुलाई सन 2015 को उसके पिता राजेश की भी मौत विद्युत करंट लगने से हुई थी| लोगों के बीच में इस अजीब संयोग को लेकर कई तरह की चर्चाएं दिन भर होती रही|

    कुंवर निर्भय सिंह, पीलीभीत- उत्तरप्रदेश
    INA NEWS(Initiate News Agency) 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.