Header Ads

  • INA BREAKING NEWS

    गया/बिहार। BPSC 64वीं के परिणाम में हुआ लाखों का खेल भ्रष्टाचार में नए कीर्तिमान स्थापित किया नीतीश कुमार - बीरेन्द्र गोप

    गया/बिहार। राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश महासचिव सह प्रदेश अध्यक्ष ओबीसी महासभा बिहार अधिवक्ता बीरेन्द्र कुमार उर्फ बीरेन्द्र गोप ने बीपीएससी के 64वीं परीक्षा के परिणाम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शासनकाल में बीपीएससी के साथ साथ बिहार की सरकारी संस्थाएँ भ्रष्टाचार का अड्डा बनकर रह गई है। 

    जिसका प्रमाण बिहार पुलिस बहाली व बीपीएससी द्वारा जारी परीक्षा में भाग लेने वाली मोनालिसा का परिणाम है। गोप ने कहा कि जब बीपीएससी द्वारा साक्षात्कार के लिए लिखित परीक्षा में BC(Female) के लिए कट ऑफ मार्क्स 415 रखा गया था तो किस परिस्थिति में 411 अंक लानेवाली मोनालिसा को साक्षात्कार के लिए बुलाया गया। जब मोनालिसा ने भ्रष्ट पदाधिकारियों एवं सत्तारुढ़ नेताओं की जेब गर्म नहीं की तो उसे साक्षात्कार में असफल घोषित कर दिया गया। 

    बीरेन्द्र गोप ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पन्द्रह वर्षों के शासन काल में बिहार में  भ्रष्टाचार के मामले में नए कीर्तिमान स्थापित किया और बिहार को कुर्मीस्तान बना दिया है।मुख्यमंत्री के लिए नालन्दा ही बिहार और बिहार ही नालन्दा है। जैसे किसी जमाने में एक शासक का दौलताबाद से दिल्ली और दिल्ली से दौलताबाद था । बीरेन्द्र गोप ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कार्यकाल में जितने भी बहालियाँ हुई है उसकी सीबीआई की जांच की मांग की है। ताकि भ्रष्टाचारियों पर लगाम  लगे। 


    प्रमोद कुमार यादव 

    Initiate News Agency(INA), गया/बिहार 

    Post Top Ad


    Post Bottom Ad


    Blogger द्वारा संचालित.